• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिग्विजय सिंह का दावा- देविंदर को बचाने की हो रही है कोशिश, इसीलिए NIA को सौंपी जांच

|

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि केंद्र में भाजपा के नेतृत्व वाली मोदी सरकार डीएसपी दविंदर सिंह को बचाने की कोशिश कर रही है। जम्मू कश्मीर पुलिस का डीएसपी देविंदर सिंह पिछले सप्ताह तीन आतंकियों के साथ गिरफ्तार हुआ था। दिग्विजय सिंह ने कहा कि देविंदर सिंह के आतंकवादी लिंक हैं, लेकिन उन्हें बचाने के लिए सरकार ने वाईसी मोदी की अगुवाई वाली एनआईए को जांच सौंपी है, जिन्होंने गुजरात में अमित शाह को जमानत दी थी।

मोदी-शाह को क्लीन चिट दे चुके हैं NIA प्रमुख

मोदी-शाह को क्लीन चिट दे चुके हैं NIA प्रमुख

शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि, 'डीएसपी रहे देविंदर सिंह के केस की जांच एनआईए करेगी, जिसके प्रमुख वाईसी मोदी हैं। वह गुजरात के निवासी हैं। वाईसी मोदी ने 2002 के गुजरात के दंगों के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तथा सोहराबुद्दीन केस में गृहमंत्री अमित शाह को क्लीन चिट दे चुके हैं। उन्हें यह केस सौंपा ही इसलिए गया है कि देविंदर सिंह को बचाया जा सके।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि 2002 के संसद हमले में देविंदर सिंह की रहस्यमय भूमिका है

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि 2002 के संसद हमले में देविंदर सिंह की रहस्यमय भूमिका है

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि 2002 के संसद हमले में देविंदर सिंह की रहस्यमय भूमिका है। अफजल गुरु ने भी इस संबंध में संकेत दिए थे। सिंह पर पुलवामा हमले में भी भूमिका होने का संदेह है। इसलिए, देविंदर सिंह के आतंकवादी लिंक की निष्पक्ष रूप से जांचना चाहिए। ना कि वाईसी मोदी द्वारा करायी जाए। उन्होंने कहा कि राष्ट्रव्यापी अशांति तब तक जारी रहने की संभावना है जब तक कि केंद्र नागरिकता संशोधन अधिनियम को रद्द नहीं करता है और देश भर में एनआरसी को लागू नहीं करने का वादा करता है।

राहुल गांधी ने भी मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने की मांग की

राहुल गांधी ने भी मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने की मांग की

इससे पहले राहुल गांधी ने भी मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने की मांग करते हुए गांधी ने सवाल किया कि प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार भी देविंदर सिंह के मामले पर चुप क्यों हैं। राहुल ने केस को एनआईए को दिए जाने पर आपत्ति जताई है। इसके साथ ही प्रमुख वाईसी मोदी पर हमला किया है। राहुल गांधी ने कहा है कि एजेंसी एक 'दूसरे मोदी' के नेतृत्व में है जिसने गुजरात दंगों और हरेन पांड्या की हत्या की जांच की थी। उन्होंने कहा, 'आतंकवादी डीएसपी देविंदर को चुप कराने का सर्वोत्तम तरीका है केस को एनआईए के हाथों सौंप देना।

मोहन भागवत की फोटो वाला 'नया संविधान' हुआ वायरल , संघ बोला- बदनाम करने की साजिशमोहन भागवत की फोटो वाला 'नया संविधान' हुआ वायरल , संघ बोला- बदनाम करने की साजिश

English summary
Digvijaya Singh claims modi govt Trying to 'Bail out' DSP Davinder Singh Caught with Militants
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X