अब भारतीय सेना के जवान का वीडियो, कहा जूते पॉलिश करवाते हैं बड़े अफसर

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बीएसएफ के जवान तेज बहादुर यादव और सीआरपीएफ के जवान के वीडियो के बाद अब भारतीय सेना के एक जवान ने भी वीडियो जारी कर अपने उच्च अधिकारियों पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। सेना के जवान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मदद की गुहार लगाई है। देहरादन में तैनात लांस नायक यज्ञ प्रताप सिंह ने वीडियो में कहा है कि सेना में कई जगह जवानों से कपड़े धुलवाना, जूते पॉलिश करवाना और कुत्ते घुमवाना जैसे काम कराए जाते हैं। उन्होंने चिट्ठी लिखकर प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति से इस मामले की शिकायत की थी, जिसके बाद सेना के अधिकारियों ने काफी प्रताड़ित किया।

indian army अब भारतीय सेना के जवान का वीडियो, कहा जूते पॉलिस करवाते हैं बड़े अफसर

जवान ने वीडियो के जरिए कहा कि उसके इस कदम के बाद अब उसे डर कि कहीं उसका कोर्ट मार्शल ना कर दिया जाए। लांस नायक यज्ञ प्रताप सिंह के इस वीडियो पर भारतीय सेना का भी जवाब आ गया है। सेना ने कहा है कि जवान की शिकायत पर संज्ञान लिया जा रहा है। इस तरह की शिकायतों के लिए भारतीय सेना में एक सिस्टम है, और उस सिस्टम के तहत ही इस शिकायत का निपटारा किया जाएगा। आपको बता दें कि गुरुवार को सीआरपीएफ के एक जवान ने भी वीडियो जारी किया था और अपनी शिकायतें बताई थी। ये भी पढ़ें- तेज बहादुर ने क्यों उठाई सिस्टम के खिलाफ आवाज? ये है वजह

बीएसएफ के जवान ने की थी खराब खाने की शिकायत

इससे पहले बीएसएफ के जवान तेज बहादुर यादव ने फेसबुक पर कुछ वीडियो शेयर किए थे। उन्होंने वीडियो के जरिए सेना में जवानों की स्थिति को दिखाने की कोशिश की। वीडियो में उन्होंने बताया कि चंद अफसरों की वजह से उन्हें किस हाल में नौकरी करनी पड़ती है। उन्हें जो खाना मिलता है उसकी क्वालिटी बेहद खराब होती है। सीमा पर तैनाती के दौरान उन्हें न तो ठीक से खाना मिलता है और न ही आराम। तेज बहादुर ने कहा कि भारत सरकार की ओर से उन्हें सभी वस्तुएं भेजी जाती हैं लेकिन अफसर इस सामान को बेच देते हैं। उन्होंने केंद्र सरकार से मामले की जांच कराने की अपील की थी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
After BSF and CRPF Video Viral of Indian Army Soldier, Complains About Harassment by Seniors.
Please Wait while comments are loading...