सुल्तानपुर: सड़क पर लाश रखकर किया प्रदर्शन, मामले में 8 गिरफ्तार

Posted By: Prashant
Subscribe to Oneindia Hindi

सुल्तानपुर। सोमवार को बाग की जमीन को लेकर उपजे विवाद में शिक्षक समेत दो की मौत हो गई थी। मौत का मामला मंगलवार को उस उस समय गरमा गया जब परिजनों ने लाश को सड़क पर रख कर प्रदर्शन शुरु कर दिया। परिजन इस बात पर अड़े थे कि एसओ और थाने के स्टाफ को हटाया जाए तभी अंतिम संस्कार किया जाएगा। बाद में उच्चाधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद पुलिस की निगरानी में अंतिम संस्कार हुआ।

sultanpur murder 8 arrested

ये है पूरा मामला
बता दें कि सोमवार को बल्दीराय थाना क्षेत्र के पूरे गुरुदत्त तिवारी मजरे पारा गनापुर गांव में जमकर लाठियां चटकी थीं। घटना में शिक्षक विद्याप्रसाद तिवारी और ऊषा देवी की मौत हो गई थी, जबकि बच्चों समेत 9 लोग घायल हुए थे। इस मामले में एसपी ने मौके पर पहुंचकर स्थित का जायजा लिया था, और लापरवाही के आरोप में 1 दरोगा और बीट के सिपाही को लाइन हाज़िर किया था। आरोप था कि गांव के दुर्गेश मिश्रा, अनिल मिश्रा,अवधेश मिश्रा पुत्रगण रामराज मिश्रा व रामराज मिश्रा पुत्र राम प्रसाद मिश्र से जमीनी विवाद वर्षो से चला आ रहा है। 1 दिसम्बर को विवादित स्थल पर विपक्षी दुर्गेश आदि ने मकान निर्माण कार्य शुरू किया तो विद्याप्रसाद ने पुलिस की मदद से निर्माण कार्य रुकवा दिया। तब से दोनों परिवार के लोगो मे दुश्मनी बढ़ती गई।

sultanpur murder 8 arrested

एसपी ने बीट सिपाही और दरोगा को किया लाइन था हाजिर
घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे एसपी अमित वर्मा ने घटना स्थल का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि घटना को अंजाम देने वालो के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अपराधियों के विरुद्ध NSA लगाया जाएगा। उन्होंने परिवारजनों को ढांढस बधाते हुए कहा कहा कि सभी गम्भीर रूप से घायलों को जिला अस्पताल से लखनऊ इलाज के लिए भेजवा दिया गया है। एसपी ने लापरवाही के आरोप में बीट के सिपाही अजय सोनकर व दरोगा अशोक कुमार सिंह को लाइन हाजिर कर दिया।

शव को रख कर मृतक के परिजनों ने किया रोड़ जाम
सोमवार को हुए जमीनी विवाद में मास्टर विद्याप्रसाद तिवारी व उनके भाई के पत्नी की हत्या के विरोध में परिजनों ने आज पारा बाजार चौराहे पर दोनों की लाश रोड पर रखकर हलियापुर-कुड़वार रोड़ जाम कर दिया। गुस्साए ग्रामीणों ने थानाध्यक्ष शिवप्रकाश सिंह सहित सभी पुलिस कर्मी को हटाने की मांग कर रहे थे। सूचना पर बल्दीराय क्षेत्राधिकारी लेखराज सिंह व उपजिलाधिकारी रमेश शुक्ल मौके पर पहुँचकर मृतक के परिजनों को समझाकर रोड जाम हटवाया। सीओ व एसडीएम के आश्वासन पर धरना ख़त्म हुआ। बाद में पुलिस की मौजूदगी में अंतिम संस्कार हुआ।

टीचर की पत्नी ने 9 लोंगो के खिलाफ थाने में दी तहरीर, 8अरेस्ट
मृतक विद्या प्रसाद तिवारी की पत्नी विभा तिवारी ने नौ लोगो को नामजद करते हुए बल्दीराय थाने पर तहरीर दी। घटने की गम्भीरता को देखते हुए एसओ बल्दीराय शिव प्रकाश सिंह व दरोगा दिनेश राय ने टीम के साथ 8 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी वीरेंद्र पुत्र हरिशंकर,राम राज पुत्र राम प्रसाद,दुर्गेश मिश्र,अवधेश मिश्र,अरुण उर्फ अनिल मिश्र पुत्रगण रामराज मिश्र ,सावित्री देवी पत्नी राम राज,श्वेता देवी पत्नी अवधेश मिश्र,कमलेश पत्नी अनिल निवासीगण पूरे गुरुदत्त पारा गनापुर को गिरफ्तार कर सभी आरोपियो को जेल भेज दिया। आरोपी राम नेवाज निवासी पूरे गुरुदत्त अभी पकड़ में नही आ सका। थानाध्यक्ष शिव प्रकाश सिंह ने बताया कि शीघ्र ही उसे भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाएगा। अभियुक्तों की निशान देही पर हत्या में प्रयुक्त लाठी-डंडे,रॉड व कुल्हाड़ी को बरामद कर लिया।

Also Read-विरोध के लिए आंगबाड़ी कर्मचारी संघ की अध्यक्ष ने रचाई सीएम योगी से 'शादी'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
sultanpur murder 8 arrested
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.