• search

मध्य प्रदेश चुनाव: 'अपनों' को टिकट देने में बीजेपी ने मारी बाजी, करीबियों को बांट दिए 42 टिकट

Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    नई दिल्ली। वंशवाद के मुद्दे पर हमेशा कांग्रेस पर हमलावर रहने वाली भारतीय जनता पार्टी भी अब इससे अछूती नहीं रही है। पार्टी विद डिफरेंस का दावा करने वाली बीजेपी ने जिस तरह से मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में पार्टी नेताओं के बेटों और रिश्तेदारों को टिकट दिया है इससे ये बात पूरी तरह से साफ हो जाती है कि पार्टी में परिवारवाद का वर्चस्व कायम हो रहा है। दरअसल मध्य प्रदेश में सत्ताधारी बीजेपी ने सभी 230 सीटों पर उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। फाइनल लिस्ट सामने आने के बाद पार्टी में वंशवाद की बेल ज्यादा लंबी दिखाई दे रही है। ऐसा इसलिए क्योंकि 230 में से करीब 42 नाम ऐसे हैं जो पार्टी से जुड़े नेताओं के परिजन हैं।

    इसे भी पढ़ें:- MP में चुनाव हार सकती है शिवराज सरकार, खुफिया रिपोर्ट के आधार पर ही काटे गए टिकट

    बीजेपी ने जारी की सभी 230 उम्मीदवारों की सूची

    बीजेपी ने जारी की सभी 230 उम्मीदवारों की सूची

    मध्य प्रदेश में बीजेपी ने 230 उम्मीदवारों की जो सूची जारी की है इसमें करीब 25 टिकट बीजेपी नेताओं के बेटों-बेटियों को दिया गया है, वहीं 17 टिकट रिश्तेदारों के बीच बांटे गए हैं। पहली लिस्ट से लेकर चौथी लिस्ट तक नजर डालें तो पार्टी ने 'अपनों' पर भरोसा जताया है। इस लिस्ट में पार्टी के दिग्गज नेताओं से लेकर पूर्व मुख्यमंत्री के साथ-साथ एक बार विधायक रहे नेता भी शामिल हैं। बीजेपी की ओर से 177 उम्मीदवारों की पहली ही लिस्ट की बात करें तो इसमें करीब 15 ऐसे नाम हैं जिन्हें विरासत में टिकट मिला है।

    बीजेपी में इन 'करीबियों' को मिले टिकट

    बीजेपी में इन 'करीबियों' को मिले टिकट

    1- पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय को इंदौर-3 विधानसभा सीट से टिकट
    2- पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर की बहू कृष्णा गौर को गोविंदपुरा सीट से टिकट.
    3- पूर्व मुख्यमंत्री सुंदरलाल पटवा के भतीजे और मंत्री सुरेंद्र पटवा को भोजपुर से टिकट.
    4- थावर चंद गहलोत के बेटे जितेंद्र गहलोत को आलोट से मिला टिकट
    5- विक्रम वर्मा की पत्नी नीना वर्मा को धार से
    6- उमा भारती के भतीजे राहुल लोधी को खरगापुर से टिकट
    7-विक्रम वर्मा की पत्नी नीना वर्मा धार से टिकट
    8-गौरीशंकर शेजवार के बेटे मुदित शेजवार को सांची से टिकट
    9- हाटपीपल्या से कैलाश जोशी के बेटे दीपक जोशी को मिला टिकट
    10- पूर्व सांसद कैलाश सारंग के बेटे मंत्री विश्वास सारंग को नरेला से टिकट

    कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय को मिला टिकट

    कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय को मिला टिकट

    11- पूर्व मुख्यमंत्री वीरेंद्र कुमार सखलेचा के बेटे ओम प्रकाश सखलेचा को जावद से टिकट
    12- अटल बिहारी वाजपेयी के भांजे अनूप मिश्रा को भितरवार से टिकट
    13- सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते के भाई रामप्यारे कुलस्ते को बजाग से टिकट
    14- राजमानता सिंधिया की बेटी यशोधरा राजे को शिवपुरी से टिकट
    15- विधायक मेहरवान सिंह रावत की बहू सरला रावत को सबलगढ़ से टिकट
    16- विधायक सत्यपाल सिकरवार के भाई अजब सिंह सिकरवार को सुमावली से टिकट
    17- सागर के सांसद लक्ष्मीनारायण यादव के बेटे सुधीर यादव को सुरखी सीट से टिकट
    18- पूर्व मंत्री हरनाम सिंह राठौर के बेटे हरवंश राठौर को बंडा सीट से टिकट
    19- विधायक आरडी प्रजापति के बेटे राजेश प्रजापति को चंदला सीट
    20- बीजेपी नेता पुष्पेंद्र प्रताप सिंह की पत्नी अर्चना सिंह को छतरपुर से टिकट

    बाबूलाल गौर की बहू को गोविंदपुरा से मिला टिकट

    बाबूलाल गौर की बहू को गोविंदपुरा से मिला टिकट

    21- मंत्री हर्ष सिंह के बेटे विक्रम सिंह को रामपुर-बघेलान से टिकट
    22- पूर्व विधायक पुष्पराज सिंह के बेटे दिव्यराज सिंह को सिरमौर से टिकट
    23- बांधवगढ़ से पूर्व मंत्री और सांसद ज्ञान सिंह के बेटे शिवनारायण सिंह को टिकट
    24- पूर्व विधायक प्रभात पांडे के बेटे प्रणय पांडे को बहोरीबंद से टिकट
    25- पूर्व विधानसभा अध्यक्ष ईश्वरदास रोहाणी के बेटे अशोक रोहाणी को जबलपुर कैंट से
    26- पूर्व विधायक दिलीप भटेर के बेटे रमेश भटेर को लांजी से
    27- सांसद प्रहलाद पटेल के भाई जालम सिंह पटेल को नरसिंहपुर से टिकट
    28- पूर्व सांसद विजय खंडेलवाल के बेटे हेमंत खंडेलवाल को बैतूल से
    29- मंत्री विजय शाह के भाई संजय शाह को टिमरनी से
    30- पूर्व विधायक केशर सिंह चौहान के बेटे महेंद्र सिंह चौहान भैंसदेही से टिकट

    'अपनों' पर जमकर बरसा बीजेपी का प्यार

    'अपनों' पर जमकर बरसा बीजेपी का प्यार

    31- पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा के भाई उमाकांत शर्मा को सिरोंज से
    32- पूर्व विधायक अमर सिंह कोठार के बेटे कुंवर कोठार को सारंगपुर से
    33- पूर्व मंत्री तुकोजीराव की पत्नी गायत्री राजे को देवास से टिकट
    34- पूर्व विधायक गोविंद शर्मा के बेटे आशीष शर्मा को खातेगांव से
    35- पूर्व मंत्री किशोरी लाल वर्मा के बेटे देवेंद्र वर्मा को खंडवा से टिकट
    36- पूर्व विधायक राजेंद्र दादू की बेटी मंजू दादू को नेपानगर से
    37- पूर्व विधानसभा अध्यक्ष ब्रजमोहन मिश्र की बेटी अर्चना चिटनीस को बुरहानपुर से टिकट
    38- पूर्व विधायक भूरेलाल फिरोजिया के बेटे अनिल फिरोजिया को तराना से टिकट
    39- पूर्व सांसद लक्ष्मीनारायण पांडे के बेटे राजेंद्र पांडे को जावरा से टिकट
    40- पूर्व विधायक नानालाल पाटीदार के बेटे राधेश्याम पाटीदार को सुवासरा
    41- विधायक किशोर सिंह सिसोदिया के बेटे यशपाल सिंह सिसोदिया को मंदसौर से टिकट
    42- पूर्व विधायक उदय सिंह पंड्या के बेटे जितेंद्र पंड्या

    इसे भी पढ़ें:- छत्तीसगढ़ का ये करोड़पति मंत्री है केवल 8 हजार की यामाहा का मालिक

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Madhya Pradesh Assembly Elections 2018: BJP gave tickets to party leaders faimily nepotism.

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more