• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

फ्रेंच हैकर ने किया आरोग्य सेतु हैक करने का दावा, बताया- PMO और सेना मुख्यालय में कई लोग बीमार

|

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के मरीजों को ट्रैस करने के लिए भारत सरकार ने आरोग्य सेतु ऐप लांच किया। इस ऐप की मदद से किसी संक्रमित व्यक्ति की जानकारी उसके आसपास मौजूद लोगों को दी जा सकती है। हाल ही में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने इस ऐप में डाटा और प्राइवेसी सुरक्षा को लेकर सवाल उठाए थे। जिसके बाद सरकार ने राहुल गांधी के दावे को खारिज करते हुए आरोग्य सेतु ऐप को सुरक्षित बताया था। वहीं अब फ्रेंच हैकर और साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट इलियट एल्डर्सन ने आरोग्य सेतु ऐप हैक करने का दावा किया है। अगर हैकर का ये दावा सही निकलता है तो भारत में 9 करोड़ लोगों की प्राइवेसी खतरे में पड़ सकती है।

    Aarogya Setu App में कोई सुरक्षा चूक नहीं हो सकती: हैकर की चेतावनी पर सरकार | वनइंडिया हिंदी
    PMO में पांच लोग बीमार

    PMO में पांच लोग बीमार

    आरोग्य सेतु ऐप बनाने वाली टीम और सरकार ने बुधवार को दावा किया कि ये ऐप पूरी तरह से सुरक्षित है। जिसके बाद फ्रेंच हैकर ने इसका जवाब दिया। हैकर ने ट्वीट करते हुए बताया कि प्रधानमंत्री कार्यालय में 5 लोग बीमार हैं। दो लोगों की तबीयत सेना मुख्यालय में खराब है। वहीं एक कोविड-19 संक्रमित मरीज भारतीय संसद और 3 होम ऑफिस के आसपास हैं। दूसरे ट्वीट में उसने दावा किया कि इस ऐप का मकसद कोरोना संक्रमित व्यक्ति की लोकेशन जानना नहीं है। इसका मुद्दा सुरक्षा और गोपनीयता है। अगर आपको अपनी प्राइवेसी की परवाह नहीं है, तो आप इस ऐप को इंस्टाल कर लीजिए।

    सरकार ने बताया पूरी तरह सुरक्षित

    केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को मामले में कहा कि आरोग्य सेतु ऐप अत्याधुनिक मॉनिटरिंग सिस्टम है। इसको इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, वैज्ञानिकों, एनआईसी, नीति आयोग और कुछ प्राइवेट कंपनियों ने कड़ी मेहनत के बाद तैयार किया है। जिस वजह से मौजूदा वक्त में कोरोना से लड़ने के लिए ये एक अच्छा प्लेटफॉर्म है। उन्होंने राहुल गांधी के सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि भारत सरकार सभी की प्राइवेसी का सम्मान करती है। आरोग्य सेतु से किसी की प्राइवेसी को कोई खतरा नहीं है। सभी का डाटा पूरी तरह से सुरक्षित है।

    राहुल गांधी ने उठाया था प्राइवेसी का मुद्दा

    राहुल गांधी ने उठाया था प्राइवेसी का मुद्दा

    हाल ही में राहुल गांधी ने आरोग्य सेतु ऐप पर सवाल उठाए थे। उन्होंने कहा कि आरोग्य सेतु ऐप एक जटिल निगरानी प्रणाली है, जो एक प्राइवेट ऑपरेटर के लिए आउटसोर्स है, जिसमें कोई संस्थागत निरीक्षण नहीं है। उन्होंने कहा कि इससे गंभीर डेटा सुरक्षा और गोपनीयता संबंधी चिंताएं बढ़ती हैं। तकनीक हमें सुरक्षित रखने में मदद कर सकती है, लेकिन नागरिकों की सहमति के बिना उनको ट्रैक करने के लिए डर का फायदा नहीं उठाया जाना चाहिए। राहुल गांधी इस दावे के इस दावे का एक फ्रेंच हैकर ने समर्थन भी किया था।

    कोरोना वायरस: भारत के ये दो वैज्ञानिक क्या कमाल करने वाले हैं?

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    French hacker has claimed to hack aarogya setu app
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X