क्यूबा में सुनने की क्षमता क्यों खो रहे हैं विदेशी राजनयिक? अमेरिका के बाद कनाडा ने की शिकायत

Subscribe to Oneindia Hindi

हवाना। क्यूबा में दूतावासों में रहने वाले अधिकारियों को बहरेपन की समस्या सामने आ रही है। ताजा मामला कनाडा के राजनयिकों से जुड़ा हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार इससे पहले अमेरिकी राजनयिकों ने भी ऐसी शिकायत की थी जिसके चलेत वो राजधानी छोड़कर चले गए थे। वहीं कनाडा के राजनयिकों का वहां इलाज हो रहा है। अमेरिकी अधिकारियों का कहना है कि उनके कर्मियों पर आवाज संबंधी उपकरण का इस्तेमाल कर हमला किया गया। जिससे उनकी सुनने की क्षमता कम हो गई। उनका कहना है कि हमला उनकी सुनने की क्षमता से ज्यादा वाले उपकरण से किया गया था। हालांकि अधिकारियों का कहना है कि यह स्पष्ट नहीं है कि इस हमले का जिम्मेदार क्यूबा है या फिर कोई और देश।

क्यूबा में सुनने की क्षमता क्यों खो रहे हैं विदेशी राजनयिक? अमेरिका के बाद कनाडा ने की शिकायत

कनाडा की सरकार मे विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ब्रियाने मैक्सवेल ने कहा कि हम हवाना में कनाडाई और अमेरिकी राजनयिकों और उनके परिजनों को प्रभावित करने वााले लक्षणों के बारे में जानते हैं। इस घटना के कारण का पता लगाने के लिए अमेरिका और क्यूबा की सरकार एक साथ काम कर रही है। अमेरिकी विदेश मंत्रालय के अनुसार उसके राजनयिकों में ऐसे लक्षण बीते साल पाए गए थे।

विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हेदर नॉर्ट न कहा कि कुछ अमेरिकी अधिकारी क्यूबा स्थित हवाना के हमारे दूतावास में काम कर रहे थे। कुछ ऐसी घटनाओं सूचना मिली जिससे हमारे अधिकारियों को दिक्कत हुई। नॉर्ट ने कहा कि इसी घटना के चलते मई में वाशिंगटन से क्यूबा क दो राजनयिकों को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Why are the foreign diplomats losing their ability to listen in Cuba? Canada complains after US
Please Wait while comments are loading...