संसद न चलने से आडवाणी फिर नाराज, रिजाइन करने की इच्छा जताई

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। संसद में सरकार और विपक्ष के बीच जारी गतिरोध से नाराज बीजेपी के वरिष्ठ नेता और लोकसभा सांसद लालकृष्ण आडवाणी गुरुवार को एक बार फिर गुस्से में दिखे। उन्होंने कहा कि संसद के जो हालात बने हैं उससे उन्हें लगता है कि इस्तीफा दे दें।

LK advani

आडवाणी ने कहा, 'अगर शुक्रवार को लोकसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गई तो संसद हार जाएगी। हम सब की बहुत बदनामी होगी। मेरा तो मन कर रहा है कि इस्तीफा दे दूं।'

धर्म परिवर्तन की वजह से बेटे की हत्या, विरोध में मातम के बीच मां ने कबूला इस्लाम

आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी

16 नवंबर से शुरु हुए संसद सत्र में अब तक लगातार सरकार और विपक्ष के बीच तकरार जारी है। विपक्ष सदन में नोटबंदी की चर्चा करना चाहता है तो सरकार अगस्टा वेस्टलैंड घोटाले पर चर्चा करना चाहती है। सरकार ने विपक्ष पर चर्चा से भागने का आरोप लगाया है तो वहीं विपक्ष ने भी सरकार पर जनता को मुसीबत में डालने और जवाबदेही से बचने का आरोप लगाया है।

हाईवे पर शराब की दुकानों से जुड़े सुप्रीम कोर्ट के आदेश की 8 मुख्य बातें

'नोटबंदी पर जरूर हो चर्चा'

गुरुवार को हंगामे के बाद लोकसभा की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी गई। इससे नाराज आडवाणी ने दूसरे दलों के सदस्यों से बातचीत में कहा कि उनका मन भर रहा है और अगर हालात ऐसे ही रहे तो वह इस्तीफा देने की सोच रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि नोटबंदी पर चर्चा जरूर होनी चाहिए।

फर्जी डिग्री और नोटबंदी के मुद्दे पर अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी से की ये मांगें

'जो बाधा डाल रहे हैं उनके नाम उजागर हों'

बीजेपी के वरिष्ठ नेता ने कहा कि संसद में सब खुद के जीतने की कोशिश में लगे हैं। अगर संसद हार गई तो सबकी बदनामी होगी। उन्होंने यह भी कहा कि लोकसभा स्पीकर सदन में उन सदस्यों का नाम लें जो लगातार कार्यवाही में बाधा डाल रहे हैं।

 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Feel like to quit from lok sabha sue to this situation says bjp leader lal krishna advani.
Please Wait while comments are loading...