• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

राजस्थान के युवाओं ने बढ़ाई यूपी चुनाव से पहले प्रियंका गांधी की मुश्किल, टेंशन में खुद CM गहलोत

|
Google Oneindia News

जयपुर/लखनऊ, 29 नवंबर: उत्तर प्रदेश में चुनाव नजदीक आ रहे हैं, सत्ताधारी पार्टी बीजेपी के खिलाफ कांग्रेस की यूपी में कमान पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने संभाली हुईं हैं, लेकिन इन दिनों यूपी में कांग्रेस और प्रियंका गांधी की मुश्किल बढ़ती नजर आ रही हैं और उसकी वजह से राजस्थान। कांग्रेस के दिग्गज नेता और राजस्थान में पार्टी के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रियंका गांधी को नई टेंशन दे दी हैं, जिससे खुद सीएम अशोक गहलोत भी जूझते नजर आ रहे हैं।

प्रियंका गांधी से मिलने के लिए लखनऊ में धरना

प्रियंका गांधी से मिलने के लिए लखनऊ में धरना

दरअसल, यूपी में चुनाव से पहले सरकार बनने पर प्रियंका गांधी वाड्रा ने वहां के युवाओं से दस लाख नौकरियों का वादा किया है। ऐसे में राजस्थान में जहां उनकी पार्टी की सरकार है, वहां के बेरोजगार युवा अब कांग्रेस महासचिव से आस लगाए हुए हैं और लखनऊ उनसे मिलने के लिए कांग्रेस ऑफिस के बाहर धरना शुरू कर दिया है। प्रदर्शन कर रहे युवा प्रियंका गांधी से मुलाकात की मांग कर रहे हैं। उनका साफ कहना है कि राजस्थान में उनकी पार्टी की सरकार बेरोजगारों की कतई नहीं सुन रही है।

जयपुर में नहीं बनी बात को लखनऊ पहुंचे बेरोजगार युवा

जयपुर में नहीं बनी बात को लखनऊ पहुंचे बेरोजगार युवा

राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के झंडे के नीचे चल रहा आंदोलन अब सीएम गहलोत की भी मुश्किल बढ़ा रहा है। प्रदर्शन कर रहे युवा राजस्थान में सरकारी नौकरियों के लिए रिक्तियों की संख्या में इजाफा, प्रतियोगी परीक्षाओं में पेपर लीक करने वालों के खिलाफ गैर-जमानती कानून बनाने की मांग पर अड़े हैं। इसके लिए उन्होंने पिछले एक महीने के ज्यादा के वक्त से जयपुर में धरना प्रदर्शन किया था, लेकिन जब कोई सुनवाई नहीं हुई तो उन्होंने लखनऊ का रुख कर लिया और यूपी प्रदेश कांग्रेस कमेटी के बाहर धरने के बाद अब भूख हड़ताल शुरू कर दी।

खुले में सोने की फोटो हुई वायरल

खुले में सोने की फोटो हुई वायरल

धरने पर बैठे राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के अध्यक्ष उपेन यादव ने साफ कहा है कि जब तक उनकी मांगों को नहीं माना जाएगा, वो यहां से हटने वाले नहीं है। इन लोगों ने भूख हड़ताल भी शुरू कर दी है। इसी के साथ सोशल मीडिया पर इन युवाओं की सर्दी के मौसम में खुले में सोने की फोटो की वायरल हुई थी। वहीं उपेन यादव ने अपने ट्वीट में कहा कि 'सरकार युवा बेरोजगारों के आंदोलन को ना कुचले और ना ही राजनीतिक रंग दें।

बड़ा बनता जा रहा युवाओं का ये प्रदर्शन

बड़ा बनता जा रहा युवाओं का ये प्रदर्शन

इधर, यह मुद्दा राजस्थान कांग्रेस के लिए गले की फांस बनता नजर आ रहे।इस आंदोलन पर रविवार को अशोक गहलोत ने विपक्ष की चाल बताया।गहलोत ने अपने बयान में कहा था कि 'विपक्ष ने इस आंदोलन को उकसाया है। लखनऊ में धरना देने के पीछे क्या तर्क है? हमारे दोस्त लखनऊ में धरना दे रहे हैं? क्या यह राजनीति नहीं है? विपक्ष उन्हें भड़का रहा है, तर्क क्या है? आप उन्हें लखनऊ भेज रहे हैं।'

आंदोलन खड़ी कर सकती हैं यूपी में कांग्रेस की मुश्किलें!

आंदोलन खड़ी कर सकती हैं यूपी में कांग्रेस की मुश्किलें!

एक तरफ जहां कांग्रेस पार्टी यूपी में चुनाव से पहले बड़े-बड़े वादे कर रही है, तो दूसरी तरफ जहां उनकी सरकार है। वहां युवा बेरोजगार के मुद्दे पर धरना प्रदर्शन के लेकर भूख हड़ताल कर रहे हैं। ऐसे में आने वाले चुनावों को मद्देनजर इसका प्रभाव पार्टी की कथिनी और करनी पर पड़ सकता है। इधर, राजस्थान में भी कुछ ठीक ठाक नहीं चल रहा है। ऐसे में अगर यूपी में राजस्थान के आंदोलन ने सुर्खियां ली तो फिर मामला आलाकमान तक पहुंचना लाजमी है। हालांकि अब प्रियंका गांधी इन युवाओं से मिलती है और उनकी मांगों पर कुछ आश्वासन देती है तो तस्वीरें कुछ और भी हो सकती हैं।

राजस्थान में हर तीसरी लड़की 15-16 साल की उम्र में बन रही मां, नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे की रिपोर्ट में खुलासा राजस्थान में हर तीसरी लड़की 15-16 साल की उम्र में बन रही मां, नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे की रिपोर्ट में खुलासा

English summary
unemployed youth of Rajasthan increased difficulty of Priyanka Gandhi before UP elections CM Gehlot himself in tension
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X