• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

किसानों की रेड एंट्रियां वापस ले रही पंजाब सरकार, नोटिफिकेशन जारी किया

By Vijay Singh
Google Oneindia News

punjab latest news: पंजाब सरकार किसानों की रेड एंट्रियां वापस ले रही है जिसके चलते सरकार ने नोटिफिकेशन जारी किया है। मान सरकार ने सभी डी.सीज और संबंधित विभागों को निर्देश जारी किए हैं कि पराली मसले से संबंधित सभी रेड एंट्री हटा दी जाएं।

Punjab government withdrawing red entries of farmers, issued notification

गौरतलब हो कि पंजाब में 4300 किसानों के खाते में रेड एंट्रियां हुई थी। ये एंट्रियां पराली मामले को लेकर की गई थी। उधर, खेतीबाड़ी मंत्री ने इस बात से मना किया है कि इस नोटिफिकेशन का किसानों के धरने से कोई मेल नहीं है।

'गुजरात में बीजेपी जीतेगी, क्योंकि इसमें मैं हूं',कांग्रेस छोड़कर आए उम्मीदवार का दावा, यह कौन हैं जानिए'गुजरात में बीजेपी जीतेगी, क्योंकि इसमें मैं हूं',कांग्रेस छोड़कर आए उम्मीदवार का दावा, यह कौन हैं जानिए

इधर, ठेकों में शराब के रेट भी बढ़े
प्रदेश के एक अन्य खबर यह है कि, शराब ठेकों में शराब के रेट बढ़ा दिए गए हैं। इससे पहले रेट अक्तूबर के महीने में बढ़े थे। अब एक महीने के बाद फिर से रेट बढ़ाए गए हैं। कांग्रेस सरकार के समय शराब के जितने रेट होते थे अब रेट वहीं पर पहुंच गए हैं। पंजाब केसरी को सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 1300 की बोतल 1400, 1500 में बिकने वाली 1700 के हिसाब से बिकने लगी है। चाहे आम आदमी पार्टी की सरकार आने से पहले शराब के दाम ज्यादा थे लेकिन फिर भी एक्साइज पॉलिसी आने के बाद दामों में काफी गिरावट आई थी। इस तरह से अचानक दामों में उछाल आने से शराब के शौकीनों को करारा झटका लगा है। अब देखना यह होगा कि शराब महंगी होने के बाद ठेकों की भीड़ वैसी ही रहती है या फिर कम हो जाती है लेकिन एक बात तो तय है कि अब शराब के रेटों में कमी आती दिखाई नहीं दे रही।

Comments
English summary
Punjab government withdrawing red entries of farmers, issued notification
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X