• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भाजपा विधायक के विवादित बयान पर आगबबूला हुई शिवसेना, बोलीं- अब इस पार्टी का अंत निकट है

|
Google Oneindia News

मुंबई, 2 अगस्‍त। महाराष्‍ट्र में भाजपा विधायक प्रसाद लाड ने शिवसेना का भवन गिराने का बयान दिया था। जिसके बाद शिवसेना का पारा चढ़ गया। पहले महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को भाजपा पर परोक्ष हमला करते हुए कहा कि डराने-धमकाने की भाषा बर्दाश्त नहीं की जाएगी और इसे बोलने वालों को मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। वहीं शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में इस मुद्दे पर करारा जवाब दिया है।

    MAharashtra: BJP पर भड़की Shiv Sena,Udhhav Thackeray के बाद Sanjay Raut का पलटवार | वनइंडिया हिंदी
    shivsena

    अब इस पार्टी का अंत निकट है

    हालांकि लाड ने बाद में अपनी टिप्पणी वापस ले ली और खेद व्यक्त किया। लेकिन सामना में शिवसेना ने लिखा कि शिवसेना भवन में संस्‍थापक बालासाहेब ठाकरे के साथ छत्रपति शाहूजी महाराज की प्रतिमा है और भगवा झंडा भवन में फहराया जाता है। ये कुछ लोगों को परेशान करता है इसलिए वो लोग शिवसेना भवन को तोड़ने की बात करते हैं। सामना में लिखा एक समय में भाजपा कभी जमीनी स्‍तर पर जुड़े कार्यकर्ताओं की पार्टी थी इसमें कोई यहां बाहरी लोगों या गुंडों के लिए कोई जगह नहीं थी परंतु अब पार्टी की मूल विचारधारा वाले लोग नीच लोगों को आगे बढ़ा रहे हैं। इसलिए अब इस पार्टी का अंत निकट है।

    बीजेपी नेता के विवादित बयान पर बोले फडणवीस- 'हम तोड़-फोड़ की राजनीति में विश्वास नहीं करते'बीजेपी नेता के विवादित बयान पर बोले फडणवीस- 'हम तोड़-फोड़ की राजनीति में विश्वास नहीं करते'

    सामना में आगे शिवसेना ने लिखा भूमिपुत्रों की अस्मिता का प्रतीक माने जाने वाले शिवसेना भवन को अगर जिस किसी ने भी बुरी नजर से देखा वे सभी नेता व उसकी पार्टी वर्ली की गटर में बह गए। वो फिर दोबारा कभी किसी को नहीं मिल सके। इस लेख में आगे लिखा हमारी पार्टी के कई पार्टियों से राजनीतिक मतभेद हैं और उन्‍होंने समय-समय पर चुनौती दी। शिवसेना उन चुनौतियों की छाती पर चढ़कर सामना किया लेकिन कभी किसी ने पार्टी ने तोड़फोड़ की बात नहीं की।

    उद्धव ठाकरे बोले- हम इतना कड़ा थप्पड़ वापस देंगे...
    शिवसेना प्रमुख और महाराष्‍ट्र मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने एक पुनर्विकास परियोजना के उद्घाटन पर बोलते हुए अपनी तीन-पक्षीय महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार को "ट्रिपल सीट" सरकार के रूप में संदर्भित किया। हिंदी ब्लॉकबस्टर "दबंग" फिल्‍म के एक संवाद को याद करते हुए - "थप्पड़ से डर नहीं लगता - मुख्यमंत्री ने कहा, "किसी को भी हमें थप्पड़ मारने की भाषा नहीं बोलनी चाहिए क्योंकि हम इतना कड़ा थप्पड़ वापस देंगे कि दूसरा व्यक्ति अपने पैरों पर वापस नहीं आ पाएगा।"

    लाड ने अपने बयान पर दी ये सफाई
    बता दें लाड ने बयान दिया था कि यदि आवश्यक हुआ, तो मध्य मुंबई में पार्टी के मुख्यालय शिवसेना भवन को ध्वस्त कर दिया जाएगा। इसके बाद विधायक लाड ने कहा मेरे बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया है। सफाई देते हुए लाड ने कहा कि मैंने अपने संबोधन में कहा था कि जब हम दादर-माहिम आते हैं, तो यहां इतनी बड़ी पुलिस सुरक्षा तैनात की जाती है,जैसे हम शिवसेना भवन पर हमला करने जा रहे हैं।

    उद्धव ठाकरे और शरद पवार ने मराठों के लिए बोली ये बात
    चॉल पुनर्विकास परियोजना के लाभार्थियों से परियोजना के पूरा होने के बाद लालच का शिकार नहीं होने के लिए कहते हुए कहा, "मराठी संस्कृति को किसी भी कीमत पर पुनर्विकसित निर्माणों में संरक्षित किया जाना चाहिए क्योंकि चॉलों की एक ऐतिहासिक विरासत थी, जहां क्रांतिकारियों ने अपनी नींव रखी थी। संयुक्ता महाराष्ट्र आंदोलन के भी साक्षी रहे हैं। कार्यक्रम में मौजूद राकांपा प्रमुख शरद पवार ने कहा कि बीडीडी चॉल की विरासत की रक्षा की जानी चाहिए और मराठी भाषी लोगों को पुनर्विकसित घरों में ही रहना चाहिए, जो कि महाराष्ट्र हाउसिंग की देखरेख वाली परियोजना के हिस्से के रूप में दिया जाएगा।

    https://hindi.oneindia.com/photos/urvashi-rautela-bold-look-viral-on-social-media-oi65601.html

    English summary
    Maharashtra: Shiv Sena responded to the statement of BJP MLA, said - now the end of this party is near
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X