• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोलकाता में IMCT की टीम की गाड़ी चलाने वाले बीएसएफ ड्राइवर को 30 अप्रैल को ही किया जा चुका है क्वारंटाइन

|

कोलकाता। कोरोनावायरयस के संक्रमितों की संख्‍या भारत में लगतार बढ़ती ही जा रही हैं। अब कोलकाता में इंटर-मिनिस्ट्रियल सेंट्रल टीम (IMCT) के काफिले के लिए एस्कॉर्ट कार चलाने वाला बीएसएफ ड्राइवर भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया। बीएसएफ के सूत्रों के अनुसार इस ड्राइवर को 30 अप्रैल को तुरंत क्वारंटाइन किया गया और अब उसके संपर्क में आए बीएसएफ के 50 जवानों को भी आइसोलेशन में रखा गया है।

bsf

बता दें टीम के सदस्य ने पहले आरोप लगाया था कि कि बीएसएफ के एक ड्राइवर में कोरोना के लक्षण 1 मई को सामने आए, उसका टेस्ट किया गया और 3 मई को रिजल्ट आया। लेकिन सरकार द्वारा कोई भी कोशिश नहीं की गई है कि इस संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए लोगों की ट्रेसिंग की जाए। टीम की रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रदेश सरकार ने हमारी राय के विरोध में हैं और उसने हमारे काम में मदद नहीं की। साथ ही रिपोर्ट में कहा गया है कि पश्चिम बंगाल में कोरोना से संक्रमित लोगों की मृत्यु दर 12.8 फीसदी है, जोकि देश में सर्वाधिक है। इससे इस बात की पुष्टि होती है कि प्रदेश में बहुत कम टेस्टिंग हो रही है और लोगों को ट्रैक नहीं किया जा रहा ।

bsf

गौरतलब है कि कोरोना वायरस को लेकर पश्चिम बंगाल के आंकड़ों पर लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं। केंद्र सरकार द्वारा भेजी गई टीम ने यहां के कोरोना संक्रमित लोगों के आंकड़े पर सवाल खड़ा किया है। इंटर मिनिस्ट्रियल सेंट्रल टीम ने हाल ही में पश्चिम बंगाल का दौरा किया था। अपनी फाइनल रिपोर्ट को टीम ने पश्चिम बंगाल सरकार को सौंप दिया है। टीम की ओर से पश्चिम बंगाल सरकार के उस दावे पर भी सवाल खड़ा किया गया है, जिसमे कहा गया है कि उसने 50 लाख लोगों का सर्वे किया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
IMCT team bsf driver was immediately removed 30th April & quarantined
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X