• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बिप्लब की ऑक्सीजन थ्योरी का भाजपा ने किया समर्थन, बोली वैज्ञानिक आधार

|

नई दिल्ली। त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने मंगलवार को बतख को लेकर एक बयान दिया। उन्होंने कहा कि बतखों के तैरने की वजह से पानी में ऑक्सीजन का स्तर बढ़ता है। सीएम के इस बयान पर कई संगठनों और विपक्षी पार्टियों ने सवाल उठाए थे। हालांकि भारतीय जनता पार्टी ने बिप्लब कुमार देब के बयान का समर्थन किया है। इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए पार्टी के प्रवक्ता डॉ. अशोक सिन्हा ने कहा कि त्रिपुरा के सीएम ने जो भी कहा वो 100 फीसदी सही है और इस बात के वैज्ञानिक आधार भी हैं।

<strong>इसे भी पढ़ें:- लोकसभा चुनाव 2019: अपने दम पर 300 सीट जीतने का ये है अमित शाह फॉर्मूला </strong>इसे भी पढ़ें:- लोकसभा चुनाव 2019: अपने दम पर 300 सीट जीतने का ये है अमित शाह फॉर्मूला

त्रिपुरा के सीएम ने जो भी कहा वो 100 फीसदी सही है: BJP

त्रिपुरा के सीएम ने जो भी कहा वो 100 फीसदी सही है: BJP

बीजेपी के प्रवक्ता डॉ. अशोक सिन्हा ने कहा कि भारत में मत्स्य पालन को लेकर बतखों का इस्तेमाल सदियों से होता रहा है और यह पारंपरिक भारतीय ज्ञान है। इस बात की पुष्टि बाद में पश्चिमी देशों के वैज्ञानिकों ने भी की थी। सिन्हा ने आगे कहा कि त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने जो भी कहा है वो 100 फीसदी सही है, इसीलिए पार्टी ने उनके बयान का समर्थन किया है।

बीजेपी प्रवक्ता बोले- कई अहम रिसर्च में हुई इस बात की पुष्टि

बीजेपी प्रवक्ता बोले- कई अहम रिसर्च में हुई इस बात की पुष्टि

बीजेपी प्रवक्ता अशोक सिन्हा ने बताया कि खाद्य और कृषि संगठन (एफएओ) ने अपने शोध में कहा है कि तैरते समय बतख पानी में हवा का संचरण करते हैं, यही कारण है कि उन्हें जैविक एयरेटर्स भी कहा जाता है। इसके अलावा और भी कई अहम रिसर्च उपलब्ध हैं जिसमें इसी बात का दावा किया गया है। बता दें कि सिन्हा खुद डॉक्टर हैं और मेडिकल प्रैक्टिस से जुड़े हैं।

कुछ शोधकर्ताओं ने भी बिप्लब के बयान का किया समर्थन

कुछ शोधकर्ताओं ने भी बिप्लब के बयान का किया समर्थन

बिप्लब देब के बयान का समर्थन केवल बीजेपी ने ही नहीं किया है, कुछ शोधकर्ताओं ने भी इस बात की पुष्टि की है। भारतीय कृषि अनुसंधान और शिक्षा परिषद के वैज्ञानिक ए. देबर्मा ने कहा कि अध्ययन में ये बात सामने आई है कि बतख और मत्स्य पालन एकीकृत खेती है। उन्होंने कहा कि बतखों से ही मछली की बढ़ोतरी में मदद मिलती है। बतख प्राकृतिक एयरेटर्स हैं और ऑक्सीजन स्तर बढ़ाने में मदद करते हैं और इन्हीं से डीईओ के स्तर को भी बढ़ाया जा सकता है।

<strong>इसे भी पढ़ें:- अब गांव वालों को बतखें बांटना चाहते हैं त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देब </strong>इसे भी पढ़ें:- अब गांव वालों को बतखें बांटना चाहते हैं त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देब

English summary
BJP backs Biplab Kumar Deb theory on ducks, says there is scientific evidence.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X