• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्ली हिंसा के लिए दिग्विजय सिंह ने केंद्र सरकार को ठहराया जिम्मेदार, लगाए गंभीर आरोप

|

नई दिल्ली। Digvijay singh comment on delhi violence देश की राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस के दिन हुई हिंसा को लेकर अब राजनीति भी शुरू हो गई है। दरअसल, कांग्रेस पार्टी ने कल हुई हिंसा के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा है कि किसान तो पिछले 2 महीने से शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे हैं, फिर वो इतने हिंसक कैसे हो सकते हैं। दिग्विजय सिंह का कहना है कि जिन लोगों ने कल दिल्ली में उत्पात मचाया है, उनमें से 15 लोगों को पकड़कर किसानों ने खुद दिल्ली पुलिस को सौंपा है और उन 15 लोगों के पास से सरकार मुलाजिम होने का आई कार्ड मिला है।

Digvijaya Singh
    Delhi Violence: Digvijay Singh का बड़ा हमला बोले, ये BJP ने हिंसा प्रायोजित की | वनइंडिया हिंदी

    दिग्विजय सिंह ने कहा कि गणतंत्र दिवस के दिन दिल्ली में तीन जगह से किसानों की ट्रैक्टर रैली निकलनी थी सिंघू बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर और गाजीपुर बॉर्डर। इन तीन जगहों से ट्रैक्टर रैली निकली, लेकिन पुलिस ने उन तीनों रूट को बैरिकेडिंग से बंद कर दिया था। वहां पर किसान और पुलिसवालों के बीच संघर्ष हुआ था। वहां किसानों पर पुलिसवालों ने टियर गैस का इस्तेमाल किया था।

    उन 15 लोगों की पहचान की जाए उजागर- दिग्विजय सिंह

    दिग्विजय सिंह ने कहा है कि जिन 15 लोगों को दिल्ली पुलिस के हवाले किया गया है उनकी पहचान उजागर की जानी चाहिए, ताकि पता चल सके कि इस हिंसा के पीछे साजिश किसकी और क्या है। दिग्विजय सिंह ने कहा है कि इस आंदोलन में षड्यंत्र होने की आशंका जताई है। इससे पहले भी उन्होंने हिंसा को लेकर किसानों का बचाव किया था। दिग्विजय सिंह ने हिंसा की खबरों को खारिज करते हुए कहा है कि किसान नहीं, दिल्ली पुलिस उग्र हुई थी।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Congress Leader Digvijaya Singh comment on delhi violence blame to central govt
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X