• search
गुजरात न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

मोटर-वाहनों में नहीं, हजारों कर्मचारी साइकिल से ही पहुंचे दफ्तर, हफ्ते में एक दिन इसी से आएंगे-जाएंगे VIDEO

|

राजकोट। यहां महानगरपालिका आयुक्त ने अपने कार्यों से जुड़ा इस बार ऐसा फैसला लिया कि, हर ओर चर्चा होने लगी। शुक्रवार के दिन आयुक्त समेत महानगरपालिका का पूरा स्टाफ साइकिल चला कर अपने-अपने ऑफिस पहुंचे। यह तादाद काफी ज्यादा थी, जहां-जहां से साइकिलें गुजरीं लोग देखते रह गए। आमजन यह देखकर ताज्जुब कर रहे थे कि मोटर-गाड़ियों में नजर आने वाले अधिकारी साइकिल पर क्यों हैं।

संवाददाता ने बताया कि, महानगर पालिक के आयुक्त उदित अग्रवाल ने दरअसल दो दिन पहले अपने स्टाफ से अपील की थी कि सभी साइकिल से ही दफ्तर आएंगे। यह निर्णय हर शुक्रवार के दिन लागू रहेगा। ऐसे में सभी साइकिल चलाकर ही ऑफिस पहुंचे। इस संबंध में बताते हुए मनपा आयुक्त उदित अग्रवाल ने खुद कहा कि, अभी कोरोना काल चल रहा है। ऐसे में लोगों को अपने स्वास्थ्य के प्रति ज्यादा जागृत होने की जरूरत है। हमने सा​इकिल चलाने का फैसला स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए भी लिया है। सा​इकिल से जरा भी प्रदूषण नहीं होता। खासकर ध्वनि प्रदूषण और वायु प्रदूषण। इसके लिए मैंने खुद ही शुरूआत की।

Rajkot Municipal corporations Thousands of employees going to office on cycle, this happen first time in covid era

मनपा आयुक्त उदित अग्रवाल आगे बोले कि, मेरी अपील के बाद पूरे कॉर्पोरेशन का स्टाफ साइकिल चलाकर आय और उनका उत्साह बढ़ाने के लिए मैं खुद भी साइकिल चलाकर आया। संवाददाता ने बताया कि, मनपा आयुक्त की साइकिल चलाने की अपील को पूरे स्टाफ ने भी सराहा है और जिसके पास साइकिल है, वो खुशी-खुशी साइकिल से ही दफ्तर पहुंचे। बाकी के कर्मचारी बस जैसे सार्वजनिक माध्यम से ऑफिस पहुंचे हैं। कॉर्पोरेशन की तरह ही अन्य सरकारी व प्राइवेट माध्यम भी हफ्ते में एक बार अगर साइकिल का उपयोग करेंगे तो शहर के प्रदूषण स्तर में कमी आएगी।

Rajkot Municipal corporations Thousands of employees going to office on cycle, this happen first time in covid era

सी-प्लेन के लिए अहमदाबाद रिवरफ्रंट पर तैयार हो रहा वॉटर एरोड्रम, नदी में 200 फीट तक मार्किंग

अब शहर के लोगों को साइकिल चलाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए माधापर चौकडी से लेकर बीआरटीएस तक 11 किलोमीटर का साईकिल ट्रेक शुरू करने की तैयारियां की गई हैं। यह ट्रैक शुरू होने के बाद सभी लोग इसका उपयोग कर सकेंगे। इसके अलावा रेसकोर्स रिंगरोड से लेकर किसानपरा और मोटामौवा तक नया साइकिल ट्रैक बनाने का निर्णय भी लिया गया है। साथ ही कॉर्पोरेशन द्वारा साइकिल शेरिंग प्रोजेक्ट के तहत लोगों को मामूली किराए पर साइकिल देने का निर्णय भी लिया गया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rajkot Municipal corporation's Thousands of employees going to office on cycle, this happen first time in covid era
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X