• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

MeToo: अनु मलिक की चिट्ठी पर सामने आईं सोना महापात्रा, दिया ये जवाब

|

नई दिल्ली। बॉलीवुड के मशहूर म्यूजिक डायरेक्टर और इंडियन आइडल-11 के जज अनु मलिक ने अपने ऊपर लगे मीटू के आरोपों को लेकर बयान दिया है। अनु मलिक ने सोशल मीडिया पर एक खुला खत पोस्ट करते हुए कहा, 'दो बेटियों का बाप होने के नाते, मैं वो सब करने का सोच भी नहीं सकता, जिसे लेकर मेरे ऊपर आरोप लगाए जा रहे हैं।' अनु मलिक के इस खत को लेकर अब सोना महापात्रा ने जवाब दिया है। सोना महापात्रा ने कुल आठ प्वाइंट में अनु मलिक की सफाई पर जवाब दिया है। साथ ही उन्होंने ट्विटर पर पोस्ट लिखते हुए श्वेता पंडित को भी टैग किया है।

'उनका क्या, जो आपकी वजह से दर्दनाक अनुभव से गुजरे हैं'

'उनका क्या, जो आपकी वजह से दर्दनाक अनुभव से गुजरे हैं'

अनु मलिक की पोस्ट पर जवाब देते हुए सोना महापात्रा ने लिखा, 'अनु मलिक ने आखिरकार कल शाम इन सबके बारे में लिखा। उनकी इस चिट्ठी पर मेरी प्रतिक्रिया- आपने कहा असत्यापित आरोप? यहां स्वतंत्र रूप से आवाज उठाने वाली समझदार महिलाओं की एक जैसी कई कहानियां हैं। उन लोगों की मानसिक हालत का क्या, जो आपकी वजह से इस दर्दनाक अनुभव से गुजरे हैं। क्या आपने इतने सालों में उनकी परवाह की? उन सभी पीड़िताओं और उनके परिवारों की मानसिक हालत उस समय क्या होती होगी, जब वो आपको टीवी पर देखते होंगे?

ये भी पढ़ें- शराब के नशे में बीच सड़क गाड़ी रोककर लड़की ने किया हंगामा, वीडियो वायरल

'आप कोई रोल मॉडल नहीं'

'आप कोई रोल मॉडल नहीं'

सोना महापात्रा ने आगे कहा, 'यह बहुत स्पष्ट रूप से कहा गया है कि जब तक आप भुगत ना लें, आपको नेशनल टीवी पर आने का कोई अधिकार नहीं है। भारत में करीब 1.3 बिलियन लोग रहते हैं। उनमें से हर किसी को जरूरत नहीं है कि वो रोजी-रोटी के लिए टीवी पर आकर करोड़ों रुपए कमाए या उन युवाओं का जज बने, जिनकी सुरक्षा को खतरा है। आप कोई रोल मॉडल नहीं हैं। आप कभी भी ब्रेक ले सकते हैं, किसी सेक्स पुनर्वसन, काउंसलिंग या कहीं और जाकर ये सीखिए कि बेहतर व्यवहार कैसे किया जाता है।'

'दो बेटियों का बाप होना, कुछ भी साबित नहीं करता'

सोना महापात्रा ने अनु मलिक को जवाब देते हुए कहा, 'अपने बच्चों से कड़ी मेहनत करके पैसा कमाने के लिए कहिए। वो बालिग हैं। मैंने 22 साल की उम्र में काम करना शुरू कर दिया था। कुछ भी करके, लोगों की आंखों से दूर रहेंगे? कुछ पछतावा दिखाइएंगे? माफी मांगेंगे? अगर आप ये सब करते तो वो सब नहीं होता। आपने अपने प्रश्न का उत्तर खुद ही दे दिया। दो बेटियों का बाप होना, कुछ भी साबित नहीं करता। साफ तौर पर आपकी कामेच्छा नहीं दबती है। आप प्लीज कोर्ट जाइए, मैं आपसे रिक्वेस्ट करती हूं कि प्लीज कोर्ट जाइए। वहां वाकई न्याय होगा।'

आरोपों पर अनु मलिक ने क्या कहा

आरोपों पर अनु मलिक ने क्या कहा

आपको बता दें कि इससे पहले अनु मलिक ने अपने ट्विटर और इंस्टाग्राम पर एक लैटर पोस्ट करते हुए लिखा, 'इस बात को एक साल हो गया है और मेरे ऊपर एक ऐसा आरोप लगाया जा रहा है, जो मैंने किया ही नहीं। मैं इस सब पर अभी तक खामोश रहा, क्योंकि मैं सच्चाई के खुद-ब-खुद बाहर आने का इंतजार कर रहा था। लेकिन, मुझे लगता है कि इस मामले पर मेरी चुप्पी को मेरी कमजोरी के तौर पर देखा गया, जो गलत है। जब से मेरे ऊपर ये झूठे और बेबुनियाद आरोप लगाए गए हैं, उससे ना केवल मेरी छवि खराब हुई है, बल्कि मुझे और मेरे परिवार को मानसिक रूप से परेशानी झेलनी पड़ी है। इन आरोपों से हम सदमे में हैं और मेरे करियर को भी झटका लगा है। मैं बहुत असहाय और घुटन महसूस कर रहा हूं।'

'यह सब पहले क्यों नहीं बोला गया'

'यह सब पहले क्यों नहीं बोला गया'

अपने लैटर में अनु मलिक ने आगे कहा, 'यह बहुत शर्मनाक है कि इस उम्र में और जिंदगी के इस पड़ाव में मुझे अपने नाम के साथ इतने गंदे शब्द और ऐसी घटनाओं को जुड़ते हुए देखना पड़ रहा है। यह सब पहले क्यों नहीं बोला गया? ये आरोप उस वक्त ही फिर से क्यों लगने शुरू हो जाते हैं, जब मैं टीवी पर वापस लौट आता हूं, जो फिलहाल मेरी रोजी-रोजी का एकमात्र जरिया है? दो बेटियों का बाप होने के नाते, मैं वो सब करने का सोच भी नहीं सकता, जिसे लेकर मेरे ऊपर आरोप लगाए जा रहे हैं।'

ये भी पढ़ें- तस्लीमा नसरीन ने उठाए सवाल, कहा- मुसलमानों को 5 एकड़ जमीन क्यों दी, अगर मैं जज होती तो...

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Sona Mohapatra Replies To Anu Malik On Open Letter About Allegations Of Me Too.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X