• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जस्टिस अरुण मिश्रा ने की थी पीएम मोदी की तारीफ, सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन ने की बयान की निंदा

|

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस अरुण मिश्रा ने पिछले हफ्ते एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की थी। अंतर्राष्ट्रीय न्यायिक सम्मेलन में उनके पीएम मोदी की तारीफ करते हुए दिए बयान पर विवाद पैदा हो गया है। सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन (एससीबीए) ने जस्टिस मिश्रा के बयान की निंदा की है। एससीबीए का मानना है कि न्यायपालिका की स्वतंत्रता संविधान की मूल भावना और इस भावना को बनाए रखना चाहिए।

supreme court bar body condemns justice arun mishra praise for pm modi

एसबीसीए ने अपने बयान में कहा कि बार एसोसिएशन संविधान और न्यायपालिका में अपने विश्वास को दोबारा जाहिर करता है और न्याय के प्रशासन के इसी भावना से काम करने की अपील करता है। एसोसिएशन ने कहा कि इस तरह का आचरण न्यायपालिका की निष्पक्षता और स्वतंत्रता के बारे में लोगों की अवधारणा को कमजोर कर सकता है।

एसबीसीए ने अपने बयान में कहा कि जजों का ये बुनियादी कर्तव्य है कि सरकार की कार्यपालिका शाखा से गरिमामय दूरी बनाए रखें। जस्टिस अरुण मिश्रा के बयान पर एक प्रस्ताव पारित किया गया जिसमें कई सदस्यों के हस्ताक्षर हैं। एसोसिएशन के अध्यक्ष दुष्यंत दवे के अलावा उपाध्यक्ष कैलाश वासदेव, संयुक्त सचिव रोहित पांडेय और ट्रेजरर मीनेश दुबे के भी हस्ताक्षर हैं।

Delhi Violence: हिंसा में अब तक 28 लोगों की मौत, आज हाई कोर्ट में जवाब देगी पुलिस

अंतर्राष्ट्रीय न्यायिक सम्मेलन में सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस अरूण मिश्रा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा की थी। इस दौरान उन्होंने पीएम मोदी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रशंसनीय दूरद्रष्टा और बहुमुखी प्रतिभा वाला ऐसा नेता बताया था जिनकी सोच वैश्विक स्तर की है, लेकिन स्थानीय हितों को अनदेखा नहीं करते। जस्टिस अरुण मिश्रा ने कहा था कि भारत पीएम मोदी के 'नेतृत्व' के तहत अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का एक जिम्मेदार और सबसे दोस्ताना सदस्य है। उन्होंने आगे कहा था कि भारत दुनिया में सबसे बड़ा लोकतंत्र है और लोगों को हैरानी होती है कि यह लोकतंत्र कैसे इतनी कामयाबी से काम करता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
supreme court bar body condemns justice arun mishra praise for pm modi
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X