• search

वुसत का ब्लॉगः भारत में मोदी तो पाकिस्तान में कौन है सेल्फ़ी का दीवाना

Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
    मोदी
    Getty Images
    मोदी

    मुझे भी बहुत खुशी हुई जब पश्चिमी बंगाल के जलपाईगुड़ी के एंबुलेंस दादा पद्मश्री करीमुल हक़ को प्रधानमंत्री मोदी जी ने सेल्फ़ी लेना सिखाया.

    उम्मीद है कि किसी दिन मोदी जी भी करीमुल हक़ के गांव जाके उनसे मोटर साइकिल एंबुलेंस चलाना सीख लेंगे ताकि वो भी एंबुलेंस दादा करीमुल हक़ की तरह किसी भी भेदभाव को ख़ातिर में न लाते हुए वक्त पड़ने पे हर बीमार और ज़ख्मी की जान बचाने के लिए उसे अस्पताल पहुंचा सकें.

    सोचिए ऐसी सेल्फ़ी खुद मोदीजी के लिए कितनी कीमती होगी और देखने वालों के लिए तो इससे भी ज़्यादा. वैसे भी हमारे देशों में राजनेता कैमरे से सेल्फ़ी लेने का अलावा और कर भी क्या रहे हैं.

    बल्कि मैं तो फ़ैज अहमद फ़ैज की आत्मा से दोनों हाथ जोड़कर माफ़ी मांगते हुए कहूंगा 'मेरी सेल्फ़ी के सिवा दुनिया में रखा क्या है'

    मोदी ने 'एंबुलेंस दादा' को सिखाया सेल्फ़ी लेना

    इमरान ख़ान का आना

    आपके यहां अपने आप में डूबे मोदी जी सेल्फ़ी वाले मशहूर हैं तो हमारे यहां इमरान ख़ान के बारे में उनके कुछ 'अ'शुभचिंतक कहते हैं कि खान साहब का बस एक ही सलाहकार है और वो है उनका आईना, जिसके आगे वो वर्जिश करने के बाद कुछ देर खड़े रहते हैं और आईने में खड़े शख्स की सुनते भी हैं.

    इसी तरह पंजाब के वज़ीर-ए-आला मियां शहबाज़ शरीफ़ काम तो बहुत करते हैं मगर उनके कामों से जलने वाले यह भी कहते हैं कि मियां साहब तो खुद इंसानी शक्ल में एक सेल्फ़ी हैं.

    अगर किसी पुलिस मुकाबले में दो गुनाहगार या बेगुनाह अपराधी मर भी जाएं तो उसकी बधाई भी अफ़सर लोग सबसे पहले मियां शहबाज़ शरीफ़ को देते हैं, 'वाह-वाह सर क्या पुलिस मुकाबला हुआ है आपके दौर में'.

    बेवा को सिलाई मशीन भी दें तो उनका बस नहीं चलता कि इस मशीन पर अपनी तस्वीर जड़ दें, बल्कि हो सके तो यह सिलाई मशीन भी अपने हाथों खुद को देके बेवा को सेल्फ़ी दे दें.

    इमरान ख़ान
    Getty Images
    इमरान ख़ान

    मोबाइल बन गया लोकतंत्र

    ये जो बड़े-बड़े मंसूबे हैं कि जिनका जनता की मुसीबतें कम करने से दूर का भी लेना-देना नहीं, ये भी सरकारों की सेल्फ़ियां ही तो हैं.

    जैसे आपके यहां बुलेट ट्रेन और सरदार पटेल का स्टैच्यू बनाने की योजना या हमारे यहां 'बेनज़ीर इनकम सपोर्ट प्रोग्राम' के तहत करोड़ों में से चंद लाख औरतों को दो हज़ार रुपल्ली महीना देना.

    साढ़े तीन करोड़ से अधिक अनपढ़ रह जाने वाले बच्चों की मौजूदगी में 20-25 दानिश स्कूल बना देने की योजना या अस्पतालों के कॉरीडोर में पड़े मरीजों की देखरेख बेहतर बनाने पे खर्च करने की बजाय दो तीन ट्रॉमा सेंटर और तीन चार बर्न वार्ड बना देने की योजना.

    अस्पताल
    Getty Images
    अस्पताल

    अब तो मुझे लोकतंत्र भी वो मोबाइल लगने लगा कि जिससे नेता लोग अपने पीछे हुजूम खड़ा करके सेल्फ़ी बनाते हैं और फ़िर बताते हैं कि हमें कितना समर्थन है और इस समर्थन के आधार पे अगले पांच वर्ष में और कितनी सेल्फ़ियां लेने का अधिकार मिल गया है.

    जहां सेल्फ़लेस होने की ज़रूरत है वहां सेल्फ़ी से काम निकाला जा रहा है.

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    BBC Hindi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Blog of Vogue Modi in India who is in Pakistan who is crazy about selfie

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X