• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मोदी सरकार के कैबिनेट में जल्द बड़ा फेरबदल, इन नामों को मिल सकती है जगह, यूपी में ये नेता रेस में सबसे आगे

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 02 जुलाई। अगले साल पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हैं, ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने कैबिनेट में बड़ा बदलाव करने जा रहे हैं। 2019 में लगातार दूसरी बार लोकसभा चुनाव जीतने के बाद प्रधानमंत्री मोदी पहली बार अपनी कैबिनेट में फेरबदल करने जा रहे हैं। माना जा रहा है कि इस बार कैबिनेट फेरबदल में दो नए लोगों को जगह मिल सकती है। कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया और सर्बदानंद सोनोवाल को कैबिनेट में जगह मिल सकती है। सिंधिया ने कांग्रेस छोड़ भाजपा का हाथ थामा और उनकी मदद से भाजपा ने प्रदेश में सरकार बनाई, जबकि सोनोवाल ने हिमंत बिस्व शर्मा को असम का मुख्यमंत्री बनाए जाने के लिए खुद को सीएम की दावेदारी से पीछे किया, यही वजह है कि माना जा रहा है कि दोनों को कैबिनेट फेरबदल में जगह मिल सकती है।

    Modi Cabinet Expansion: UP Election 2022 में जीतने की क्या यही है रणनीति | वनइंडिया हिंदी

    इसे भी पढ़ें- TMC सांसद ने राज्‍यपाल जगदीप धनखड़ पर कोलकाता फर्जी टीकाकरण की साजिश रचने का लगाया आरोपइसे भी पढ़ें- TMC सांसद ने राज्‍यपाल जगदीप धनखड़ पर कोलकाता फर्जी टीकाकरण की साजिश रचने का लगाया आरोप

    modi

    बिहार से इन लोगों को मिल सकती है जगह
    राम विलास पासवान के निधन के बाद लोक जन शक्ति पार्टी में बड़ी टूट हुई और चिराग पासवान के चाचा पशुपति नाथ पारस ने पार्टी के भीतर दो फाड़ कर दिए और चिराग पासवान से अलग सांसदों ने पशुपति नाथ को लोकसभा में पार्टी का नेता बना दिया। जिसके बाद माना जा रहा है कि पशुपति नाथ को भी कैबिनेट में जगह मिल सकती है। हालांकि अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि जनता दल युनाइटे का कोई सांसद सरकार में शामिल होगा या नहीं। 2019 के विधानसभा चुनाव में नाराज नीतीश कुमार ने भाजपा के एक मंत्री पद के प्रस्ताव को ठुकरा दिया था और सरकार से बाहर बैठने का फैसला लिया था। ऐसे में नीतीश कुमार को उम्मीद है कि इस बार कैबिनेट फेरबदल में उनकी पार्टी को दो मंत्री पद मिल सकते हैं। जदयू के लल्लन सिंह रामनाथ ठाकुर और संतोष कुशवाहा इस रेस में सबसे आगे चल रहे हैं।

    समीक्षा बैठक में कई नामों पर चर्चा
    बिहार के नेता सुशील मोदी, महाराष्ट्र के नेता नारायण राणे और भूपेंद्र यादव के भी मोदी सरकार में शामिल होने की संभावना जताई जा रही है। रिपोर्ट के अनुसार अलग-अलग मंत्रालयों के कार्य की समीक्षा के बाद किन नामों को कैबिनेट में जगह दी जाएगी इसका फैसला ले लिया गया है। यह समीक्षा बैठक तकरीबन एक महीने तक चली है, जिसे खुद पीएम मोदी ने किया है।

    यूपी को विशेष अहमियत
    सूत्रों के अनुसार उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव है, लिहाजा यूपी से मोदी सरकार में अच्छा प्रतिनिधित्व मिल सकता है। वरुण गांधी, रामशंकर कठेरिया, अनिल जैन, रीता बहुगुणा जोशी, जफर इस्लाम को कैबिनेट में जगह मिलने की संभावना है। माना जा रहा है कि अपना दल की नेता अनुप्रिया पटेल को भी मंत्रिमंडल में शामिल होने का न्योता मिल सकता है। वहीं उत्तराखंड से अजय भट्ट या अनिल बलूनी को मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है। प्रताप सिम्हा का नाम कर्नाटक से मंत्रिमंडल में आ सकता है।

    इन नामों को भी मिल सकती है सरकार में जगह
    हाल ही में भाजपा को पश्चिम बंगाल चुनाव में हार का सामना करना पड़ा है लेकिन बावजूद इसके पार्टी का प्रदेश में प्रदर्शन अच्छा रहा है। लिहाजा जगन्नाथ सरकार, शांतनु ठाकुर, निहित प्रमाणिक को कैबिनेट में जगह मिलने की संभावा जताई जा रही है। इसके अलावा हरियाणा से ब्रजेंद्र सिंह, राजस्थान से राहुल कासवान, ओडिशा से अश्विनी वैष्णव, महाराष्ट्र से पूनम महाजन और प्रीतम मुंडे, दिल्ली से प्रवेश वर्मा और मीनाक्षी लेखी काभी नाम आगे चल रहा है,जिन्हें सरकार में जगह मिलने की संभावना है।

    9 मंत्रियों के पास अतिरिक्त प्रभार, 28 मंत्रियों को मिल सकती है जगह
    बता दें कि पिछले कुछ दिनों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कई समीक्षा बैठक की। माना जा रहा है कि अगले लोकसभा चुनाव को भी ध्यान में रखते हुए कैबिनेट में बड़ा फेरबदल किया जाएगा। मंत्रालयों को कार्य की समीक्षा विस्तार से की गई है और इन कोरोना की दूसरी लहर के दौरान इन मंत्रालयों ने किस तरह से काम किया है इसकी भी समीक्षा की गई है। गौर करने वाली बात है कि 9 मंत्रालयों का अतिरिक्त प्रभार प्रकाश जावडेकर, पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान, नितिन गडकरी, हर्षवर्धन, नरेंद्र सिंह तोमर, रवि शंकर प्रसाद, स्मृति ईरानी, हरदीप सिंह पुरी के पास है। अहम बात यह है कि कैबिनेट में अधिकतम 81 सदस्य हो सकते हैं जबकि इस समय 53 सदस्य ही हैं, लिहाजा 28 मंत्रालयों को नए मंत्री मिल सकते हैं।

    English summary
    Big cabinet shuffle in Modi government expected soon here are the name can be included
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X