• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Watch: 45 सेकंड में धराशायी हुईं 15 गगनचुंबी इमारतें, दिल दहला देगा सामने आया ये Video

|
Google Oneindia News

बीजिंग, 17 सितंबर। दुनियाभर में बढ़ती जनसंख्या के साथ उनके रहने के लिए इमारतों का निर्माण कार्य भी तेजी से हो रहा है। ऐसे में कई जर्जर और पुरानी हो चुकी गगनचुंबी बिल्डिंग को गिराकर उनकी जगह नया कंस्ट्रक्शन किया जाता है। बहुमंजिला इमारतों को धराशायी करने किसी जंग से कम नहीं है, इस काम में जरा सी चूक होने पर जान-माल का भारी नुकसान हो सकता है। हाल ही में चीन से ऐसा ही एक वीडियो सामने आया है जिसे देख आपके भी रोंगटे खड़े हो जाएंगे।

चीन से सामने आया वीडियो

चीन से सामने आया वीडियो

चीन में दुनिया की सबसे बड़ी आबादी रहती है जिसके रहने के लिए यहां ऊंची-ऊंची बिल्डिगों का निर्माण काफी समय पहले से किया जा रहा है। समय के साथ-साथ ये इमारते जर्जर और कमजोर हो जाती हैं, ऐसे में इन्हें गिराकर नई बिल्डिंग खड़ी करने के अलावा और कोई विकल्प नहीं रह जाता। चीन के युनान प्रांत के कनमिंग में ऐसी ही 15 इमारतों को गिराकर उस समय मलबा बना दिया जब वह लंबे सयम से खाली पड़ी थीं।

एक साथ धराशायी हुईं 15 इमारतें

एक साथ धराशायी हुईं 15 इमारतें

चीन में इमारतों को गिराने का वीडियो भी सामने आया है जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। आपको जानकर हैरानी होगी कि सभी 15 बिल्डिंग्स को एक साथ एक ही समय पर गिराया गया। जब गगनचुंबी इमारतें जमीन पर गिरीं तो वहां धूल का विशाल गुबार फैल गया। हालांकि इस काम में किसी भी प्रकार के जान-माल का नुकसान नहीं हुआ। वहीं आस-पास की इमारतें भी सुरक्षित रहीं।

4.6 टन विस्फोटक हुआ इस्तेमाल

4.6 टन विस्फोटक हुआ इस्तेमाल

स्थानीय मीडिया के मुताबिक चीन में इमारतों को धराशायी करने की अब तक की सबसे बड़ी घटना माना जा रहा है। कनमिंग शहर में कई ऐसी ऊंची-ऊंची इमारतों का निर्माण किया गया है। रिपोर्ट के अनुसार इन इमारतों को गिराने के लिए कुल 4.6 टन विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया था। इन्हें सभी बिल्डिंग्स में 85,000 ब्लास्टिंग पॉइंट्स पर फिट किया गया था।

45 सेकंड में ध्वस्त हुईं 15 इमारतें

45 सेकंड में ध्वस्त हुईं 15 इमारतें

विस्फोटकों की मदद से 15 गगनचुंबी इमारतों को सिर्फ 45 सेकंड में ध्वस्त कर दिया गया। हालांकि वीडियो को देखने पर पता चलता है कि बाकी सभी इमारतों में से एक बिल्डिंग खड़ी रहती है। दरअसल, विस्फोटक की वजह से उसके नीचे की मंजिल तो ढह गई लेकिन ऊपर की पूरी इमारत मलबे पर खड़ी हो गई। इस काम में किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए आपातकालीन बचाव विभागों ने आठ टीमों का गठन किया था।

किसी अनहोनी से बचने के लिए किया ये काम

किसी अनहोनी से बचने के लिए किया ये काम

काम बिना किसी अनहोनी के पूर्ण-प्रूफ रहे इसके लिए 2000 से अधिक सहायता कर्मियों, दमकल विभाग समेत कई इमरजेंसी सेवाओं को वहां भेजा गया था। बिल्डिगों को गिराने से पहले सुरक्षा के मद्देनजर आस-पास की दुकानों को बंद करा दिया गया था वहीं, नजदीक की इमारतों में रहने वाले लोगों को वहां से हटा दिया गया था। 15 बिल्डिगें लंबे समय से खाली पड़ी थीं और यहां कोई रहता नहीं था। सोशल मीडिया पर अब वायरल हो रहे वीडियो ने सभी को हैरान कर दिया है।

    Pakistan: ISI Chief Faiz Hameed ने China और Russia के खुफिया प्रमुखों से की मुलाकात | वनइंडिया हिंदी

    यह भी पढ़ें: चीन को घेरने चले थे, आपस में ही उलझे दोस्त देश, फ्रांस ने कहा- अमेरिका-ऑस्ट्रेलिया ने पीठ में 'छूरा घोंपा'

    English summary
    Watch Video 15 buildings collapse in 45 seconds in Yunnan province of China
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X