• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्ली: चोरी के शक में तीन लोगों की खंभे से बांधकर भीड़ ने की पिटाई, एक की मौत

|

नई दिल्ली। बैटरी चोरी के शक में दिल्ली की बेकाबू भीड़ ने एक ऑटो ड्राइवर की पीट-पीटकर हत्या कर दी। पश्चिमी दिल्ली के मोहन गार्डन में शनिवार को भीड़ ने बैटरी चोरी के शक में तीन लोगों की खंभे से बांधकर पिटाई की, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई है। वहीं बाकी दो लोग अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं। मृतक की पहचान अविनाश सक्सेना के रूप में हुई है। पुलिस के मुताबिक तीनों कार की बैटरी चुरा रहे थे, जब भीड़ ने उन्हें पकड़ा। इश मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है।

Death

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक पुलिस ने बताया कि ऑटो ड्राइवर अविनाश सक्सेना और बाकी दोनों लोग, मुन्नी पाल (26) और सूरज यादव (24) को बैटरी चुराते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया था। वहां रहने वाले एक व्यक्ति ने बताया कि तीनों को एक खाली प्लॉट पर पार्क की हुई गाड़ी से बैटरी चुराते हुए पकड़ा गया। 'हमने उन्हें तब पकड़ा जब वो ऑटो रिक्शा में बैटरी रख रहे थे।' इसके बाद भीड़ ने अपना सारा गुस्सा सक्सेना और दोनों लोगों पर उतार दिया।

भीड़ ने तीनों को बिजली के खंभे से बांधकर उनकी पिटाई की और फिर उनकी परेड निकाली। भीड़ ने ऑटो ड्राइवर के माता-पिता को फोन कर उन्हें वहां बुलाया और अपने बेटे की पिटाई देखने के लिए मजबूर किया गया। सक्सेना के माता-पिता ने भीड़ से बेटे को छोड़ने की लाख गुहार लगाई, लेकिन गुस्साई भीड़ ने उनकी एक न सुनी। सक्सेना के पिता विनोद कुमार ने बताया कि उन्हें सुबह 4:30 बजे उनके बेटे ने डरी आवाज में फोन कर ऑटो के सारे कागजात लेकर आने को कहा। जब वो मौके पर पहुंचे तो देखा कि सक्सेना को दो अन्य लोगों के साथ बिजली के खंभे से बांधकर मारा जा रहा है।

जानिए क्‍या हुआ था उस रात, कैसे 60 घंटे तक दहलती रही मुंबई

मां कुसुम लता ने कहा, 'मेरे बेटे हमसे गुहार लगाता रहा, लेकिन भीड़ ने हमें असहाय छोड़ दिया। हर बार जब मेरा बेटा बेहोश हो जाता, तो भीड़ उसके चेहके पर पानी छिड़कती और उसे फिर मारती। जब हमने पुलिस को फोन करने की कोशिश की तो उन्होंने हमारे मोबाइल फोन छीन लिए।' उन्होंने बताया कि आधे दर्जन से ज्यादा लोग डंडे और सरिये से अविनाश पर हमला किए जा रहे थे। सक्सेना के माता-पिता सुबह जब 8:30 बजे पुलिस के साथ वहां पहुंचे, तब तीनों को अस्पताल ले जाया गया, जहां सक्सेना को मृत घोषित कर दिया गया।

पुलिस ने सक्सेना समेत अन्य दोनों लोग के खिलाफ चोरी का केस दर्ज किया है। पुलिस के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि अविनाश सक्सेना को नशे की लत थी और ये भी उसकी मौत का एक कारण हो सकता है। पुलिस ने कहा कि तीनों का क्रिमिनल रिकॉर्ड चेक किया जाना अभी बाकी है। इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार भी किया गया है। उत्तम नगर पुलिस थाने में गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया गया है।

अजमल कसाब को जिंदा पकड़ने की कहानी, जिंदा बच गए उस इंस्‍पेक्‍टर की जुबानी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Delhi: Auto Driver Died As Mob Lynched And Tied Him To Pole With Two Men In Alleged Theft.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X