• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्‍ली दंगे की चार्जशीट में आया येचुरी, योगेंद्र यादव सहित कई जानीमानी हस्‍तियों का नाम, बनाया गया साजिश रचने का आरोपी

|

नई दिल्‍ली। दिल्ली में इस साल फरवरी में हुए दंगों के मामले में दिल्ली पुलिस ने सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी, स्वराज अभियान के नेता योगेंद्र यादव, अर्थशास्त्री जयंती घोष, दिल्ली विश्वविद्यालय के प्राध्यापक एवं एक्टिविस्ट अपूर्वानंद और डॉक्युमेंट्री फिल्ममेकर राहुल रॉय के नाम सह-षडयंत्रकर्ताओं के रूप में दर्ज किए हैं। दिल्ली दंगों से इन लोगों के नाम जुड़ने के बाद एक बार फिर 'अर्बन नक्सल' की थिअरी को हवा मिल गई है। हालांकि दिल्ली पुलिस इस खबर का खंडन कर रही है।

    Delhi Riot: चार्जशीट में नाम पर बोले Sitaram Yechury, यही है मोदी का असली चेहरा | वनइंडिया हिंदी

    दिल्‍ली दंगे की चार्जशीट में आया येचुरी, योगेंद्र यादव सहित कई जानीमानी हस्‍तियों का नाम, बनाया गया साजिश रचने का आरोपी

    जानकारी के मुताबिक, दिल्ली हिंसा को लेकर दाखिल चार्जशीट में आप के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन अब तक मुख्य आरोपी है वहीं शरजील इमाम से भड़काऊ भाषण मामले में पूछताछ की गई है। जेएनयू छात्र को कई बार रिमांड पर लिया जा चुका है। इसके अलावा पिंजड़ा तोड़ ग्रुप की सदस्य छात्राओं से भी पूछताछ की गई है। दिल्ली पुलिस इस मामले में अनुपूरक चार्जशीट दाखिल कर रही थी, तब शनिवार को राहुल रॉय, योगेंद्र यादव जैसे बड़े नाम भी सामने आए।

    गौरतलब है कि पूर्वी दिल्ली में दो समुदायों के बीच जबरदस्त हिंसा भड़क उठी थी। नागरिकता कानून समर्थकों और प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसा के बाद 24 फरवरी को पूर्वोत्तर दिल्ली में सांप्रदायिक झड़पें हुई थीं, जिसमें कम से कम 53 लोगों की मौत हो गई थी और लगभग 200 लोग घायल हो गए थे। नागरिकता कानून के समर्थकों और विरोधियों के बीच संघर्ष के बाद 24 फरवरी को उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर, घोंडा, चांदबाग, शिव विहार, भजनपुरा, यमुना विहार इलाकों में सांप्रदायिक दंगे भड़क गए थे।

    इस हिंसा में कम से कम 53 लोगों की मौत हो गई थी और 200 से अधिक लोग घायल हो गए थे। साथ ही सरकारी और निजी संपत्ति को भी काफी नुकसान पहुंचा था। उग्र भीड़ ने मकानों, दुकानों, वाहनों, एक पेट्रोल पम्प को फूंक दिया था और स्थानीय लोगों तथा पुलिस कर्मियों पर पथराव किया। इस दौरान राजस्थान के सीकर के रहने वाले दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतन लाल की 24 फरवरी को गोकलपुरी में हुई हिंसा के दौरान गोली लगने से मौत हो गई थी और डीसीपी और एसीपी सहित कई पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल गए थे। साथ ही आईबी अफसर अंकित शर्मा की हत्या करने के बाद उनकी लाश नाले में फेंक दी गई थी।

    आरोपी बनाए जाने के बाद क्‍या कहा येचुरी और योगेंद्र यादव ने

    सीताराम येचुरी ने आरोपी बनाए जाने पर केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने शनिवार शाम को 6 ट्वीट किए। उन्होंने कहा, जहरीले भाषणों का वीडियो है, उन पर कार्रवाई क्यों नहीं हो रही है। दिल्ली पुलिस भाजपा की केंद्र सरकार और गृह मंत्रालय के नीचे काम करती है। उसकी ये अवैध और गैर-कानूनी कार्रवाई भाजपा के शीर्ष नेतृत्व के चरित्र को दर्शाती है। वे विपक्ष के सवालों और शांतिपूर्ण प्रदर्शन से डरते हैं और सत्ता का दुरुपयोग कर हमें रोकना चाहते हैं।

    वहीं योगेंद्र यादव ने ट्विटर लिखा, 'यह तथ्यात्मक रूप से गलत है। पूरक चार्जशीट में मुझे सह-साजिशकर्ता या अभियुक्त नहीं बनाया गया है। पुलिस के अपुष्ट बयान में एक अभियुक्त के बयान के आधार पर मेरे और येचुरी के बारे में जिक्र किया गया है, जो अदालत में स्वीकार्य नहीं होगा।

    VIDEO: उद्धव के कार्टून को लेकर शिवसेना के 'गुंडों' ने नेवी के पूर्व अफसर को बेहरमी से पीटा

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Delhi riots: Police name Yechury, Yogendra Yadav, Jayati Ghosh, in supplementary charge sheet.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X