• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ईरान का दावा, हमारे 27 जवानों की जान लेना वाला फिदायीन था पाकिस्तानी

|

तेहरान। ईरान रिवोल्यूशनरी गार्ड के एक सीनियर कमांडर ने दावा किया है कि 13 फरवरी को उनके 27 जवानों की जान लेना वाला फिदायीन हमलावर पाकिस्तानी था। कमांडर का कहना था कि ये हमलावर पाकिस्तान से आया था और इसने ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड्स को ले जा रही बस को निशाना बनाया। जिसमें 27 गार्ड की मौत हो गई।

हमारे 27 जवानों की जान लेना वाला फिदायीन पाकिस्तानी था:

इससे पहले ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड चीफ मेजर जनरल मोहम्मद अली जाफरी ने भी पाकिस्तान को चेतावनी दी थी। साथ ही उन्होंने कहा था कि ईरान के खिलाफ सऊदी अरब और सयुंक्त अरब अमीरात सुन्नी ग्रुप के मिलिटेंट की मदद कर रहे हैं। जाफरी ने कहा, पाकिस्तान की सेना और सिक्योरिटी बॉडी इन एंटी-रिवोल्यूशनरी ग्रुप को शरण क्यों देते हैं? पाकिस्तान को इसमें संदेह नहीं होना चाहिए कि उन्हें इसके लिए भारी कीमत चुकानी होगी।

13 फरवरी को पाकिस्तान से लगने वाली ईरान के सिस्तान बलूचिस्तान सीमा में एक फिदायीन हमले में ईरानी रिवोल्यूशनरी गार्ड के 27 जवानों की मौत हो गई थी। हमला उस वक्त सैनिक सीमा पर गश्ती करने के बाद वापस लौट रहे थे।

बता दें कि ईरान के सिस्तान बलूचिस्तान प्रांत में सुन्नी समूह की जैश-अल-अदल आतंकी संगठन ईरानी सेना के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं। सऊदी और यूएई पर इस सुन्नी आतंकी संगठन का समर्थन देने का आरोप है। ईरान कई बार कह चुका है कि यह आतंकी संगठन पाकिस्तान में संचालित होता है और इसके खिलाफ इस्लामाबाद कार्रवाई नहीं कर रहा है।

ईरान के जनरल ने पाकिस्तान को दी गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
suicide bomber who killed 27 Iran elite Revolutionary Guards was Pakistani, claims Iran
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X