• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

'ब्राह्मण कैंपस छोड़ो', 'शाखा में वापस जाओ', JNU में लगे नारे, जानिए क्या है पूरा मामला?

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी परिसर के अंदर कई दीवारों पर ब्राह्मण कैंपस छोड़ो', 'शाखा में वापस जाओ' जैसे विरोध नारे लिखे थे। यूनिवर्सिटी प्रशासन ने निंदा करते हुए घटना की जांच के आदेश दिए हैं।
Google Oneindia News

Jawaharlal Nehru campus News: जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के कैंपस की कई दीवारों पर गुरुवार को ब्राह्मण विरोधी नारे लिखे हुए थे। इन नारों में 'ब्राह्मण कैंपस छोड़ो', 'शाखा में वापस जाओ' जैसे नारों को लिखकर परिसर के ब्राह्मणों को धमकी दी गई। जेएनयू विश्वविद्यालय के अधिकारियों ने एक बयान जारी कर इस घटना की निंदा की है और कहा है कि परिसर को विकृत करने के लिए 'अज्ञात तत्वों' ने इस घटना अंजाम दिया है। घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

Recommended Video

    JNU में ब्राह्मण विरोधी नारे लगने पर भड़के केंद्रीय मंत्री Giriraj Singh | वनइंडिया हिंदी |*Politics
    Jawaharlal Nehru campus News

    ब्राह्मण विरोधी नारे स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज-द्वितीय भवन की दीवारों पर लिखे थे। नलिन कुमार महापात्र, राज यादव, प्रवेश कुमार और वंदना मिश्रा सहित कई ब्राह्मण प्रोफेसरों के कक्षों की दीवार पर 'गो बैक टू शाखा' लिखा हुआ था। सोशल मीडिया पर जैसे ही नारों की तस्वीरें वायरल हुईं, 'ब्राह्मण जीवन मायने रखता है' ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा है।

    अधिकारियों ने एक बयान जारी कर आश्वासन दिया कि विश्वविद्यालय सभी धर्मों के लोगों का है। बयान में कहा गया है, "कुलपति, प्रोफेसर संतश्री डी पंडित ने एसआईएस, जेएनयू में कुछ अज्ञात तत्वों द्वारा दीवारों और फैकल्टी कमरों को विकृत करने की घटना को गंभीरता से लिया है। प्रशासन इन बहिष्कारवादी प्रवृत्तियों की निंदा करता है।" इस घटना को लेकर जेएनयू शिक्षक मंच ने ट्वीट करते हुए लिखा, ''वामपंथी-उदारवादी गिरोह हर विरोध करने वाली आवाज को डराता है।''

    एबीवीपी ने घटना की निंदा की और वामपंथियों पर तोड़फोड़ का आरोप लगाया। एबीवीपी जेएनयू के अध्यक्ष रोहित कुमार ने कहा, "एबीवीपी कम्युनिस्ट गुंडों द्वारा अकादमिक स्थानों के बड़े पैमाने पर तोड़फोड़ की निंदा करता है। कम्युनिस्टों ने स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज- II बिल्डिंग में जेएनयू की दीवारों पर अपशब्द लिखे हैं। उन्होंने उन्हें डराने के लिए ये सब किया है।''

    ये भी पढ़ें- 'हमारे 100 विधायक आपके साथ, सीएम बन जाओ', अखिलेश यादव का डिप्टी CM केशव मौर्य, बृजेश पाठक को 'खुला ऑफर'ये भी पढ़ें- 'हमारे 100 विधायक आपके साथ, सीएम बन जाओ', अखिलेश यादव का डिप्टी CM केशव मौर्य, बृजेश पाठक को 'खुला ऑफर'

    Comments
    English summary
    Jawaharlal Nehru jnu campus slogans Brahmins leave the campus Go back to shakha inquiry incident
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X