• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

एम्स और सफदरजंग के डॉक्टरों ने ममता को दिया 48 घंटे का अल्टीमेटम, कहा- मांग नहीं मानी गई तो...

|
    Doctors Strike: AIIMS, Safdarjung के डॉक्टरों का Mamata Benerjee को अल्टीमेटम | वनइंडिया हिंदी

    नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल के कोलकाता में नील रत्न सरकार (NRS) मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टरों से मारपीट का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। मारपीट की इस घटना के बाद राज्य के सारे डॉक्टर हड़ताल पर चले गए हैं। पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों की इस हड़ताल का देशव्यापी असर होने लगा है। बंगाल से लेकर दिल्ली तक डॉक्टर इस मारपीट के विरोध में सड़कों पर उतर आए हैं। दिल्ली के 14 बड़े समेत 18 अस्पतालों ने शनिवार को हड़ताल का ऐलान किया है। वहीं, सफदरजंग और एम्स के डॉक्टरों ने पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को 48 घंटे का अल्टीमेटम दिया है।

    एम्स और सफदरजंग अस्पताल के रेजिडेंट डॉक्टरों ने दिया अल्टीमेटम

    एम्स और सफदरजंग अस्पताल के रेजिडेंट डॉक्टरों ने दिया अल्टीमेटम

    एम्स और सफदरजंग अस्पताल के रेजिडेंट डॉक्टरों, जिन्होंने कोलकाता में अपने सहयोगियों पर हमलों के विरोध में शुक्रवार को कार्य बहिष्कार किया था, अब पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को राज्य के आंदोलनकारी डॉक्टरों की मांगों को पूरा करने के लिए 48 घंटे का अल्टीमेटम दिया है। उन्होंने कहा कि अगर डॉक्टरों की मांग नहीं मानी गईं तो वे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे।

    ये भी पढ़ें: पार्टी में फूट की खबरों पर सामने आया रामविलास पासवान का बड़ा बयान

    मांग नहीं मानी गई तो अनिश्चितकालीन हड़ताल करेंगे

    मांग नहीं मानी गई तो अनिश्चितकालीन हड़ताल करेंगे

    एम्स रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (आरडीए) के सदस्य शनिवार को काम पर लौटे, उन्होंने कहा कि अगर पश्चिम बंगाल के डॉक्टरों की मांग 48 घंटे के भीतर पूरी नहीं की जाती है, तो वे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने को मजबूर होंगे। उन्होंने कहा कि हम पश्चिम बंगाल सरकार के इस अड़ियल रवैये की निंदा करते हैं। एम्स दिल्ली में हमारा विरोध न्याय मिलने तक जारी रहेगा।

    मारपीट के विरोध में हड़ताल पर हैं डॉक्टर

    मारपीट के विरोध में हड़ताल पर हैं डॉक्टर

    शुक्रवार को रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन की जनरल बॉडी मीटिंग में हड़ताल कर रहे डॉक्टरों की मांग मानने को लेकर ममता सरकार को 48 घंटे का अल्टीमेटम दिया गया। इस मीटिंग में पूरे देश के डॉक्टरों से हड़ताल कर रहे डॉक्टरों के समर्थन में आगे आने की अपील की गई। सफदरजंग अस्पताल के रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रकाश ठाकुर ने भी यही बात दोहराई। डॉक्टर प्रतिकात्मक विरोध के तौर पर हेलमेट और बैंडेज बांधकर काम करना जारी रखेंगे। वहीं, डॉक्टरों के समर्थन में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने भी 17 जून को हड़ताल की घोषणा की है।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    aiims safdarjung give mamata banerjee 48 hour ultimatum to meet doctor's demands
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X