• search

जॉर्डन में किंग और प्रधानमंत्री के बीच बढ़ा टकराव

Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    जॉर्डन के अधिकारियों ने कहा है कि किंग अब्दुल्लाह ने प्रधानमंत्री हानी अल-मुल्की को समन किया है.

    कहा जा रहा है कि दोनों की बैठक में प्रधानमंत्री को इस्तीफ़े के लिए कहा जा सकता है. जॉर्डन में लोग पिछले चार दिनों से सड़क पर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं.

    लोग महंगाई के ख़िलाफ़ सड़क पर हैं और ऐसे में सरकार ने आय कर की दरें बढ़ा दी हैं.

    सोमवार को क्राउन प्रिंस हुसैन पांच हज़ार लोगों की मज़बूत भीड़ के साथ राजधानी अमान में प्रधानमंत्री दफ़्तर के बाहर पहुंचे.

    जॉर्डन में सड़क पर लोग
    Reuters
    जॉर्डन में सड़क पर लोग

    हुसैन ने सुरक्षा बलों से कहा कि लोगों को अपनी आवाज़ उठाने की अनुमति मिलनी चाहिए.

    जॉर्डन के शाही घराने के लिए यह बड़ा विरोध-प्रदर्शन है. प्रदर्शनकारी कैबिनेट ऑफिस के बाहर जमे हुए हैं. लोग प्रधानमंत्री हानी अल-मुल्क से इस्तीफ़े की मांग कर रहे हैं.

    मुल्की ने 2016 में जॉर्डन की कमान संभाली थी. उन्हें देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने का भी श्रेय दिया जाता है. जॉर्डन लंबे समय से आर्थिक संकट से जूझ रहा है. अब भी विदेशी मदद पर जॉर्डन की भविष्य बहुत हद तक निर्भर करता है.

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    BBC Hindi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Clashes between King and Prime Minister in Jordan

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X