• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रतन टाटा ने बताया, 18 साल के युवा बिजनेसमैन की कंपनी में है कितने प्रतिशत की हिस्सेदारी

|

नई दिल्ली। देश के दिग्गज दानवीरों में से एक रतन टाटा ने गुरुवार को दवा कारोबार से जुड़े एक फर्म 'जेनरिक आधार' में एक अघोषित रकम निवेश किया है। इस कंपनी के फाउंडर सीईओ कारोबारी अर्जुन देशपांडे हैं और उनकी उम्र सिर्फ 18 साल वर्ष है। इससे पहले भी कई बार रतन टाटा ने इस तरह के स्टार्ट में निवेश किया है। रतन टाटा की दरियादिली के बारे में सभी लोग जानते हैं, जब सोशल मीडिया पर उनके कंपनी में निवेश की खबर वायरल हुई तो उन्होंने भी ट्वीट कर इसपर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

    Ratan Tata ने इस लड़के के बिजनेस में लगाया पैसा,सस्ती दवा बेचती है Generic Aadhaar | वनइंडिया हिंदी
    स्टार्टअप का समर्थन करने में हुई खुशी

    स्टार्टअप का समर्थन करने में हुई खुशी

    रतन टाटा ने अपने शुक्रवार को ट्वीट करते हुए लिखा, 'मैं उतना ही खुश हूं जितना मुझे इस स्टार्टअप का समर्थन करने में खुशी हुई थी। यह यह बहुत छोटा निवेश है, 50 फीसदी या भिन्न प्रकार से मैंने कंपनी में कोई हिस्सेदारी नहीं खरीदी है।' अपने इस ट्वीट में उद्योगपति रतन टाटा ने इस स्टार्टअप में कितना निवेश किया, इसको लेकर फिलहाल खुलासा नहीं किया गया है। हालांकि उनके ट्वीट पर कई यूजर्स की प्रतिक्रियाएं आईं हैं जिसमें लोगों ने रतन टाटा की खूब प्रशंसा की है।

    रतन टाटा का साथ मिलना गौरव की बात

    'जेनरिक आधार' के फाउंडर सीईओ कारोबारी अर्जुन देशपांडे को बिजनेस की शुरुआत में ही रतन टाटा जैसी शख्सियत का सहयोग मिलना उनके लिए बहुत ही गौरव की बात है। उन्होंने एक बयान में कहा था, 'भारतीयों तक सस्ती दवा पहुंचाने के लिए माननीय रतन टाटा सर के साथ महान जुड़ाव की घोषणा करना बहुत ही गौरवशाली क्षण है।' बता दें कि अर्जुन की कंपनी जेनरिक आधार की खासियत ये है कि वह सीधे विश्व स्वास्थ्य संगठन-जीएमपी प्रमाणित फैक्ट्रियों से ही दवाइयां खरीदता जिससे उसकी गुणवत्ता पर भी कोई सवाल नहीं हो सकता।

    50 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने की चर्चा

    50 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने की चर्चा

    मालूम हो कि टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने जिस 'जेनरिक आधार' कंपनी में निवेश किया है। 'जेनरिक आधार' के मुताबिक उसकी सालाना कमाई 6 करोड़ रुपये है। यह कंपनी आने वाले तीन वर्षों में 150 से 200 रुपये आय प्राप्त करने का लक्ष्य लेकर चल रही है। रतन टाटा ने निजी हैसियत से अर्जुन देशपांडे की जिस कंपनी में निवेश किया है, उस रकम की पुख्ता जानकारी के मुताबिक जानकारी तो नहीं है, लेकिन कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक टाटा ने जेनरिक आधार में 50 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी है।

    गुजरात में कोरोना का कहर, एक्शन में अमित शाह, एम्स डायरेक्टर को वायुसेना के विमान से भेजा अहमदाबाद

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    After investing in the company of 18 years young businessman now Ratan Tata won hearts with this tweet
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X