• search
गुजरात न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Gujarat Election 2022: किस पार्टी से कौन होगा CM पद का दावेदार, जानिए गुजरात विधानसभा चुनाव का पूरा गणित

Google Oneindia News

चुनाव आयोग की तरफ से आज गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। चुनाव में जीत दर्ज किया जा सके, इसलिए राजनीतिक पार्टियां मैदान में उतर गईं हैं और जमकर प्रचार कर रही हैं। राज्य में किसकी सरकार बनेगी यह तो परिणाम घोषित होने के बाद ही पता चलेगा। लेकिन उससे पहले आइए जानते हैं 182 विधानसभा सीटों वाले राज्य में किस पार्टी की तरफ से किसे मुख्यमंत्री का चेहरा बनाया जाएगा? साथ ही यहां पर किन मुद्दों पर चुनाव लड़ा जाएगा सहित अन्य चुनावी समीकरण के बारे में...

Recommended Video

    Gujarat Election 2022: गुजरात चुनाव में BJP, AAP, Congress से CM फेस कौन, किसमें दम | वनइंडिया हिंदी
    gujarat election

    सबसे पहले जानते हैं इस बार के चुनावी समीकरण के बारे में
    गुजरात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गृह राज्य है। पिछले 24 साल से यहां पर भाजपा ही सत्ता में काबिज है। जिसकी वजह से प्रदेश में भाजपा के खिलाफ सत्ता विरोधी लहर भी चल रही है। हालांकि, भाजपा को उम्मीद है कि वह सत्ता में फिर से वापसी करने में कामयाब होगी। वहीं, प्रदेश में कांग्रेस को पूरी तरह से खत्म नहीं माना जा सकता है। इसके अलावा यहां आम आदमी पार्टी भी लड़ाई में पूरी तरह बनी हुई है। दिल्ली और पंजाब में सरकार बनाने के बाद आप गुजरात में सियासी जमीन की तलाश कर रही है। इसको लेकर पार्टी की तरफ से जमकर प्रचार किया जा रहा है। ऐसे में यहां त्रिकोणीय मुकाबला होते दिख रहा है।

    इन तीन मुद्दों पर लड़ा जा रहा है चुनाव
    किसान- गुजरात विधानसभा चुनाव में किसानों के मुद्दों को विपक्ष की तरफ से जमकर उठाया जा रहा है। केंद्र सरकार की तरफ से कृषि कानून वापस लेने के बाद से ही विपक्ष केंद्र सरकार पर हमलावर है। विपक्ष कर्जमाफी के मुद्दों को लेकर केंद्र सरकार और राज्य पर लगातार हमले कर रही है। विपक्ष का कहना है कि सरकार की तरफ से किसानों का ध्यान नहीं दिया जा रहा है। सरकार किसानों का कर्ज माफ करने के बजाय उद्योगपतियों का कर्ज माफ कर रही है। कर्जमाफी नहीं होने की वजह से राज्य के किसान लगातार कर्ज में डूबे जा रहे हैं।

    रोजगार और शिक्षा- विपक्ष की तरफ से खासकर आम आमदी पार्टी की तरफ से राज्य में बेरोजगारी का मुद्दा लगातार उठाया जा रहा है। लगभग हर चुनावी रैलियों में आम आदमी पार्टी की तरफ से रोजगार नहीं देने का आरोप लगाया जाता है और कहा जाता है कि सत्ता में आने से पहले भाजपा सरकार की तरफ से तमाम वायदे किए गए थे, लेकिन आज तक उन्हें पूरा नहीं किया गया है। जिसकी वजह से युवाओं का हाल बेहाल है। इसके अलावा आप और कांग्रेस पार्टी की तरफ से सरकार पर शिक्षा व्यवस्था को लेकर भी लगातार हमला किया जा रहा है।

    बढ़ती महंगाई- जहां देश में बढ़ती महंगाई का मुद्दा हावी है। वहीं, गुजरात चुनाव में भी इस मुद्दे को विपक्षी पार्टियों की तरफ से लगातार उठाया जा रहा है। विपक्षी पार्टियों का आरोप है कि सरकार की गलत नीतियों की वजह से देश के अलावा राज्य में लगातार महंगाई बढ़ रही है। इसके चलते रोजमर्रा की चीजें महंगी होती जा रही हैं और लोगों को पहले की अपेक्षा ज्यादा खर्च करना पड़ रहा है। विपक्षी नेताओं की तरफ से पेट्रोल-डीजल की कीमतों, सब्जियों और खाद्य पदार्थों की महंगाई को लेकर सरकार पर लगातार निशाना साधा जा रहा है।

    भाजपा, कांग्रेस और आप की तरफ से इन्हें बनाया जा सकता है मुख्यमंत्री का चेहरा
    भाजपा: सत्ता में वापसी को लेकर भाजपा हर संभव कोशिश कर रही है। माना जा रहा है कि पार्टी की तरफ से भूपेंद्र भाई पटेल को मुख्यमंत्री का चेहरा बनाया जा सकता है। भाजपा की तरफ से भूपेंद्र भाई पटेल के चेहरे पर इसलिए विचार किया जा रहा है, ताकी राज्य में पटेल वोट बैंक को लुभाया जा सके। अगर ऐसा होता है तो भूपेंद्र भाई पटेल फिर से मुख्यमंत्री बनेंगे। 2017 में भी ऐसा ही हुआ था। उस वक्त भी चुनाव से 15 महीने पहले विजय रूपाणी को गुजरात का मुख्यमंत्री बनाया गया था। उन्हीं के नेतृत्व में चुनाव हुए और पार्टी ने जीतने के बाद उन्हें फिर से सीएम बनाया गया।

    कांग्रेस: कांग्रेस की तरफ से जगदीश भाई मोतीजी ठाकोर को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया जा सकता है। जगदीश भाई गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष भी हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि पार्टी उन पर ही भरोसा जताएगी और मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करेगी। दावा यह भी किया जा रहा है कि पार्टी की तरफ से इसकी घोषणा जल्द की जा सकती है। हालांकि जगदीश भाई के अलावा कांग्रेस सांसद शक्ति सिंह गोहिल, जिग्नेश मेवानी व कुछ अन्य नेता भी इस रेस में हैं।

    आम आदमी पार्टी- पार्टी की तरफ से गोपाल इटालिया को सीएम का चेहरा घोषित किया जा सकता है। अगर आम आदमी पार्टी को जीत मिलती है तो गोपाल इटालिया पार्टी की तरफ से मुख्यमंत्री बनाए जा सकते हैं। गोपाल इटालिया इन दिनों काफी विवादों में हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए अपशब्द का प्रयोग किया था। इसके बाद उन्हें हिरासत में लिया गया था। हालांकि, आप की तरफ से अभी सीएम पद के उम्मीदवार के लिए जनता से भी सुझाव भी मांगा जा रहा है। पार्टी की तरफ से पंजाब चुनाव में भी किया गया था।

    गुजरात चुनाव में प्रचार के ये हैं बड़े चेहरे
    गुजरात में कुल 182 विधानसभा सीट हैं। यही वजह है कि गुजरात चुनाव राष्ट्रीय स्तर पर भी बड़ा महत्व रखता है। चुनाव प्रचार के लिए भाजपा पीएम नरेंद्र मोदी के चेहरे का इस्तेमाल करेगी। इसके अलावा अमित शाह भी कई रैलियां यहां पर करेंगे। वहीं, आम आदमी पार्टी के मुख्य खेवनहार पार्टी प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ही हैं। जबकि कांग्रेस की तरफ से गुजरात चुनाव में प्रियंका गांधी और खड़गे स्टार प्रचारक के रूप में चुनाव प्रचार करेंगे।

    ये भी पढ़ें- गुजरात चुनाव की तारीखों का आज हो सकता है ऐलान, दोपहर 12 बजे चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस

    Comments
    English summary
    Gujarat Election 2022 CM candidates expected name main issues and other details
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X