• search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

अग्निपथ पर अग्निवीर: युवाओं में रोष, पूर्व सैनिक सेवा परिषद ने भी मानकों पर उठाए सवाल

अग्निवीर भर्ती पूर्व सैनिक सेवा परिषद ने मानकों पर उठाए सवाल
Google Oneindia News

देहरादून, 24 अगस्त। सेना में भर्ती होने का सपना देख रहे युवाओं को अग्निपथ योजना के मानकों से काफी झटका लगा है। जिससे गढ़वाल के युवाओं में भारी रोष है। कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के मानकों को लेकर सवाल खड़े करने के बाद अब पूर्व सैनिक सेवा परिषद भी युवाओं के पक्ष में आकर मानकों को लेकर छूट देने की मांग कर रहे हैं।

uttarakhand Agniveer Agneepath fury among youth, Ex-Servicemen Service Council raised questions

सोशल मीडिया में पुरजोर विरोध कर रहे युवा

गौचर से कोटद्वार अग्निवीर भर्ती में आए युवा मुकुल सजवाण ने बताया कि उन्होंने पुराने मानकों से सेना में भर्ती होने की तैयारी की थी। लेकिन जब भर्ती में लंबाई बढाई और दौड का समय कम किया गया। तो कई युवाओं को निराशा हाथ लगी है। जिसके बाद से युवा सोशल मीडिया में इसका पुरजोर विरोध कर रहे हैं। युवाओं ने पुराने मानकों के आधार पर ही भर्ती करने की मांग की है।

इतनी संख्या में युवाओं को एक साथ दौड़ाने का विरोध

उधर युवाओं के मानकों को लेकर किए जा रहे विरोध के बाद पूर्व सैनिक सेवा परिषद ने सेना भर्ती कार्यालय लैंसडौन को पत्र भेजा है। इसमें उन्होंने अग्निवीर भर्ती की दौड़ में 300 की बजाय 150 युवाओं को दौड़ाने की मांग की है। परिषद ने कोटद्वार में अग्निवीर भर्ती को लेकर युवकों को छूट देने की मांग की है। कार्यालय को भेजे पत्र में परिषद के अध्यक्ष गोपाल कृष्ण बड़थ्वाल ने उत्तराखंड के युवाओं के लिए लंबाई एवं सीने की चौड़ाई के मानकों को पूर्व भर्ती रैलियों के समान रखने की भी मांग की है। उन्होंने इस तरह की भर्ती को रद्द करने की मांग की है। जिसमें इतनी संख्या में युवाओं को एक साथ दौड़ाने का विरोध किया है। इससे भगदड़ मचने का भी डर है।

कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज उठा चुके हैं मानकों पर सवाल

बता दें कि उत्तराखंड सरकार में कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने कोटद्वार में चल रहे अग्निवीर भर्ती में प्रदेश के युवाओं को हो रही व्यावहारिक कठिनाइयों को देखते हुए भर्ती प्रक्रिया को पूर्व में निर्धारित मानकों की भांति संचालित करने के लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और रक्षा राज्यमंत्री अजय भट्ट को पत्र लिखा है। मंत्री सतपाल महाराज ने पूर्व में निर्धारित मानकों के अनुसार संचालित करने का अनुरोध किया है। कैबिनेट मंत्री महाराज ने रक्षा मंत्री और रक्षा राज्य मंत्री को पत्र के माध्यम से अवगत कराया कि भारत सरकार की अग्निवीर भर्ती योजना के तहत कोटद्वार में 19 अगस्त से 31 अगस्त 2022 तक बीआरओ लैन्सडाउन के द्वारा अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है। इस दौरान उन्हें युवाओं द्वारा भेजी गई कुछ वीडियो क्लिपिंग से पता चला है कि भर्ती के दौरान राज्य के 300 युवाओं को एक साथ दौडा़या जा रहा है और उसमें से भी मात्र 8 या 10 युवाओं को ही चुना जा रहा है। जबकि शारीरिक में पूर्व में औसतन 300 में से 60 का चयन किया जाता था। उन्होने पत्र के माध्यम से रक्षा मंत्री और रक्षा राज्य मंत्री को बताया कि भर्ती होने वाले युवाओं का कहना है कि भर्ती के दौरान मानकों की अनदेखी की जा रही है। मुझे बताया गया कि दौड़ का समय 1600 मीटर के लिये 5.40 सेकन्ड है लेकिन वह सिर्फ 5 मिनट में ही दौड़ को समाप्त कर दे रहे हैं। उतराखण्ड के जवानों के लिए 163 सेन्टीमीटर लम्बाई है जो कि स्वर्गीय पूर्व थलसेना अध्यक्ष जनरल विपिन रावत ने उतराखण्ड के लिए करवाई थी। लेकिन भर्ती होने आये युवाओं की हाइट अब 170 सेन्टीमीटर ले रहें हैं।

ये भी पढ़ें-धामी कैबिनेट के फैसले: स्वास्थ्य विभाग में रखे गए संविदा कर्मियों को 6 माह का सेवा विस्तार,15 मसलों पर मुहरये भी पढ़ें-धामी कैबिनेट के फैसले: स्वास्थ्य विभाग में रखे गए संविदा कर्मियों को 6 माह का सेवा विस्तार,15 मसलों पर मुहर

Comments
English summary
Agniveer on Agneepath, fury among youth, Ex-Servicemen Service Council also demanded to run 150 youth instead of 300 in the racehave raised questions on standards
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X