देश की अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए जेटली एंड कंपनी ने बनाई बड़ी योजना

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने देश की अर्थव्यवस्था की रफ्तार पर बड़ा बयान दिया है, उन्होंने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था पिछले तीन सालों में काफी तेजी से बढ़ी है। वित्त मंत्री ने यह बयान तमाम मंत्रालय के अधिकारियों के साथ बैठक के बाद दिया है। मोदी सरकार द्वारा लिए गए कठोर फैसलों का बचाव करते हुए जेटली ने कहा कि जब इस तरह के नीतिगत फैसले लिए जाते हैं तो स्वाभाविक रूप से शुरुआत में कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ता है, लेकिन लंबे समय को देखें तो इसके लाभ होते हैं। जीएसटी को जेटली ने अबतक का सबसे बड़ा आर्थिक सुधार बताते हुए कहा कि इसकी वजह से भ्रष्टाचार पर रोक लगाई है।

महंगाई रिकॉर्ड निचले स्तर पर

महंगाई रिकॉर्ड निचले स्तर पर

जेटली ने कहा कि मजबूत मौलिक अर्थव्यवस्था देश की रीढ़ होती है, जो कि समय के साथ देश की अर्थव्यवस्था को और मजबूत करती है, हमने अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए रास्ता तैयार किया है। आर्थिक मामलों के सचिव एससी गर्ग ने कहा कि जिस तरह से भारत की माइक्रो इकॉनोमिक मजबूत हुई है उसकी वजह से महंगाई रिकॉर्ड निचले स्तर पर है। सरकार के आर्थिक फैसलों का बचाव करते हुए गर्ग ने कहा कि जीडीपी उपर बढ़ेगी, महंगाई साल दर साल कम हुई है।

सरकार ने मजबूत फैसले लिए

सरकार ने मजबूत फैसले लिए

गर्ग ने कहा कि पूरी दुनिया ने भारत के आर्थिक सुधार का तारीफ की है कि कैसे हमारी सरकार ने मजबूत फैसले लिए हैं और उसे लागू भी किया है। जीएसटी अभी तक का सबसे बड़ा सुधार है, इसके साथ नोटबंदी व कालाधन से लड़ाई बड़े कदम हैं। निर्यातकों और छोटे उद्मियों के मुद्दों को सुलझाया गया है, जल्द ही जीएसटी देश के विकास में भागीदार बनेगी। उन्होंने कहा कि सरकार इस बात को लेकर आश्वस्त थी कि वह 2017-18 के अपने लक्ष्य को निर्धारित करेगी। केंद्रीय बजट 2017 के अपने भाषण में जेटली ने कहा था कि तमाम सरकारी क्षेत्र की कंपनियों से 71000 करोड़ रुपए के भागीदारी को बेचा है जिसके चलते बीमारू कंपनियां मुश्किल के दौर से गुजर रही थी।

लोगों का सरकार में भरोसा बढ़ा

लोगों का सरकार में भरोसा बढ़ा

वित्त सचिव अशोक ल्वासा ने कहा कि सरकार ने लगातार ऐसे फैसले लिए हैं जिससे कि आम जनता को इसका लाभ हो, लोगों की खर्च करने की ताकत बढ़ी है, लोगों का कुल खर्च 17 सितंबर तक 11.47 करोड़ रुपए तक पहुंच गया है। सरकार ने लोगों के निवेश पर लगातार काम किया है, मुख्य रूप से सड़क, आवास, रेलवे, उर्जा, डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर पर सरकार ने काम किया है जिसकी वजह से सरकार के प्रति लोगों का भरोसा बढ़ा है।

इसे भी पढ़ें- सस्ते कर्ज की उम्मीदों को झटका, रिजर्व बैंक ने नहीं किया ब्याज दरों में बदलाव

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Arun Jaitely praises growth of Indian Economy calls GST biggest reform. He says GST has been the biggest reform in the history of India.
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.