• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा- शैक्षणिक, सामाजिक और राजनीतिक बैकग्राउंड देखकर ही महिलाओं को टिकट देंगे

|
Google Oneindia News

लखनऊ, 21 अक्टूबर: उत्तर प्रदेश कांग्रेस की प्रभारी और राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने महिलओं को विधानसभा में चालीस फीसदी टिकट देने का ऐलान किया था उसके बाद गुरुवार को 2022 के विधानसभा चुनावों से पहले महिलाओं से अपनी पार्टी के दूसरे वादे के तहत स्नातक की पढ़ाई पूरी करने वालों के लिए कक्षा 12 पास लड़कियों और इलेक्ट्रिक स्कूटी के लिए स्मार्टफोन की घोषणा की। एक के बाद एक इन चुनावी घोषणाओं के बीच कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि महिलाओं को टिकट देने का ऐलान पार्टी ने किया है। टिकट देने से पहले उनके आवेदनों को जांचा परखा जाएगा और शैक्षणिक, सामाजिक और राजनीतिक बैकग्राउंड के आधार पर ही टिकटों का वितरण किया जाएगा।

    कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष-शैक्षणिक,सामाजिक और राजनीतिक बैकग्राउंड देखकर ही महिलाओं को टिकट देंगे
    कांग्रेस

    उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने वन इंडिया से बातचीत के दौरान कहा कि उत्तर प्रदेश में चारों तरफ महिलाओं के भीतर भय का वातावरण बना हुआ है। चाहे उन्नाव की घटना हो या हाथरस की घटना हो या लखीमपुर खीरी की घटना है। पिछले दिनों जिस तरह से घटनाओं का एक दौर चला उस समय प्रियंका गांधी ने हर समय उनके पास नजर आयीं और उनके अधिकारों की बात करती दिखाई दीं। प्रियंका ने तय किया है कि महिलाओं को किसी से कुछ मांगने की जरूरत नहीं है। इसीलिए उन्होंने विधानसभा में चालीस फीसदी टिकट देने का ऐलान किया है।

    160 महिला उम्मीदवार कहां से लाएगी कांग्रेस ?

    अजय कुमार लल्लू ने कहा कि महिलाएं कांग्रेस में बहुत तेजी से आ रही है और चुनाव लड़ना चाह रही हैं। उनके लिए प्रियंका का फैसला एक अवसर की तरह है और इससे महिलाओं को काफी लाभ मिलेगा जिससे वो आगे बढ़ सकेंगी। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष से यह पूछे जाने पर कि यूपी विधानसभा में 403 सीटों में से चालीस फीसदी टिकट यानी 160 सीटें महिलाओं को देगी, इतनी बड़ी संख्या में योग्य महिलाओं को कांग्रेस कहां से लाएगी, इस सवाल के जवाब में अजय कुमार लल्लू ने कहा कि यह कोई चुनौती नहीं है। हमारे पास इतनी संख्या में उम्मीदवार हैं। आप थोड़ा इंतजार कीजीए। सबकुछ सामने आ जाएगा।

    महिलाओं के शैक्षणिक, सामाजिक और राजनीतिक बैकग्राउंड देखकर ही मिलेगा टिकट
    महिलाओं को आगे कर बाहुबलियों और अपराधियों के चुनाव लड़ने के खतरे को लेकर पूछे गए सवाल पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि,

    ''टिकटों का वितरण आवेदन मिलने और उनके स्क्रूटनिंग के बाद ही होगा। राजनीतिक, सामाजिक और शैक्षणिक बैकग्राउंड को देखकर ही टिकटों का वितरण किया जाएगा। इसके अलावा भी तमाम चीजें देखी जाती हैं। महिलाओं को सबसे पहले आगे लाने का काम कांग्रेस की नेता इंदिरा जी ने पंचायती राज के तहत दिया था। इसके प्रियंका गांधी मूर्त रूप देने का काम कर रही हैं। जो महिलाएं आगे आएंगी और लड़ना चाहेंगी कांग्रेस उनकी पूरी मदद करेगी। प्रियंका जी ने एक नारा दिया है, लड़की हूं, मैं भी लड़ सकती हूं। इसके तहत हम महिलाओं को आगे लाने का काम करेंगे।''

    प्रिंयका की बैठकों को लेकर और हम वचन निभाएंगे यात्रा को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में अजय कुमार लल्लू ने कहा कि, देखिए इसमें से दो वादे तो कांग्रेस ने पूरे कर दिए हैं। प्रियंका जी ने महिलाओं का चालीस फीसदी आरक्षण और इंटर पास छात्रआों को स्मार्टफोन व ग्रेजुएट को स्कूटी देने का वादा किया है। एक एक करके हम आगे बढ़ रहे हैं। कांग्रेस जो कहती है वो करती है। आप देखिएगा कि आने वाले समय में हम अपने सभी संकल्पों को पूरा करने में कामयाब होंगे।

    विधानसभा चुनाव के टिकटों के ऐलान को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में अजय कुमार ने कहा कि कांग्रेस के उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जल्दी ही सामने आएगी। थोड़ा इंतजार करिए। सबकुछ सामने आ जाएगा।

    कांग्रेस

    महिलाओं और छात्राओं पर दांव लगाने की ये है वजह
    जब प्रियंका गांधी वाड्रा ने महिलाओं को पार्टी के 40 प्रतिशत टिकट बांटने की घोषणा की, तो "लड़की हुन, लड़ सकती हूं" के नारे वाली कुछ युवा लड़कियों की तस्वीर ने पृष्ठभूमि बनाई। 2022 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव। भारत के चुनाव आयोग के आंकड़ों की एक करीबी जांच से पता चलता है कि 1 जनवरी, 2021 तक उत्तर प्रदेश में 145.85 मिलियन मतदाता थे और उनमें से 67.05 मिलियन महिलाएं थीं। आंकड़े यह भी बताते हैं कि युवा मतदाताओं की संख्या अधिक थी। राज्य के 145.85 मिलियन मतदाताओं में से लगभग 2.19 मिलियन 18 से 19 वर्ष आयु वर्ग में, 36.55 मिलियन 20 से 29 वर्ष और 37.45 मिलियन 30 से 39 वर्ष आयु वर्ग में थे।

    2012 के चुनाव में सपा ने की थी लैपटॉप और टैबलेट देने की घोषणा
    लगभग एक दशक पहले, 2012 के विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के घोषणापत्र में समाजवादी पार्टी के वादों में क्रमशः कक्षा 12 और 10 की परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले छात्रों को लैपटॉप और टैबलेट का वितरण शामिल था। बीजेपी ने 2017 में अपने यूपी चुनाव घोषणापत्र में कॉलेज जाने वाले छात्रों को मुफ्त डेटा के साथ मुफ्त लैपटॉप देने का भी वादा किया था।

    यह भी पढ़ें- Priyanka Gandhi Vadra ने किया बड़ा ऐलान, सरकार बनने पर छात्राओं को मिलेगी स्कूटी और स्मार्टफोनयह भी पढ़ें- Priyanka Gandhi Vadra ने किया बड़ा ऐलान, सरकार बनने पर छात्राओं को मिलेगी स्कूटी और स्मार्टफोन

    Comments
    English summary
    Congress State President said – only educational, social and political background will be the basis of tickets
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X