• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बिहार: अगवा दूल्हे ने दुल्हन का साथ ना छोड़ने का बांड भरा

By Jaya Nigam
|

Hindu Wedding
शेखपुरा(बिहार)। बिहार के शेखपुरा जिले में सोमवार रात अगवा कर लाए गए एक दूल्हे का विवाह तो हो गया, लेकिन वह इस विवाह को स्वीकार करने को तैयार नहीं हुआ। अंत में पुलिस ने हस्तक्षेप कर उसे राजी किया और दूल्हा-दुल्हन से जीवन भर साथ निभाने का वादा लिया।

पुलिस के अनुसार नवादा जिले का निवासी महेंद्र प्रसाद का पुत्र बबलू नवादा में रहकर व्यवसाय करता है। उसका विवाह मुदहा गांव में 17 फरवरी को होना तय हुआ। इसी बीच शेखपुरा जिले के जंगली बिगहा निवासी शिवबालक महतो ने नवादा से बबलू को अगवा कर लिया और उसे लाकर विवाह के मंडप में बैठा दिया।

पढ़ें - बिहार: दुल्हन बारात लेकर पहुंची दूल्हे के घर

गौरतलब है कि शिवबालक पूर्व में अपनी पुत्री रीना का रिश्ता लेकर बबलू के घर गए थे लेकिन बात नहीं बन पाई थी। घटना की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने तत्काल कारवाई करते हुए विवाह के मंडप पर ही वर और कन्या को हिरासत में ले लिया लेकिन तब तक बबलू को रीना के साथ सात फेरे लगवा दिए गए थे। अगवा कर लाया गया दूल्हा बबलू इस विवाह को निभाने के लिए राजी नहीं था।

पुलिस ने बताया कि नवादा और शेखपुरा पुलिस के अथक प्रयास से बबलू तथा उसके परिजनों को समझा-बुझाकर इस वैवाहिक सम्बंध को निभाने के लिए राजी किया गया। उन्होंने बताया कि वर-वधू से जीवनभर साथ रहने का एक बांड भी भरवाया गया।

English summary
Kidnapping of bridegrooms for marriages are very common in Bihar. Recently, one kidnapped bridegroom signed a bond to stay with bridegroom after marriage because he was not ready to carry this marriage.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X