• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कर्नाटक में पहले कोरोना संक्रमित मरीज की मौत, जानिए, आपके शहर में कितने हैं मरीज?

|

बेंगलुरू। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने पूरी दुनिया में कहर की बरप रही कोरोना वायरस को वैश्विक महामारी घोषित कर दिया है। पूरी दुनिया में अब तक कुल 4640 लोगों की असामयिक मौत की वजह बन चुकी कोरोना वायरस का कहर अभी जारी है और यह 7-8 फीसदी की तेज गति से लोगों का शिकार कर रही है। अब तक सुरक्षित रहे भारत में भी पहले कोरोना वायरस संक्रमित मौत की पुष्टि हो गई है।

covid19

वर्तमान आंकड़ों के मुताबिक पूरी दुनिया में अभी भी 1,26,666 मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और मंगलवार के मुकाबले बुधवार को हुए मौत में 331 लोगों का इजाफा हुआ है, जो यह बताती है कि कोरोना वायरस कितना घातक है। पूरी दुनिया में पाए गए कोविड19 संक्रमित मरीजों में एक तरफ जहां 72, 963 केस बंद हुए हैं, लेकिन एक्टिव 53, 680 केस में से 5708 मरीजों की हालत बेहद नाजुक है।

प्लेग, हैजा, फ्लू और अब COVID19, जानिए महामारियों के अद्भुत पैटर्न जो हर 100 साल में लौटे!

covid19

गौरतलब है भारत में अभी तक कुल 73 मरीज कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इनमें केरल प्रदेश में सर्वाधिक 18 मरीज पॉजिटिव पाए गए हैं जबकि राजस्थान में 17 संक्रमित मरीज पाए गए हैं। हालांकि राजस्थान में पाए गए 17 मरीजों में से 16 संक्रमित मरीज इटली से बताए जाते हैं, जो राजस्थान में एक ग्रुप के साथ पर्यटन के लिए पहुंचे थे।

covid19

बताया जाता है इटालियन नागरिकों के संपर्क में आने से राजस्थान का एक भारतीय कोरोना वायरस से संक्रमित हो गया, जो कि इटली से आए पर्यटकों के ग्रुप बस का ड्राइवर था। इस तरह राजस्थान में एक भारतीय मरीज कोरोना संक्रमित पाया है। वहीं, उत्तर प्रदेश तीसरा प्रदेश हैं, जहां सर्वाधिक 8 कोरोना मरीज मिले हैं, जिनका आइसोलेशन सेंटर में इलाज किया जा रहा है।

Pandemic: एक माह 18 दिन में 525 गुना तेजी से अब तक 4300 जिंदगी निगल चुकी है यह वायरस!

covid19

दक्षिण भारतीय राज्य केरल में गत 30 सितंबर को भारत का पहला कोरोना वायरस संक्रमित मरीज पाया गया था। चीन से लौटे कोरोना संक्रमित मरीज एक छात्र है, जो चीन में पढ़ाई कर रहा था और चीनी लूनर न्यू ईयर त्योहार के समय केरल लौटा था। इसके चार दिन बाद केरल में ही दो और कोरोना वायरस संक्रमित मरीज पाए गए।

covid19

केरल में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने लगे तो राज्य सरकार ने गत 3 फरवरी को ही राज्य में स्वास्थ्य आपदा घोषणा कर दी। इसके बाद केरल में संक्रमित तीनों मरीजों को तत्काल आइसोलेशन सेंटर में रखा गया और उनके संपर्क में आए संभावित 3400 लोगों पर भी नज़र रखा गया। हालांकि एक दिन बाद ही तीनों को डिस्चार्ज कर दिया गया।

Corona-virus: ऐसी सलाह और सलाहकारों से बचें, पढ़ें भ्रामक इलाजों व बयानों की पूरी श्रृंखला!

covid19

उल्लेखनीय है गत 3 फरवरी से 1 मार्च के अंतराल में एक ओर जहां पूरी दुनिया में कोरोना वायरस को लेकर त्राहिमाम मचा हुआ था, तो दूसरी ओर भारत में कोरोना वायरस संक्रमित एक भी मरीज नहीं पाया गया, यह भारतीय दृष्टिकोण से एक सुखद स्थिति थी, लेकिन गत 1 मार्च के बाद वक्त ने करवट लिया।

covid19

गत 2 मार्च और 11 मार्च के बीच में भारत में 62 लोग परीक्षण के दौरान Covid19 वायरस से संक्रमित पाए गए। लेकिन गुरूवार, 12 मार्च को 11 और कोरोना संक्रमित मरीजों के पॉजिटिव रिपोर्ट ने भारत की पैशानी पर बल डाल दिया है।

Corona-virus: इन बातों का घर व ऑफिस में रखेंगे ख्याल तो सुरक्षित रहेंगे आप!

भारत में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या 73 हुई

भारत में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या 73 हुई

फिलहाल, भारत में कोरोना वायरस संक्रमित 73 मरीजों की संख्या हो गई है, जो कल तक 62 बताई जा रही है। हालांकि कल तक यह संख्या 62 थी। स्वास्थ्य मंत्रालय पर उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक गुरूवार को उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमित दो मरीज की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं जबकि एक मरीज दिल्ली, लद्दाख और महाराष्ट्र में संक्रमित मिला है। उत्तर प्रदेश में पाया गया एक मरीज विदेशी बताया जा रहा है।

2 मार्च से 11 मार्च के बीच भारत में मिले कोरोना वायरस के अधिक मरीज

2 मार्च से 11 मार्च के बीच भारत में मिले कोरोना वायरस के अधिक मरीज

2 मार्च से 11 मार्च के अंतराल में जांच में कोरोना वायरस संक्रमण से ग्रसित पाए गए अधिकांश भारतीय केरल, तमिलनाडु, तेलंगाना, महाराष्ट्र, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, जम्मू और कश्मीर, पंजाब और लद्दाख से थे। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR)के मुताबिक गत 9 मार्च को कोविड19 वायरस की जांच के लिए कुल 5066 नमूने लिए गए थे, जिसमें से 57 लोग के परिणाम पॉजिटिव पाए गए।

12 मार्च को यूपी, दिल्ली, महाराष्ट्र, लद्दाख में मिले के कुल 11 मरीज!

12 मार्च को यूपी, दिल्ली, महाराष्ट्र, लद्दाख में मिले के कुल 11 मरीज!

उत्तर प्रदेश, दिल्ली, महाराष्ट्र, लद्दाख में मिले कोरोना संक्रमित के कुल 11 मरीज गुरूवार को मिले हैं, जिससे यह आंकड़ा बढ़कर 73 पर पहुंच गया है। उत्तर प्रदेश में पाए गए संक्रमित दो मरीजों में एक मरीज नोएडा में मिला है, जो कि मुजफ्फनगर जिले का बताया जाता है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक किसी विदेशी नागरिक के संपर्क में आने से मुजफ्फनगर जिले का युवक कोरोना वायरस की चपेट में आया है।

महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में हैं COVID19 मरीजों की संख्या 11-11

महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में हैं COVID19 मरीजों की संख्या 11-11

महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में मिले नए केस के बाद दोनों राज्य 11 मरीजों के साथ कोरोना वायरस संक्रमित मरीजो के मामले में दूसरे बड़े राज्य बन गए हैं। चूंकि राजस्थान में जांच में पॉजिटिव पाए गए 16 मरीज विदेशी हैं, इसलिए उन्हें भारतीयों की संक्रमित टैली से अलग रखा गया है। वर्तमान में केरल में सर्वाधिक 17 केस पॉजिटिव मिले हैं और राजधानी दिल्ली तीसरे नंबर हैं, जहां कुल 6 मरीज पॉजिटिव पाए गए हैं।

एक मरीज मिलते ही हरियाणा ने राज्य में हेल्थ इमरजेंसी घोषित किया

एक मरीज मिलते ही हरियाणा ने राज्य में हेल्थ इमरजेंसी घोषित किया

राजधानी दिल्ली से सटे हरियाणा में अभी कोरोना वायरस संक्रमित रिपोर्ट नहीं हुए हैं बावजूद हरियाणा ने राज्य में हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दी है, क्योंकि राजस्थान में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए 16 इटालियन नागरिकों को गुड़ग्राम स्थित मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती किया गया है। राज्य सरकार ने राज्य में स्वास्थ्य आपातकाल की घोषणा विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोविड 19 को पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी ऑफ इंटरनेशल कंसर्न घोषित करने के बाद किया। हालांकि हरियाणा में भी एक मरीज के कोविड 19 से संक्रमित होने की रिपोर्ट दर्ज हुई है।

भारत में कोरोना संक्रमित मरीज की पहली रिपोर्ट 1 मार्च को दर्ज की गई

भारत में कोरोना संक्रमित मरीज की पहली रिपोर्ट 1 मार्च को दर्ज की गई

भारत में कोरोना संक्रमित मरीज की पहली रिपोर्ट 1 मार्च को दर्ज की गई और 4 मार्च को सर्वाधिक 22 कोरोना वायरस संक्रमित मरीज एक साथ रिपोर्ट किए गए। वहीं, 9 मार्च तक 19 नए मामले रिपोर्ट किए गए। 10 मार्च और 11 मार्च के बीच 20 और मामले कोविड19 पॉजिटिव के सामने आए और गुरूवार यानी 12 मार्च को 11 ताजा मामले रिपोर्ट किए गए हैं। माना जा रहा है कि यह आंकड़ा और भी बढ़ सकते हैं, क्योंकि कई मामले ऐसे भी हो सकते हैं, जिनकी जांच नहीं हुई हो।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In the interval of 3 February to 1 March, while the whole world was in a quandary about the Corona virus, on the other hand there was not a single corona virus infected patient in India, it was a pleasant situation from the Indian point of view, but 1 March After the time changed and between 2 March and 11 March, 62 patients in India were declared Covid19 virus positive after the test.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X