• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

यूरोपीय मेडिसिन एजेंसी ने कहा, एस्ट्राजेनेका वैक्सीन सुरक्षित और प्रभावी, ब्लड क्लॉटिंग को लेकर कही ये बात

|
Google Oneindia News

एस्ट्राजेनेका वैक्सीन अपडेट: ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन को लेकर यूरोपीय मेडिसिन एजेंसी ने कहा है कि ये वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित और प्रभावी है। यूरोपीय चिकित्सा एजेंसी ने जांच के बाद कहा कि हमने जांच में पाया है कि एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन सुरक्षित और प्रभावी है। पिछले कुछ हफ्तों में ब्लड क्लॉटिंग (खून का थक्का जमना) की शिकायत को लेकर जर्मनी, फ्रांस, इटली, स्पेन और डेनमार्क सहित कई यूरोपीय देशों ने एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन पर अस्थायी तौर पर रोक लगा दी थी। अब जांच के बाद यूरोपीय मेडिसिन एजेंसी ने एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल से ब्लड क्लॉटिंग की होने वाली शिकायत को खारिज कर दिया है। यूरोपीय मेडिसिन एजेंसी ने कहा कि हमें जांच में ऐसा कुछ नहीं मिला है, जिसके आधार पर हम ये कह सके कि एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के उपयोग से शरीर में रक्त के थक्के जम रहे हैं।

AstraZeneca Vaccine

यूरोपीय मेडिसिन एजेंसी के निदेशक एमर कुक ने कहा कि एजेंसी की सुरक्षा समिति 'एक स्पष्ट वैज्ञानिक निष्कर्ष' पर पहुंच गई है और हमने ये जांच में पाया है कि ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन शरीर में ब्लड क्लॉटिंग को लेकर जिम्मेदार नहीं है। ना ही टीके के डोज से ब्लड क्लॉटिंग का कोई संबंध है।

ईएमए के फार्माकोविजिलेंस रिस्क असेसमेंट कमेटी (PRAC) की अध्यक्ष डॉ. सबाइन स्ट्रस ने कहा, "यह वैक्सीन COVID-19 को रोकने में सुरक्षित और प्रभावी है, और इसके लाभ इसके जोखिमों से कहीं अधिक हैं।'' उन्होंने कहा, इसके अलावा, क्योंकि वैक्सीन कोविड-19 के बीमारी को रोकने में प्रभावी है, जो अपने आप में रक्त के थक्कों का कारण है, यह संभवत थ्रोम्बोटिक घटनाओं के जोखिम को कम करता है।"

जांच में यह पाया गया है कि टीकाकरण के बाद रिपोर्ट की गई थ्रोम्बोम्बोलिक शिकायत की संख्या सामान्य आबादी की अपेक्षा में बहुत कम है। इसलिए एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के साथ रक्त के थक्कों के समग्र जोखिम में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है। हालांकि डॉ. सबाइन स्ट्रस ने कहा कि हमारे पास जो फिलहाल सबूत हैं वह इस समय निश्चित रूप से निष्कर्ष के साथ पर्याप्त नहीं हैं कि क्या ये प्रतिकूल घटनाएं असल में वैक्सीन के कारण होती हैं या नहीं?

बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने हालांकि पहले ही कहा था कि ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। डब्ल्यूएचओ ने इस वैक्सीन पर रोक लगाने से मना किया था और कहा था कि उन्होंने अपनी जांच में इस वैक्सीन का कोई साइड इफेक्ट नहीं देखा है जो घातक हो।

ये भी पढ़ें- दिल्ली में कोरोना ने पकड़ी रफ्तार तो CM केजरीवाल बोले, हम 3 महीने के अंदर पूरी दिल्ली को वैक्सीन लगा सकते हैंये भी पढ़ें- दिल्ली में कोरोना ने पकड़ी रफ्तार तो CM केजरीवाल बोले, हम 3 महीने के अंदर पूरी दिल्ली को वैक्सीन लगा सकते हैं

Comments
English summary
European Medicines Agency says AstraZeneca Vaccine Safe And Effective what to say about Blood Clots
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X