• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Palghar: मॉब लिंचिंग की शिकार होने से बाल-बाल बची थीं महाभारत की 'द्रौपदी', खुद बताया वो भयानक किस्सा

|

मुंबई। पालघर में हुई मॉब लिंचिंग की घटना के बाद लोगों के अंदर जबरदस्त गुस्सा है, सोशल मीडिया पर लोग इस दर्दनाक और शर्मनाक घटना की निंदा कर रहे हैं, तो वहीं ट्विटर पर लोग उद्धव ठाकरे की सरकार पर बड़े सवाल उठा रहे हैं , कई बॉलीवुड स्टार्स ने इस मामले पर रोष जताया है तो वहीं इस मामले पर महाभारत शो में 'द्रौपदी' का किरदार प्ले करने वाली और पश्चिम बंगाल की राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली ने इस घटना की कड़ी निंदा की है।

मॉब लिंचिंग की शिकार होने से बाल-बाल बची थीं महाभारत की 'द्रौपदी'

मॉब लिंचिंग की शिकार होने से बाल-बाल बची थीं महाभारत की 'द्रौपदी'

लेकिन इसके साथ ही उन्होंने अपने साथ हुए एक भयानक किस्से का भी जिक्र किया है, रूपा गांगुली ने बताया कि करीब 17 से 18 लोगों ने उन्हें गाड़ी से उतारकर मारा था, इसके साथ ही उनकी गाड़ी भी तोड़ दी थी, उन्होंने ट्विटर पर लिखा है कि , 'मुझे कुछ दिनों से याद आ रही है 22 मई 2016 को डायमंड हार्बर की वो घटना...।'

यह पढ़ें: Palghar Mob Lynching: मॉब लिचिंग पर भड़के जावेद अख्तर, कहा- सभ्य समाज में बर्बरता बिल्कुल बर्दाश्त नहीं

'लोग मुझे गाड़ी से उतार कर मार रहे थे'

'लोग मुझे गाड़ी से उतार कर मार रहे थे'

17-18 लोगों ने पुलिस को साथ लेकर मुझे गाड़ी से उतारकर रोड पर पटक-पटक कर मारा था। उन लोगों ने बहुत दूर तक तोड़ फोड़ मचाई थी। मैं बस मरी नहीं थी लेकिन 2 ब्रेन बेमरेज हुए। मैं एक रैली ड्राइवर हूं इसीलिए वहां से निकल पायी। बहुत दुख हो रहा है पालघर और पश्चिम बंगाल की इन दुखद घटनाओं के बारे में जानकर।

क्या है मामला

दरअसल महाराष्ट्र के पालघर में गुरुवार को ग्रामीणों ने तीन लोगों को चोर समझकर पीट-पीटकर मार डाला था। मृतकों की पहचान 35 वर्षीय सुशीलगिरी महाराज, 70 वर्षीय चिकणे महाराज कल्पवृक्षगिरी और30 वर्षीय निलेश तेलगड़े के रूप में हुई है, निलेश साधुओं का ड्राइवर था। ये तीनों लोग मुंबई से सूरत किसी की अंत्‍येष्टि में शामिल होने जा रहे थे। पालघर जिले के एक गांव में 100 से ज्यादा लोगों की भीड़ इन पर टूट पड़ी। ग्रामीणों ने पुलिस की गाड़ी पर भी हमला किया था, बताया गया है कि इस पूरे इलाके में कुछ दिनों से बच्‍चा चोर गिरोह की अफवाह फैली हुई थी। बस लोगों ने इन्‍हें इसी गिरोह से संबंधित समझा और बिना सोचे समझे हमला करना शुरु कर दिया और तीनों को पीट-पीटकर मार डाला।

महाराष्ट्र सरकार इस तरह के अपराधों को माफ नहीं करेगी

महाराष्ट्र सरकार इस तरह के अपराधों को माफ नहीं करेगी

इस मामले पर बीजेपी नेताओं सहित सोशल मीडिया यूजर्स ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और महाराष्ट्र पुलिस पर निशाना साधा है। लोग उद्धव ठाकरे की सरकार पर बड़े सवाल उठा रहे हैं, ऐसे में ठाकरे के बचाव में सीएम के पुत्र और पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे सामने आए और उन्होंने उन्होंने महाराष्ट्र सीएम के बयान को री-ट्वीट करते हुए लिखा, 'सीएम ने पालघर अपराध में अपना बयान दे दिया है, मैं खासकर सभी राजनीतिक दलों को यह ध्यान दिलाना चाहता हूं कि साधुओं पर हमला करने वालों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है और उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। महाराष्ट्र सरकार इस तरह के अपराधों को माफ नहीं करेगी।'

यह पढ़ें: विक्की कौशल की बिल्डिंग में कोरोना पॉजीटिव मिली 11 साल की बच्ची, ओबेरॉय स्प्रिंग्स हुआ सील

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Roopa Ganguly, known for her role in Doordarshan’s Mahabharat, took to her Twitter to recall the time she was mob lynched. Close to 17-18 people dragged her out of her car near Diamond Harbour in 2016 and mercilessly lynched her.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X