• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अगर भारत पर हुआ हमला तो हम घर में घुसकर मारेंगे: अमित शाह

|

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड के नये दफ्तर का उद्घाटन किया, इस दौरान गृह मंत्री ने लोगों को संबोधित भी किया, जिसमें उन्होंने कहा कि हम दुनिया में शांति चाहते हैं लेकिन अगर भारत पर हमला होगा तो भारत भी घर में घुसकर मारेगा, अब भारत चुप नहीं बैठेगा, शाह ने कहा कि हमला करने वाले अपनी मौत पहले से ही लिखवाकर लाते हैं, उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक की ओर इशारा करते हुए कहा कि अमेरिका-इजराइल घर में घुस कर मारते थे, अब भारत का नाम भी अब घर में घुसकर मारने वालों में शामिल हो गया है।

    Amit Shah ने NSG Campus के उद्घाटन पर कहा, जो जवानों को मारेगा उसे नहीं छोड़ेंगे | वनइंडिया हिंदी
    'अगर भारत पर हुआ हमला तो हम घर में घुसकर मारेंगे'

    'अगर भारत पर हुआ हमला तो हम घर में घुसकर मारेंगे'

    गृह मंत्री ने कहा कि यदि किसी भी देश ने हमारी सीमा का उल्लंघन किया या फिर हमारे जवानों को नुकसान पहुंचाया तो उसे परिणाम भुगतने पड़ेंगे, हम ईंट का जवाब पत्थर से देंगे, अमित शाह ने कहा कि पांच साल के अंदर एनएसजी ने भारत सरकार से जो अपेक्षाएं रखी हैं, वो सारी की सारी अपेक्षाओं की पूर्ती पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत सरकार सुनिश्चित रूप से करेगी।

    यह पढ़ें: शिवसेना के मुखपत्र 'Saamana' की नई संपादक बनीं रश्मि ठाकरे, पति उद्धव की ली जगह

    'आज मेरे लिए बहुत गौरव और हर्ष का विषय'

    'आज मेरे लिए बहुत गौरव और हर्ष का विषय'

    उन्होंने कहा कि आज मेरे लिए बहुत गौरव और हर्ष का विषय है कि एनएसजी के लिए जिस प्रकार की सुविधा उनको निश्चित होकर काम करने के लिए चाहिए, उस सुविधा की पूर्ती में आज एक कदम आगे बढ़ रहे हैं, शाह ने कहा कि NSG का काम है कि जो लोग देश को तोड़ने और शांति भंग करने का काम कर रहे हैं उनके मन में भय पैदा करे और अगर फिर भी ये लोग नहीं मानते तो कार्रवाई करे।

    '100 दिन अपने परिवार के साथ रह सकेंगे सुरक्षाबल के जवान'

    '100 दिन अपने परिवार के साथ रह सकेंगे सुरक्षाबल के जवान'

    अमित शाह ने कहा कि उनकी सरकार जल्द ही ऐसी व्यवस्था करने जा रही है कि सभी सुरक्षाबलों के जवान साल में कम से कम 100 दिन अपने परिवार के साथ रह सके। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार एनएसजी समय सभी सुरक्षाबलों के हित के लिए कार्य कर रही है। सिर्फ सुरक्षा बल ही नहीं उनके परिवार के हर सदस्य खुश और सुखी रहे, स्वास्थ्य, आवास सुविधा, पढ़ाई लिखाई सही से हो इन सभी विषयों पर जोर दे रही है।

    245 करोड़ रुपये की अलग-अलग योजनाओं का लोकार्पण

    बता दें कि आज एक साथ ढेर सारी लगभग 245 करोड़ रुपये की अलग-अलग योजनाओं का लोकार्पण और भूमिपूजन हुआ है, तो वहीं दिल्ली हिंसा को लेकर शाह के खिलाफ वाममोर्चा और कांग्रेस कार्यकर्ता हाथों में काले झंडे लेकर शहर भर में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। एयरपोर्ट से कुछ दूरी पर भी वामपंथी कार्यकर्ता और कांग्रेसियों ने हाथ में पोस्टर बैनर शाह गो बैक का नारा लगाते हुए विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। हालांकि विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर राज्य पुलिस प्रशासन ने भी उनकी सुरक्षा के लिए विशेष प्रबंध कर रखा है।

    यह पढ़ें: Hate Speech: भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा का ऐलान- रतनलाल और अंकित शर्मा के परिवारों को दूंगा अपनी 1-1 महीने की सैलरी

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Union Home Minister Amit Shah addressing NSG in Rajarhat: It is the work of NSG to develop fear in people who think&work towards dividing&disrupting peace in our country.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X