• search
मुरादाबाद न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बदायूं के बाद मुरादाबाद में भी युवती के साथ हैवानियत, रेप के बाद आरोपी ने छत से नीचे फेंका

|

Moradabad News, मुरादाबाद। बदायूं गैंगरेप और हत्याकांड का मामला अभी तक ठंडा भी नहीं हुआ था कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले से भी दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक 19 वर्षीय छात्रा को पड़ोस का युवक गनपॉइंट पर मकान की छत पर ले गया। जहां उसके साथ रेप किया। जब पीड़िता ने भागने की कोशिश की तो आरोपी युवक ने उसे छत से नीचे फेंक दिया। इस घटना में पीड़िता गंभीर रूप से घायल हो गई। पीड़िता को इलाज के लिए डॉक्टरों ने सरकारी मेडिकल कॉलेज मेरठ रेफर कर दिया।

19-year-old girl physical attack in Moradabad accused arrested

क्या है पूरा मामला

यह घटना डिलारी थानाक्षेत्र के एक गांव की है। पीड़िता ने पुलिस को दिए अपने बयानों में बताया कि वह अपने घर में चारपाई पर सो रही थी। इसी दौरान घर के पड़ोस में रहने वाला युवक अरविंद छत के रास्ते घर के अंदर घुसा और गनपॉइंट उसके हाथ-पैर बांधकर घर की छत पर ले गया। आरोप है कि गनपॉइंट पर आरोपी ने उसके साथ रेप किया और जब पीड़िता ने भागने की कोशिश की तो उसे छत से नीचे फेंक दिया। जब परिवार ने उसके चीखने की आवाज सुनी तो सीढ़ियों की तरफ भागे। तब तक आरोपी भाग चुका था।

पुलिस की लापरवाही भी आई सामने

परिजनों ने नीचे जाकर देखा तो युवती घायल अवस्था में पड़ी थी। परिजन घायल युवती को लेकर अस्पताल पहुंचे और उसका इलाज कराया। यहां होश में आने पर युवती ने घटना के बारे में जानकारी दी। वहीं, इस मामले में पुलिस की लापरवाही भी सामने आई है। पुलिस ने मुख्य आरोपी के खिलाफ रेप की धारा बाद में लगाई जबकि पिता की लिखित शिकायत के बावजूद शुरुआती एफआईआर में इसे शामिल नहीं किया गया था। जिला अस्पताल ने युवती की हालत पर बयान देने से इनकार कर दिया, लेकिन परिवार का कहना है कि उसकी हालत गंभीर है।

पीड़िता की रीढ़ की हड्डी टूटी

पीड़िता के भाई ने बताया, 'उसकी रीढ़ की हड्डी टूट गई है, उसके सिर पर भी कई चोटें हैं। जिला अस्पताल से उसे मेरठ के लाला लाजपत राय मेडिकल कॉलेज रिफर किया गया था। हमारे लिए ऐंबुलेंस का इंतजाम किया गया था। मैं उसके लिए परेशान हूं।' पीड़िता के भाई ने बताया, 'हमारी आर्थिक हालत ठीक नहीं है। पिछले तीन दिनों में हम अपना गन्ना भी मिल लेकर नहीं जा सके हैं। अब फैक्ट्री इसे नहीं लेगी। इलाज का खर्चा कैसे उठाएंगे नहीं पता।'

पुलिस ने नहीं जोड़ी थी रेप की धारा

इस मामले में भी पुलिस की लापरवाही सामने आई थी। पीड़िता के पिता का आरोप है कि घटना वाले दिन भी शाम 5 बजे एफआईआर दर्ज की गई थी, लेकिन पुलिस ने उसमें रेप की धारा नहीं जोड़ी थी। यहां तक कि एफआईआर में पिता के कथन को भी बदल दिया गया। इसमें कहा गया कि अरविंद पीड़िता को छत पर ले गया और उसके साथ छेड़छाड़ की।

क्या कहा एसपी ग्रामीण ने...

मुरादाबाद एसपी (ग्रामीण) विद्या सागर मिश्रा ने बताया, 'एफआईआर में रेप की धारा जोड़ दी गई है। आरोपी को बुधवार को जेल भेजा गया। एसपी ने कहा कि पीड़िता के पिता का जो भी आरोप है उसकी जांच कराई जाएगी।

ये भी पढ़ें:- UP: छह आईपीएस और 31 पीपीएस अधिकारियों का हुआ ट्रांसफर, यहां देखें पूरी लिस्ट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
19-year-old girl physical attack in Moradabad accused arrested
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X