• search
हरियाणा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

किसानों का रेल रोको आंदोलन आज: हरियाणा में 50 जगहों पर थम सकती हैं ट्रेनें, फोर्स की 45 कंपनियां तैनात

|

सोनीपत/पानीपत। केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन का आज 85वां दिन है। किसान संगठनों के पदाधिकारियों द्वारा आंदोलन को तेज करने की स्ट्रैटजी के तहत आज दोपहर 12 बजे से शाम 4 बजे तक 'रेल रोको' आवाह्न किया गया है। इसके तहत किसाना देशभर में 4 घंटे के लिए रेलें रोकेंगे। भारतीय किसान यूनियन के अगुआ राकेश टिकैत ने कहा है कि, रेल रोकने के दौरान बच्चों को दिक्कतें नहीं हों, इसके लिए इंतजाम किए गए हैं।

किसानों का 50 जगहों पर रेलें रोकने का दावा

किसानों का 50 जगहों पर रेलें रोकने का दावा

रेल रोको आंदोलन का सर्वाधिक प्रभाव हरियाणा में होने की आशंक है। जिसे देखते हुए सरकार पिछले कई दिनों से तैयारियों में जुटी है। जीआरपी, आरपीएफ व पुलिस अलर्ट हैं। यहां रोकने की जिम्मेदारी खापों के पास भी रहेगी। हाल ही खापों ने बैठक कर करीब 50 जगहों पर रेलें रोकने का दावा किया। ऐसे में अंदाजा लगाया जा रहा है कि करीब 30 यात्री ट्रेनें और 70 मालगाड़ियां प्रभावित हो सकती हैं। माना जा रहा है कि, प्रदर्शनकारियों की वजह से आज देश का उत्तरी क्षेत्र राजधानी दिल्ली से कट सकता है।

    Rail Roko: किसानों का आज देशभर में रेल रोको आंदोलन, जानें कौन सी Trains हुईं Cancel | वनइंडिया हिंदी
    उत्पात-हिंसा रोकने को 45 कंपनियां तैनात

    उत्पात-हिंसा रोकने को 45 कंपनियां तैनात

    प्रदर्शनकारियों पर रेलवे का कहना है कि हमने उनके रेल रोको आंदोलन के डर से किसी ट्रेन को रद्द नहीं किया है। रेलवे के अधिकारी ने बीते रोज यह भी कहा कि, गुरुवार को स्थिति देखते हुए आगे का निर्णय लिया जाएगा। वहीं, किसानों के रेल रोको कार्यक्रम के चलते उत्पात या हिंसा न हो, इसके लिए हरियाणा पुलिस, जीआरपी और आरपीएफ की ओर से संयुक्त तैयारी की गई है। तीनों की 45 कंपनियां तैनात की जा रही हैं। हरियाणा भर में 15 अतिसंवेदनशील और 30 संवेदनशील क्षेत्रों की लिस्ट तैयार की गई है।

    किसान आंदोलन ने बढ़ाई बीजेपी की चिंता, 'जाट वोट बैंक' पर अब राजनीतिक दलों की नजर

    देशभर में 20 हजार अतिरिक्त जवान भेजे

    देशभर में 20 हजार अतिरिक्त जवान भेजे

    देशभर में ट्रेनों का संचालन प्रभावित न होने पाए, इसे ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार द्वारा सुरक्षा व्यवस्था चौकस रखने के निर्देश दिए गए हैं। रेलवे प्रोटेक्शन स्पेशल फोर्स की 20 अतिरिक्त कंपनियां यानी 20 हजार जवानों की व्यवस्था की गई है। इन जवानों की अच्छी खासी तादाद हरियाणा-पंजाब, यूपी और प. बंगाल में मौजूद रहेगी। आंदोलनों के दौरान पं. बंगाल में ट्रेनें ज्यादा प्रभावित होती हैं।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Rail roko agitation by farmers: Kisan Andolan | GRP-RPF force companies deployed, Haryana Punjab Farmers Protest news updates
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X