• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Delhi Air Pollution: दिल्‍ली में बनाया गया वॉर रुम, जानें ये कैसे पता लगाएगा कि कहां से फैलाया जा रहा प्रदूषण

|

नई दिल्ली। जाड़ा आते ही दिल्‍ली में प्रदूषण (Delhi Air Pollution) का स्‍तर बहुत तेजी से बढ़ने लगता है, इसका प्रमुख कारण लोग प्रदूषण को रोकने के लिए जो नियम बनाए गए हैं उनका कड़ाई से पालन नहीं कर रहे हैं, लेकिन इस बार जिसने भी कूड़ा, पराली या अन्‍य कोई ऐसी चीज जलाता है तो वो सरकार से बच नहीं पाएगा। दिल्‍ली सरकार ने एक ऐसा ग्रीन वॉर रुम तैयार किया है जहां बैठ कर ऐसे लोगों पर निगरानी रखी जाएगी। आइए जानते हैं ये कैसे करेगा काम ?

Gopal Rai
    Daring Cities 2020 : CM Arvind Kejriwal ने प्रदूषण के खिलाफ उठाए कदमों को साझा किया | वनइंडिया हिंदी

    दिल्ली सरकार ने सचिवालय में एक वॉर रूम (War Room) बनाया है जिसमें बैठे लोग दिल्ली में प्रदूषण फैलाने वालों की निगरानी करेगा। दिल्ली के किस इलाके में वायु प्रदूषण कितने पीएम स्तर पर है, कहां कूड़ा और पराली (Parali) जल रही है, इस वॉर रुम में बैठी 19 लोगों की टीम निगाह रखेगी। दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने वॉर रूम का गुरुवार को उद्घाटन किया। गोपाल राय ने गुरुवार को इसके बारे में जानकारी देते हुए बताया कि सचिवालय में एक केंद्रीकृत युद्ध कक्ष शुरू किया गया है जो प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए दिल्ली की सभी एजेंसियों के साथ समन्वय करेगा। वॉर रूम में तीन बड़ी स्क्रीन लगाई गई हैं। ये तीन स्क्रीन हैं जो 40 वास्तविक समय के मॉनिटरों का विश्लेषण करेंगे। इतना ही नहीं पॉल्यूशन एप (Pollution App) पर आने वाली शिकायतों की निगरानी भी यहीं से की जाएगी।

    रूम में ऐसे पता लगाया जाएगा कैसे कहां जल रहा कूड़ा-पराली

    पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बताया कि दस वॉर रुम में लगी स्क्रीन पर रियल टाइम डेटा यानि अलग-अलग इलाक़ों में पीएम-10, पीएम-2.5 का क्या स्थिति है ये सब दिखाई देगा दूसरी स्क्रीन पर दिल्ली के 13 हॉटस्पॉट की करंट स्थिति दिखायी जायेगी। मालूम हो कि हॉटस्पॉट वो जगहें हैं जहां प्रदूषण का स्तर सबसे ज्यादा नासा-इसरो की तस्वीर बताएंगी दिल्ली में कहां कूड़ा जल रहा है। वॉर रूम में एक स्क्रीन पर नासा व इसरो सैटेलाइट की मदद से दिल्ली और आसपास के राज्यों में परली या कूड़ा जलाने की स्थिति पर निगाह रखी जाएगी। कहीं भी ऐसी जलती चीजें पाएं जाने पर रोकथाम के बनी टीमों को अलर्ट कर दिया जाएगा। टीम मौके पर जाकर उसकी रोकथाम करेगी। मंत्री ने बताया कि वॉर रूम में 10 लोगों की टीम हर समय इस सब की मॉनीटरिंग करेगी। वहीं वॉर रूम उन शिकायतों पर भी सुनवाई करेगा जो जो ग्रीन दिल्ली एप के माध्‍यम से मिलेगी। इस वॉर रूम से ये सभी शिकायतें संबंधित एजेंसी के पास अटोमैटिक चली जाएगी और वॉर रूम एजेंसी से संपर्क कर उसका निवारण करेगा।

    हाथ काटने की नौबत आई तो ऑटो ड्राइवर की सोनू सूद ने की मदद, एक्‍टर ने बदले में की ये डिमांड

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    A centralised war room has been started at Secretariat that will coordinate with all agencies of Delhi to control pollution.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X