• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ग्लेनमार्क फार्मा को मिली कोरोना संक्रमित मरीजों पर फैविपिराविर दवा के परीक्षण की मंजूरी

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। दवा कंपनी ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स को कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों पर फैविपिराविर गोलियों का परीक्षण करने की अनुमति मिल गयी है। दवा कंपनी को ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया से कोविड-19 मरीजों के इलाज के लिए फैविपिराविर एंटीवायरस टैबलेट के क्लिनिकल ट्रायल की मंजूरी मिली है। ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स ऐसी मंजूरी पाने वाली वह देश की पहली कंपनी है।

Glenmark Pharma gets DCGI nod for clinical trials of Favipiravir tablets coronavirus patients

कंपनी ने एक बयान में कहा कि उसने इस दवा के लिए कच्चा माल (एपीआई) आंतरिक तौर पर तैयार किया है। इसका यौगिक (फॉर्मूलेशन) भी उसने ही विकसित किया है। कंपनी ने इसके मानवीय चिकित्सकीय परीक्षण की अनुमति मांगी थी। यह मंजूरी कोरोना वारयस से आंशिक तौर पर संक्रमित मरीजों पर परीक्षण के लिए मांगी गयी थी। कंपनी ने कहा कि कोरोना वायरस के मरीजों पर दवा परीक्षण के लिए नियामकीय अनुमति पाने वाली वह देश की पहली कंपनी है।

फैविपिराविर एक वायरल-रोधी दवा है। इंफ्लूएंजा वायरस के खिलाफ इस दवा ने सही प्रतिक्रिया दिखायी है। जापान में इंफ्लूएंजा वायरस के इलाज के लिए इस दवा के उपयोग की अनुमति है। नियमों के अनुसार कंपनी आंशिक तौर पर कोरोना वायरस से संक्रमित चुनिंदा 150 मरीजों पर इसका परीक्षण करेगी। मरीज पर परीक्षण की अवधि 14 दिन से ज्यादा नहीं हो सकती। वहीं इसके पूरे अध्ययन की अवधि 28 दिन से ज्यादा नहीं हो सकती।

इससे पहले अमेरिका के वैज्ञानिकों ने बुधवार को दावा किया कि कोरोना वायरस के इलाज के लिए एंटीवायरल दवा रेमडेसिवीर का इस्तेमाल मरीजों पर किया गया गया है, उसके काफी अच्छे परिणाम देखने को मिले हैं। वैज्ञानिकों का दावा है कि हमारे पार कोरोना वायरस के इलाज में सफल इलाज के पुख्ता सबूत है। वैज्ञानिकों का कहना है कि सामान्य दवा जो दी जा रही है उसकी तुलना में इस दवा से मरीज 30 फीसदी तेज रफ्तार से सही हुआ है। अमेरिका के एपिडमोलोजिस्ट एंथोनी फौसी ने बताया कि आंकड़े दर्शाते हैं कि रेमडेसिवीर दवा से फायदा मिलने के पुख्ता सबूत हैं, इससे मरीज के सही होने की रफ्तार काफी बढ़ी है। फौसी ने इस दवा की तुलना 1980 में HIV के इलाज के लिए तैयार की गई दवा से की।

भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी की मोदी सरकार को सलाह, रोमांच से बाहर निकल इन 3 मोर्चों पर करें कामभाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी की मोदी सरकार को सलाह, रोमांच से बाहर निकल इन 3 मोर्चों पर करें काम

English summary
Glenmark Pharma gets DCGI nod for clinical trials of Favipiravir tablets coronavirus patients
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X