मेघालय के राज्यपाल वी. संगमुंगनाथन ने दिया इस्तीफा, राजभवन को 'लेडीज क्लब' बनाने का लगा था आरोप

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

शिलॉन्ग। मेघालय के राज्यपाल वी. संगमुंगनाथन ने आज यानी गुरुवार को अपने पद से इस्तीफा देने की खबर है। सूत्रों की मानें तो अपने खिलाफ लगातार हो रहे विरोध-प्रदर्शन को देखते हुए उन्होंने राज्यपाल पद छोड़ दिया है। दरअसल, काफी समय से राजभवन के कर्मचारी उन्हें हटाए जाने की मांग कर रहे थे। कर्मचारियों ने अपनी इस मांग को लेकर राष्ट्रपति भवन और प्रधानमंत्री कार्यालय में चिट्ठी भी भेजी थी। राजभवन के कर्मचारियों ने राज्यपाल पर आरोप लगाया था कि उन्होंने राजभवन को एक 'लेडीज क्लब' बना दिया है।

V Shanmuganathan मेघालय के राज्यपाल वी. संगमुंगनाथन ने दिया इस्तीफा, राजभवन को 'लेडीज क्लब' बनाने का लगा था आरोप
 ये भी पढ़ें- बीएमसी चुनाव में नहीं होगा गठबंधन, भाजपा ने गुंडों को किराए पर रखा है- उद्धव ठाकरे

राजभवन के कर्मचारियों ने राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को मेघायल के राज्यपाल के खिलाफ जो शिकायती पत्र लिखा था उसमें कहा गया था- 'हम उम्मीद करते हैं कि प्रधानमंत्री हमारी इस शिकायत पर कार्रवाई करेंगे और मेघालय के राज्यपाल वी. संगमुंगनाथन को हटाकर राजभवन की गरिमा का ध्यान रखेंगे।' शिकायती पत्र में कहा गया था कि संगमुंगनाथन ने राजभवन की गरिमा से समझौता किया है। इस चिट्ठी की एक कॉपी को केन्द्रीय गृह मंत्रालय और मुख्यमंत्री मुकुल संगमा को भी भेजी गई थी।

ये भी पढ़ें- दूसरे चरण के चुनावी अभियान में अखिलेश यादव झोंकेंगे पूरी ताकत

राजभवन के कर्मचारियों ने शिकायत में कहा था कि राजभवन में राज्यपाल के प्रत्यक्ष आदेश की वजह से युवतियां आती जाती रहती हैं। संगमुंगनाथन पर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने राजभवन को युवतियों का क्लब बना दिया है। राज्यपाल पर आरोप है कि उन्होंने अपने काम करने के लिए सिर्फ महिलाओं की नियुक्त किया हुआ है। राज्यपाल ने रात की ड्यूटी के लिए दो जनसंपर्क अधिकारी, एक बावर्ची और एक नर्स को नियुक्त किया है, जो सभी महिलाएं हैं। राज्यपाल पर लगे इन गंभीर आरोपों के बाद अब सूत्रों का दावा है कि उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Meghalaya governor V Shanmuganathan has resigned
Please Wait while comments are loading...