• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

2020 के अंत से पहले तैयार हो सकती है 'कोवीशील्ड' कोरोना वैक्सीन: एस्ट्राजेनेका CEO

|

नई दिल्ली। ऑक्सफोर्ड यूनीवर्सटी और एस्ट्रजेनेका द्वारा विकसित की जा रही बहुप्रतीक्षित कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड का ह्यूमन ट्रायल अचानक रोके जाने पर गुरूवार को एस्ट्राजेनेका पीएलसी के सीईओ पास्कल सोरियट ने कहा है कि विकसित की जा रही कोरोना वैक्सीन कोवीशील्ड 2020 के अंत से पहले तैयार हो सकती है, जिसका ह्यूमन ट्रायल हाल ही में संभावित गंभीर न्यूरोलॉजिकल समस्या के कारण रोकना पड़ गया था।

    AztraZence के CEO का दावा, 2020 के अंत से पहले तैयार हो सकती है Covid Vaccine | वनइंडिया हिंदी

    कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

    vaccine

    पश्चिम बंगाल में खचाखच रैली में लगा 'कोरोना इज गॉन' का नारा, बीजेपी नेता बोले, 'भाग गया कोरोना'

     ब्रिटेन में मरीज पर रिएक्शन के चलते वैक्‍सीन का ट्रायल रोकना पड़ गया

    ब्रिटेन में मरीज पर रिएक्शन के चलते वैक्‍सीन का ट्रायल रोकना पड़ गया

    गौरतलब है एस्ट्राजेनेका कंपनी और उसके पार्टनर ने अस्थायी रूप से लोगों को प्रयोगात्मक शॉट देना बंद कर दिया था, क्योंकि ब्रिटेन में एक व्यक्ति पर ट्रायल के दौरान रिएक्शन आने के कारण ऑक्‍सफर्ड की वैक्‍सीन का ट्रायल रोकना पड़ गया था। सोरियट ने एक ऑनलाइन सम्मेलन में निवेशकों को आश्वस्त करते हुए कहा कि वर्ष के अंत तक उन्हें वैक्सीन के तैयार होने की पूरी उम्मीद है।

    वैक्सीन के अध्ययन में इस तरह के व्यवधानों का आना आम बात हैं

    वैक्सीन के अध्ययन में इस तरह के व्यवधानों का आना आम बात हैं

    दरअसल, ब्रिटेन में ट्रायल के दौरान एक व्यक्ति में साइड इफैक्ट होने के बाद तुरंत परीक्षण रोकने के बाद सुरक्षा डेटा की समीक्षा शुरू हो गई थी। माना जाता है कि वैक्सीन के अध्ययन में इस तरह के व्यवधानों का आना आम बात हैं, लेकिन दवा निर्माता और उसके मालिक इन सवालों का सामना करना पड़ रहा है कि आखिर साइड इफैक्ट का कारण क्या है और क्या वह शॉट से संबंधित हो सकता है।

    अध्ययन को दोबारा शुरू का निर्णय स्वतंत्र विशेषज्ञों के समूह के हाथों में है

    अध्ययन को दोबारा शुरू का निर्णय स्वतंत्र विशेषज्ञों के समूह के हाथों में है

    गुरूवार को सोरियट ने अपनी पहली सार्वजनिक टिप्पणी में कहा कि अध्ययन को फिर से शुरू करने का निर्णय स्वतंत्र विशेषज्ञों के एक समूह के हाथों में है, जो यह समझने के लिए काम कर रहे हैं कि क्या मरीज की बीमारी महज एक संयोग थी या टीका लगाने से वह बीमार पड़ा। उन्होंने आगे कहा कि वास्तविकता यह है कि हम सभी को धैर्य रखना होगा और यह देखना होगा कि यह क्या सामने आता है।

    रूकावट के चलते एस्ट्राजेनेक के शेयर लंदन में 0.6% फिसल गए

    रूकावट के चलते एस्ट्राजेनेक के शेयर लंदन में 0.6% फिसल गए

    सोरियोट ने कहा कि यह अभी भी स्पष्ट नहीं है कि बीमार हुए वॉलिंटियर्स को संदिग्ध ट्रासेवर्स माइलिटिस है। उन्होंने आगे कहा कि वह परीक्षण में आई रूकावट की लंबाई का मूल्यांकन नहीं कर सकते हैं, परीक्षण पूरी होते ही चिकित्सक सुरक्षा समिति डेटा को साझा करेंगे। कहा जा रहा है कि वैक्सीन परीक्षण में आई रूकावट के चलते एस्ट्राजेनेक के शेयर लंदन में 0.6% फिसल गए।

    कोवीशील्ड के विकास को धीमा कर सकती है ट्रायल में आई बाधा

    कोवीशील्ड के विकास को धीमा कर सकती है ट्रायल में आई बाधा

    महामारी के लिए गठबंधन के प्रमुख रिचर्ड हैचेट ने कहा कि लंबे समय तक ट्रायल में रूकाट वैक्सीन कार्यक्रम में देरी के लिए जिम्मेदार होगी। चाहे वह देरी सिर्फ एक सप्ताह की हो या चाहे वह कई सप्ताह की हो, या कई महीनों की हो, जिसके बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

    ट्रायल में रूकावट कठोर अंतिम चरण के महत्व पर प्रकाश डालता है

    ट्रायल में रूकावट कठोर अंतिम चरण के महत्व पर प्रकाश डालता है

    हैचेट के अनुसार वैक्सीन ट्रायल में रूकावट कठोर अंतिम चरण के परीक्षणों के महत्व पर प्रकाश डालता है। यह संभावित अंतिम प्रभावों या दुर्लभ घटनाओं का कारण हो सकता है। उन्होंने यह भी कहा कि कोविद -19 टीकों के विकास के तहत एक विविध पोर्टफोलियो की जरूरत है। यह एक ऐसी रणनीति है जो सीईपीआई अपने सहयोगियों के साथ उपयोग कर रही है। यह इस तथ्य की ओर इशारा करता है कि टीका विकास मुश्किल और अप्रत्याशित है।

    रीढ़ की हड्डी की समस्या के कारण कोवीशील्ड का ट्रायल रोक दिया गया

    रीढ़ की हड्डी की समस्या के कारण कोवीशील्ड का ट्रायल रोक दिया गया

    अमेरिका के राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान के निदेशक फ्रांसिस कोलिन्स ने बुधवार को एक सीनेट समिति को बताया कि रीढ़ की हड्डी की समस्या के कारण परीक्षण रोक दिया गया था। एस्ट्राज़ेनेका कई दवा कंपनियों में से एक है, जो कोरोनावायरस वैक्सीन के विकास में तेजी लाने के लिए अमेरिकी सरकार के ऑपरेशन कार्यक्रम में भाग ले रही हैं।

    कोरोना वैक्सीन की रेस में ये चार देश आगे, जानिए इनसे जुड़ी अहम बातें

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    When the human trial of the much-awaited Corona Vaccine Covishield, being developed by Oxford University and AstraZeneca, was halted abruptly, AstraZeneca plc CEO Pascal Soriott said Thursday that the Corona Vaccine Coveshield being developed could be ready before the end of 2020 The human trial was recently halted due to a potentially serious neurological problem.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X