• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मुख्यमंत्री बनते ही सबसे पहले कमलनाथ ने किसानों की कर्जमाफी से जुड़ी फाइल पर किया हस्ताक्षर

|
    Madhya Pradesh CM Kamal Nath ने किया कर्जमाफ, Rahul Gandhi का वादा किया पूरा | वनइंडिया हिंदी

    भोपाल। कमलनाथ ने सोमवार को मध्य प्रदेश की कमान संभालते ही किसान कर्जमाफी से जुड़ी फाइल पर हस्ताक्षर किए हैं। इसके अलावा कमलनाथ ने 4 बड़े गवर्मेंट क्लस्टर स्थापित करने के साथ-साथ कन्यादान योजना की राशि को बढ़ाने का भी फैसला किया है। बता दें कि कमलनाथ ने किसान कर्जमाफी की फाइलों पर हस्ताक्षर शपथ लेने के कुछ घंटे के भीतर ही किया है। कांग्रेस विधायक दल के नेता चुने गए कमलनाथ ने मध्यप्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने उन्हें शपथ दिलाई।

    Bhopal: Madhya Pradesh Chief Minister Kamal Nath signs on the files for farm loan waiver

    बता दें कि मध्य प्रदेश चुनाव प्रचार में कांग्रेस ने किसान कर्जमाफी का वादा किया था। अब उसी वादे को पूरा करने के लिए कमलनाथ से सबसे पहले किसान कर्जमाफी की फाइल हस्ताक्षर किया है। शपथ ग्रहण से ठीक पहले कमलनाथ ने कहा भी कि वे मतदाताओं की अपेक्षा पर खरा उतरने कोशिश करेंगे।

    Bhopal: Madhya Pradesh Chief Minister Kamal Nath signs on the files for farm loan waiver

    कमलनाथ ने कहा कि शपथ समारोह के बाद किसानों के कर्जमाफी और बेरोजगारों को महंगाई भत्ता देने का ऐलान किया जाएगा। इसको लेकर एक ड्राफ्ट तैयार हो चुका है। वहीं राहुल गांधी ने मध्य प्रेदश में किसान कर्जमाफी पर कहा कि एक जगह पूरा हो गया जबकि दो जगह और बचा हुआ है।

    10 दिनों के भीतर किसान कर्ज माफी का वादा

    मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस पार्टी ने अपने मेनिफेस्टो में भी यही बात कही है। पार्टी ने मध्य प्रदेश की जनता से वादा किया है कि सरकार बनने के 10 दिन के भीतर किसान कर्जमाफी की जाएगी। पार्टी के उसी वादे को आगे बढ़ाते हुए कमलनाथ ने मुख्यमंत्री बनने के बाद सबसे पहले किसान कर्जमाफी की फाइलों पर हस्ताक्षर किए। बता दें कि कमलनाथ से पहले तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद करुणानिधि ने किसान कर्जमाफी की फाइल पर हस्ताक्षर किए थे लेकिन इसके बाद अगला चुनाव वो हार गए थे।

    मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने के बाद कमलनाथ ने 1984 सिख दंगे पर कहा कि मैंने 1991 में शपथ ली और उसके बाद कई बार लेकिन किसी ने कुछ भी नहीं कहा। मेरे खिलाफ, कोई मामला, एफआईआर या चार्जशीट भी नहीं है। आव जे इस मामले को उठा रहे हैं। आप इसके पीछे की राजनीति को समझ सकते हैं।

    मध्‍य प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर कमलनाथ ने ली शपथ, राहुल के साथ मंच पर दिखे 10 दलों के नेता

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Bhopal: Madhya Pradesh Chief Minister Kamal Nath signs on the files for farm loan waiver
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X