• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

Surya Grahan 2022: क्यों बंद होते हैं मंदिरों के कपाट ? क्यों नहीं खाया जाता है ग्रहणकाल में भोजन?

Google Oneindia News

सूर्य ग्रहण में क्यों बंद होते हैं मंदिरों के कपाट?: आज पूरे 27 साल बाद दिवाली के दूसरे दिन सूर्य ग्रहण लगा है। ग्रहण के दौरान कोई भी धार्मिक अनुष्ठान नहीं होता है इसलिए सूर्यग्रहण के दौरान मंदिरों के पट बंद कर दिए गए हैं। तिरूपति मंदिर, काशी विश्वनाथ धाम,संकटमोचन मंदिर, बद्रीनाथ और केदारनाथ के भी पट बंद कर दिए गए हैं। ये सभी मंदिर पूरे 12 घंटे के लिए बंद है। ग्रहण खत्म होने के बाद इन मंदिरों की साफ-सफाई होगी और उसके बाद कपाट ही खोले जाएंगे।

Surya Grahan 2022

क्यों बंद होते हैं मंदिरों के कपाट?

दरअसल शास्त्रों में वर्णन है कि ग्रहणकाल से पहले सूतक लग जाता है और सूतल काल में भगवान की मूर्तियों को छूना अच्छा नहीं माना जाता है इसलिए मंदिरों के पट बंद हो जाता है। भले ही ग्रहण के दौरान मूर्ति पूजा नहीं की जाती है लेकिन ग्रहण के दौरान हर किसी को प्रभु का मन से स्मरण करने की सलाह दी जाती है क्योंकि ऐसा करने से इंसान के अंदर नकारात्मक विचार नहीं आते हैं बल्कि इंसान का आत्मविश्वास बना रहता है।

Surya Grahan 2022

सूर्य ग्रहण के दौरान निकलने वाली ऊर्जा अक्सर लोगों पर नकारात्मक असर डालती है इसलिए लोगों को ग्रहण काल में घर से बाहर जाने से भी रोका जाता है। आपको बता दें कि आज ग्रहण का मध्यकाल शाम 05:02 बजे होगा और मोक्षकाल शाम 05:22 बजे तक का है जबकि ग्रहण का आज शाम ग्रहण शाम 4:40 बजे से 5:24 बजे तक रहेगा।

Surya Grahan 2022

ग्रहण काल में लोगों को भोजन करने से भी रोका जाता है क्योकि ऐसा माना जाता है कि ग्रहण काल में इंसान जितना अधिक खाना खाता है, उसे आगे चलकर कष्ट भोगना पड़ता है और उसे नरक में जगह मिलती है, यही नहीं ग्रहण काल में भोजन करने से इंसान को पेट के रोग होने का भी डर रहता है इसलिए ज्योतिषीगण लोगों को खाना खाने से रोकते हैं।

Surya Grahan 2022

लेकिन अगर वैज्ञानिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो सूर्य ग्रहण के वक्त ultraviolet rays निकलती है, जो भोजन में विषाक्त तत्व पैदा करती हैं इसलिए ग्रहण काल में भोजन ना करना ठीक रहता है। लोग तुलसी की पत्तियों को भोजन में डाल कर रखते हैं, तुलसी में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो कि ग्रहण काल में भोजन के अंदर बैक्टीरिया पनपने से रोकते हैं, जो कि सेहत के लिए ठीक होता है।इसलिए धार्मिक कारण के अलावा ग्रहण काल में भोजन ना करना वैज्ञानिकों के हिसाब से भी सही है।

यहां पढ़ें: Surya Grahan 2022 Live Updates: नग्न आंखों से ना देखें सूर्य ग्रहण: NASAयहां पढ़ें: Surya Grahan 2022 Live Updates: नग्न आंखों से ना देखें सूर्य ग्रहण: NASA

Comments
English summary
Solar eclipse occurred on the second day of Diwali after 27 years. Due to the partial solar eclipse, the doors of the Badrinath Dham & Kedarnath Dham and many Temples are closed today. here is the reason.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X