• search
दुर्ग न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Balod में PhD Scholar के इस कदम से ग्रामीण हैरान, पुलिस जवानों पर लगे गम्भीर आरोप, SP ने दिए जांच के निर्देश

Google Oneindia News

Balod जिले में PhD Scholar युवराज सोनकर का शव पेड़ में लटका देख गांव वालों के होश उड़ गए। पढ़ाई लिखाई में होनहार छात्र के इस कदम से पूरा गांव हैरान है। छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में अछोली गांव की इस घटना में संजारी पुलिस चौकी के पुलिस जवानों पर गम्भीर आरोप लगे हैं। वहीं इस मामले में मृतक की इंजीनियर बहन ने पुलिस अधीक्षक से निष्पक्ष जांच की मांग की हैं। वहीं अब एसपी जितेंद्र यादव ने मामले की जांच के निर्देश दिए हैं।

Balod Phd scholer
दुर्ग के निजी कॉलेज से पीएचडी कर रहा था छात्र
बालोद जिले के ग्राम अछोली में रहने वाले 24 वर्षीय युवराज दुर्ग के निजी कॉलेज का शोधार्थी था, और त्योहार मनाने घर आया था। लेकिन पढ़ाई लिखाई में होनहार छात्र ने सोमवार रात फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक छात्र का शव मंगलवार को गांव से 500 दूरी पर खेत में पेड़ पर लटका मिला। घटना की जानकारी मिलने के बाद परिजन मौके पर पहुंचे और युवक की मौत का जिम्मेदार बालोद पुलिस को बताया।
balod police

परिजनों ने पुलिस पर लगाए गम्भीर आरोप, पुलिस ने बनाया था आरोपी
मृतक के परिजनों ने पुलिस पर गम्भीर आरोप लगाते हुए कहा है, कि सोमवार को ग्राम आसरा और संजारी के कुछ युवक का आपास में विवाद कर रहे थे। विवाद बढ़ता देख वहां मौजूद युवराज बीच बचाव करने पहुंच गया। थोड़ी देर बहस के बाद विवाद शांत हो गया। लेकिन आसरा गांव के कुछ युवकों ने युवराज और अन्य लोगों के खिलाफ संजारी चौकी में शिकायत दर्ज करा दी। शिकायत के बाद पुलिस ने युवराज सोनकर सहित अन्य को हिरासत में लेकर चौकी पहुंचा दिया।

Balod: महिला से मिलने आता था आरक्षक, ग्रामीणों ने कर दी पिटाई, गांव में बनाया बंधक, फिर पुलिस ने भेजा जेलBalod: महिला से मिलने आता था आरक्षक, ग्रामीणों ने कर दी पिटाई, गांव में बनाया बंधक, फिर पुलिस ने भेजा जेल

गांव में पुलिस कर्मियों के प्रति आक्रोश, किया निष्पक्ष जांच की मांग
चौकी लाने के बाद चौके के पुलिसकर्मियों के द्वारा उन्हें छोड़ने के एवज में रिश्वत की मांग की गई। इस बात का युवराज ने जब विरोध किया, तो पुलिसकर्मियों ने युवराज की पिटाई कर दी। इस दुर्व्यवहार से आहत होकर युवराज ने पेड़ से फांसी लगाकर जान दे दी। अब इस पूरे मामले में मृतक के गांव में पुलिसकर्मियों के प्रति तनाव कि स्थिति है। पुलिस ने ग्रामीणों के विरोध को देखते हुए पूरे गांव को छावनी में तब्दील कर दिया। वहीं मृतक के परिजनों ने युवराज को पुलिस की प्रताड़ना का शिकार बताते हुए , निष्पक्ष जांच की मांग की है। साथ ही दोषियों को कड़ी सजा देने की मांग की है।

Comments
English summary
PhD Scholar in Balod Villagers shocked, serious allegations against police personnel, SP gave instructions for investigation
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X