• search
मिर्जापुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

10 साल से पाकिस्तान की जेल में बंद है मिर्जापुर का युवक, परिवार की तलाश में गृह मंत्रालय

|

Mirzapur news, मिर्जापुर। वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन की तो वतन वापसी हो गई, लेकिन पाकिस्तान के जेल में अभी भी लगभग 550 भारतीय कैद हैं। इन्ही में एक युवक उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर का रहने वाला है। युवक की राष्ट्रीयता की पुष्टि के लिए गृह मंत्रालय का विदेशी प्रभाग उसके परिजनों को खोज रहा है। बता दें, प्रदेश सरकार के अनु सचिव विनय कुमार सिंह ने छह फरवरी 2019 को डीएम मिर्जापुर को पत्र लिखा है। इसमें गृह मंत्रालय भारत सरकार के पत्र का हवाला देते हुए युवक के बारे में मिली जानकारी का प्रचार कराकर उसके परिजनों का पता कर उसकी राष्ट्रीयता की पुष्टि करने के लिए पत्र लिखा है।

बंदी ने दी ये जानकारी

बंदी ने दी ये जानकारी

पाकिस्तान के जेल में पूछताछ के बाद बंदी ने जानकारी दी है कि उसका नाम पुन्नवासी लाल, पिता का नाम कुंदर लाल है। उसके सिर में कट का निशान है। बंदी ने अपना पता सिटी लाल तहसील पुलिस स्टेशन समहर कटरा, मिर्जापुर यूपी इंडिया बताया है। यह भी जानकारी दी है कि वह मजदूर है और बॉर्डर क्रास करते समय पाकिस्तान चला गया। 2009 में उसके ऊपर पाकिस्तान के नौलखा लाहौर में मुकदमा दर्ज है।

अनपढ़ और मानसिक रूप से बीमार है बंदी

अनपढ़ और मानसिक रूप से बीमार है बंदी

भारतीय बंदी से पाकिस्तान की जेल में पूछताछ की गई है। उसने जो जानकारी दी है उसे एक फॉर्म में भरा गया है। इस फॉर्म में बंदी ने अंगूठे का निशान लगाया है। गृह मंत्रालय के लेटर में यह भी बताया गया है कि वह मानसिक रूप से बीमार है। इस तरह के 32 बंदी पाकिस्तान की जेल में बंद है, जो मानसिक रूप से बीमार हैं।

हापुड़ और सहारनपुर के डीएम को भी पत्र

हापुड़ और सहारनपुर के डीएम को भी पत्र

मिर्जापुर के साथ हापुड़ और सहारनपुर के डीएम को भी पत्र लिखा गया है। मिर्जापुर जिला तो है ही, कई जिलो में मिर्जापुर नाम से गांव व अन्य स्थान भी है। इसे देखते हुए इन दो जिलों के डीएम को भी पत्र लिखा गया है। डिटेल में जो पता दिया गया है, उससे मिर्जापुर जिले के नागरिक होने की संभावना अधिक लग रही है।

एसपी ने कहा- बंदी के परिजनों की हो रही है खोजबीन

एसपी ने कहा- बंदी के परिजनों की हो रही है खोजबीन

मिर्जापुर के एसपी ने बताया कि गृह मंत्रालय से पत्र आया है, जिसमें बताया गया है कि पाकिस्तान जेल में बंद बंदी मानसिक रूप से अस्वस्थ श्रेणी में है, जो बार्डर क्रॉस करते पकिस्तान में पकड़ा गया था। इसमें मिर्जापुर के साथ सहारनपुर और हापुड़ जिले का भी नाम है। जो नाम पता मिला है, उस आधार पर मिर्जापुर में उसके परिजनों की तलाश कराई जा रही है। जानकारी मिलने पर उसे गृह मंत्रालय को बताया जाएगा।

डीएम ने बताया प्रदेश सरकार का आया है पत्र

डीएम ने बताया प्रदेश सरकार का आया है पत्र

प्रदेश सरकार के अनु सचिव विनय कुमार सिंह ने छह फरवरी 2019 को डीएम मिर्जापुर को पत्र लिखा है। इसमें गृह मंत्रालय भारत सरकार के पत्र का हवाला देते हुए युवक के बारे में मिली जानकारी का प्रचार कराकर उसके परिजनों का पता कर उसकी राष्ट्रीयता की पुष्टि करने के लिए पत्र लिखा है। डीएम अनुराग पटेल ने बताया कि प्रदेश सरकार के सचिव का पत्र मिला है। उसके परिजनों की तलाश कराई जा रही है। बता दें, पाकिस्तान की जेल में बंद कई बंदियों की रिहाई के लिए भारत सरकार कोशिश करती रहती है। इसमें अधिकांश मछुवारे व गलती से बॉर्डर क्रॉस करने वाले आम नागरिक होते हैं।

ये भी पढ़ें: भारत-पाक युद्ध के दौरान गायब लेफ्टिनेंट के इंतजार में 48 साल से परिवार, अभिनंदन की वापसी से जगी आस

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Home Ministry searching for family of prisoner in pakistan jail
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X