• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

विपक्ष ने राष्ट्रपति से मिलकर की कृषि विधेयकों वापस लौटाने की मांग: गुलाम नबी आजाद

|

नई दिल्‍ली। विपक्षी सांसदों ने हाल ही में पारित कृषि विधेयकों के खिलाफ संसद परिसर में विरोध प्रदर्शन किया। इस संबंध में सांसद और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद शाम 5 बजे राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद से मुलाकात की। उन्‍होंने कई मुद्दों पर बात की और कहा कि सरकार को कृषि संबंधी विधेयक लाने से पहले सभी दलों, किसान नेताओं के साथ विचार-विमर्श करना चाहिए था।

    Farm Bill 2020 : President Kovind से मिले Opposition Leader | Ghulam Nabi Azad | वनइंडिया हिंदी

    विपक्ष ने राष्ट्रपति से मिलकर की कृषि विधेयकों वापस लौटाने की मांग: गुलाम नबी आजाद

    कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा किलगभग 18 राजनीतिक दलों के नेताओं ने इकट्ठा होकर निर्णय लिया था कि माननीय राष्ट्रपति के सामने ये बात लाई जाए कि किस तरह से राज्यसभा में किसानों से संबंधित बिल पास किया गया। इस बिल को सरकार को राजनीतिक दलों से, किसान नेताओं से बात करके लाना चाहिए था।

    कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात के बाद कहा कि संसद में कृषि संबंधी विधेयकों को 'असंवैधानिक' तरीके से पारित किया गया है इसलिए राष्ट्रपति को इन विधेयकों को संतुति नहीं देकर इनको वापस भेजना चाहिए। उन्होंने यह दावा भी किया कि रविवार को राज्यसभा में हंगामे के लिए विपक्ष नहीं बल्कि सरकार जिम्मेदार है।

    कोरोना वैक्‍सीन को लेकर देश के वैज्ञानिकों ने किया दावा, जानिए कब तक आ सकता है टीका

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Constitution was undermined in the temple of democracy: Ghulam Nabi Azad.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X