• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

लॉकडाउन के बाद मंहगी हो जाएगी हवाई यात्रा, जानिए कितना बढ़ जाएगा किराया, फॉलो करने होंगे ये नियम

|

नई दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी को रोकने के जारी देशव्यापी लॉकडाउन का असर अब बिजनेस पर साफ नजर आने लगा है। कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण रोकने के लिए सरकार ने 25 मार्च को देश भर में लॉकडाउन का ऐलान किया था। अप्रैल का पूरा महीना लॉकडाउन में निकल गया. इससे आर्थिक गतिविधियां बहुत प्रभावित हुई हैं । ऐसे समय में जब डिमांड कम है और कारोबार ठप हो रहे हैं।

लॉकडाउन के बाद बहाल होगी हवाई यात्राएं

लॉकडाउन के बाद बहाल होगी हवाई यात्राएं

लॉकडाउन लागू करने के साथ हवाई यात्राएं भी बंद कर दी गई थी। जिसके चलते एयरलाइंस कंपनियां भारी नुकसान के चलते खतरे में आ चुकी हैं। लगभग डेढ़ महीने से फ्लाइट न चलने से विमानन कंपनियों को करोड़ों का घाटा हुआ हैं हालांकि कंपनियां जल्‍द ही लॉकडाउन खुलने की उम्मीद कर रही है ताकी हवाई यात्राएं बहाल हो। बता दें इसी उम्मीद में लॉकडाउन के बाद एयरपोर्ट सुरक्षा और विमानों के संचालन की तैयारी भी शुरु हो चुकी हैं। एयरपोर्ट संचालित करने वाली कंपनी ने अपने स्तर पर तैयारी शुरू कर दी है।

जानिए कितना बढ़ जाएगा किराया?

जानिए कितना बढ़ जाएगा किराया?

सूत्रों के अनुसार लॉकडाउन के बाद फ्लाइट के टिकट दोगुनी होने की उम्मीद जताई जा रही है। दिल्ली-मुंबई का एक तरफ का किराया 5,000 रुपये से बढ़कर अधिकतम 9,700 रुपये हो जाएगा। सूत्रों के अनुसार विमानन की सभी कंपनियां लॉकडाउन के बाद फ्लाइट सेवाएं बहाल होने पर अपनी सभी यात्राओं के टिकट लगभग डबल कीमत पर बेचेगी। इसका प्रमुख कारण है कि लॉकडाउन के बाद भी हवाई यात्रियों की COVID-19 के लिए वैक्सीन मिलने तक उड़ान कम से कम कुछ महीनों तक सामान्य नहीं होगी। मतलब कि बहुत आवश्‍यक होने पर ही लोग हवाई यात्राएं करेंगे। हालांकि हवाई यात्राएं शुरु होने को लेकर यात्रियों को संक्रमण से बचाव के लिए सारी पुख्‍ता व्‍यवस्‍थाएं की जानी शुरु कर दी गई हैं। वहीं यात्रियों के लिए भी कई नियम निर्धारित किए गए है जिनको यात्रियों को हर हाल में फॉलो करना होगा।

इस कारण से बढ़ाया जाएगा किराया

इस कारण से बढ़ाया जाएगा किराया

इतना ही नहीं ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन सिक्योरिटी ने प्रस्तावित किया है कि जब एयरलाइंस सेवाएं फिर से शुरू करेंगी तो उन्हें बीच की सीट खाली रखनी चाहिए, लेकिन अगर एयरलाइन कंपनियां ऐसा करती हैं तो उन्हें टिकट की कीमतें भी बढ़ानी होंगी वर्ना कंपनियों पर खर्च बढ़ जायेगा। नुकसान उठा के फ्लाइट चलाना मुश्किल है। इसलिए एयरलाइन कंपिनयां अपने कम यात्रियों की संख्‍या के साथ फ्लाइट के अवागमन पर आने वाले खर्च को वूसलने के लिए टिकट का किराया दोगुना कर देंगी।

बीच की छोड़ने के बाद दूसरी सीट का ही टिकट बुक करेंगी

बीच की छोड़ने के बाद दूसरी सीट का ही टिकट बुक करेंगी

विमान कंपनियों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा उन्‍हें जहाज में एक सीट छोड़ने के बाद दूसरी सीट का ही टिकट बुक करेंगी। जिससे ये डिस्टेंस बना रह सके। वहीं हवाई सेवाओं के बहाल होने के बाद हवाई अड्डों और उड़ानों पर लागू होने वाले उचित स्वच्छता नियमों के पुख्‍ता इंतजाम किए जाएंगे। इतना ही कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सबसे महत्पूर्ण चीज सोशल डिस्टेंसिंग का बहुत ध्‍यान रखा जाएगा। सोशल डिस्‍टेंसिंग के नियमों को भी लागू किया जाएगा।

इन नियमों का करना पड़ेगा पालन

इन नियमों का करना पड़ेगा पालन

फ्लाइट शुरू होने के बाद दिल्ली एयरपोर्ट पर इन नियमों को पालन करना जरूरी हो जाएगा। जिसमें सबसे पहले और सबसे अहम सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क और सैनिटाइजर का इस्तेमाल लॉकडाउन के बाद भी जारी रहेगा। एयरपोर्ट पर सोशल डिस्टेंसिंग के लिए कड़े नियम बनाए जाएंगे। भीड़ से बचने के लिए यात्रियों को घर पर चेक-इन करने की सुविधा दी जाएगी। दिल्ली से बाहर जाने वाले यात्रियों को एक सुरक्षित और स्वस्थ वातावरण प्रदान किया जाएगा। चेक-इन हॉल, सुरक्षा जांच क्षेत्र, बोर्डिंग गेट पर अतिरिक्त कतार प्रबंधक तैनात किए जाएंगे. लाइन में लगे लोगों की एक दूरी तय की जाएगी। यात्रियों को बिना मास्क पहने प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

ऐसे किया जाएगा सैनिटाइज

ऐसे किया जाएगा सैनिटाइज

मार्कर से हर यात्री के खड़े होने बैठने के लिए दिशा-निर्देश दिया जाएगा। अतिरिक्त कुर्सी लगाकर बैठने की व्यवस्था की जाएगी। एयरपोर्ट टर्मिनल के 6.08 लाख वर्ग मीटर क्षेत्र की सफाई के साथ हर घंटे के बाद लगातार कीटाणुनाशक ड्राइव चलाया जाएगा। 500 लोगों की एक टीम इसके लिए तैनात रहेगी। डेस्क, कुर्सी, लिफ्ट, रेलिंग, ट्रॉली, हैंडल, ट्रे-बैगेज बेल्ट सफाई पर ध्यान दिया जाएगा। हर घंटे के बाद वॉशरूम को बंद कर दिया जाएगा और सभी टर्मिनल में ऑटो डिस्पेंसिंग सैनिटाइजर लगाया जाएगा। सामान को साफ करने के लिए यूवी मशीन लगाए जाएंगे। स्क्रीनिंग की भी बेहतर सुविधा होगी।

भारत की GDP पर कोरोना का कहर, लॉकडउन से जीडीपी को चार फीसदी का परमानेंट नुकसान, क्रिसिल ने बताए ये खतरे

flight

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Air travel will become expensive after lockdown, know how much the fare will increase, rules to be followed
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X