• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

समय आ गया है, अब राहुल गांधी पार्टी की कमान संभालें- कर्नाटक के कांग्रेस नेता ने उठाई मांग

|

नई दिल्ली: ज्योतिरादित्य सिं​धिया के कांग्रेस से इस्तीफे के बाद राहुंल गांधी को फिर से कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने की मांग शुरू हो गई है। कनार्टक कांग्रेस के अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव का कहना है कि अब समय आ गया है कि राहुल गांधी पार्टी की कमान संभाल लें। बता दें, कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को होली के मौके पर अमित शाहा और पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को इस्तीफा सौंप दिया है। इसके कुछ देर बाद कांग्रेस ने सिंधिया को पार्टी से बर्खास्त कर दिया।

अब नई शुरुआत करने जा रहा हूं: ज्योतिरादित्य

अब नई शुरुआत करने जा रहा हूं: ज्योतिरादित्य

ज्‍योतिरादित्‍य ने करीब 18 साल तक कांग्रेस पार्टी में शामिल रहने के बाद अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया है। उन्‍होंने कहा, मैं कांग्रेस में रहते हुए लोगों की सेवा नहीं कर पा रहा था। सिंधिया ने कहा कि मैं कार्यकर्ताओं की आकांक्षाओं को पूरा नहीं कर पा रहा था, इसलिए अब नई शुरुआत करने जा रहा हूं।

भाजपा ज्वॉइन कर सकते हैं ज्योतिरादित्य

भाजपा ज्वॉइन कर सकते हैं ज्योतिरादित्य

माना जा रहा है कि सिंधिया मंगलवार शाम को ही अपने अगले कदम को लेकर कोई बड़ी घोषणा कर सकते हैं। पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह ने कहा, ''मुझे आश्चर्य नहीं है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है और बीजेपी में शामिल हो जाएंगे। मुझे लगता है कि उन्हें राज्यसभा भेजा जाएगा और केंद्रीय कैबिनेट में शामिल किया जाएगा। उनके पिता माधवराव सिंधिया अगर रहते तो वे प्रधानमंत्री होते।''

क्या है मध्य प्रदेश विधानसभा का गणित

क्या है मध्य प्रदेश विधानसभा का गणित

बता दें 230 विधानसभा क्षेत्रों वाली मध्य प्रदेश की विधानसभा में फिलहाल कांग्रेस के पास 114 विधायक हैं। वहीं, भाजपा के पास 107 विधायक हैं। इसके साथ ही 4 निर्दलीय, सपा के एक और बसपा के भी दो विधायक हैं। वहीं विधानसभा की दो सीटें विधायकों के निधन के चलते खाली हैं। सिंधिया के इस्तीफा देने के बाद कांग्रेस के 19 विधायक इस्तीफा दे चुके हैं। अब 228 विधायकों वाली विधानसभा में कांग्रेस के पास अपने 114 विधायकों समेत 7 अन्य का समर्थन हासिल है, ऐसे में उनके पास 121 विधायक हैं। वहीं, अगर इन इस्तीफा देने वाले 20 विधायकों की संख्या को विधासनभा की कुल सीटों में से घटा दें तो यह घटकर 208 रह जाएगी। ऐसे में बहुमत के लिए 105 सीटों की जरूरत होगी।

भाजपा में ज्योतिरादित्य सिंधिया को क्या-क्या मिलेगा, नटवर सिंह ने लगाए कयास

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Its time for Rahul Gandhi to lead party says Karnataka Congress chief Dinesh Gundu Rao
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X