23 साल पहले फ्रांसीसी महिला से छेड़छाड़ के मामले में महिला आयोग ने भेजा नोटिस

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। राष्ट्रीय महिला आयोग ने पंजाब सरकार और प्रदेश के डीसीपी को 23 साल पुराने मामले में समन भेजा है। 23 साल पहले एक फ्रांसीसी महिला के साथ हुई छेड़छाड़ और अपरहण मामले में राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह का पोता मुख्य आरोपी था। ये केस साल 1994 में दर्ज हुआ था और आज इसके 23 साल बाद इसे फिर से खोलने की याचिका आयोग के पास पहुंची है।

NCW

फ्रांस की रहने वाली कैटिया दरनंद ने 1994 में राज्य के तब मुख्यमंत्री रहे बेअंत सिंह के पोते गुरकीरत सिंह कोटली पर अपहरण और छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। लेकिन 10 अप्रैल, 1999 को सभी आरोपी बरी कर दिए गए थे क्योंकि कैटिया गवाही के लिए नहीं आईं थीं।

महिला आयोग की अध्यक्ष ललिता कुमारमंगलम ने कहा, 'हमने पंजाब सरकार को नोटिस जारी किया है और डीसीपी को स्पष्टीकरण के लिए बुलाया है। ये नोटिस एक याचिका के दवाब में भेजा गया है जिसमें केस को दोबारा खोलने की मांग की गई है।' ये याचिका बीजेपी बीजेपी दिल्ली के पार्षद गुरजीत कौर और शिरोमणि अकाली दल के नेताओं मनजींदर सिंह सिरसा और परमहिंदर सिंह ब्रार ने डाली है।

शिरोमणि अकाली दल की तरफ से जारी स्टेटमेंट में कहा गया है, 'शिकायतकर्ता गुरजीत कौर ने आयोग से केस को दोबारा खोलने की अपील करेत हुए फ्रेश ट्रायल की मांग की है। केस में पूर्व मुख्यमंत्री के पोते गुरकीरत पर आईपीसी की सही धाराएं नहीं लगी थीं जिसने 31 अगस्त, 1994 की रात को फ्रांसीसी महिला के का अपहरण कर छेड़छाड़ की थी।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
National Commission For Women Summons Punjab Government In 23 Years Old Case
Please Wait while comments are loading...