• search
दुर्ग न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Durg News: मंदिर में रखा डेटोनेटर ब्लास्ट, पूजा करने पहुंचा बच्चा बुरी तरह घायल, माइंस से हुई डेटोनेटर की चोरी

Google Oneindia News

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में मंदिर परिसर में रखा डेटोनेटर ब्लास्ट हो गया। इस घटना में एक बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गया है। बच्चे का इलाज निजी अस्पताल में जारी है। बच्चा मंदिर में रोज की तरह दीया जलाने गया था। घटना की जानकारी मिलने के बाद नंदिनी पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि हादसे के बाद आसपास के ग्रामीणों में आक्रोश है।

बैटरी को हटा रहा था तरुण, तभी हुआ धमाका

बैटरी को हटा रहा था तरुण, तभी हुआ धमाका

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार यह घटना नंदनी क्षेत्र के हरदी गांव में हुआ है। बताया जा रहा है कि अज्ञात लोगों के द्वारा मंदिर परिसर में अवैध रूप से डेटोनेटर और बैटरी रखा हुआ था। उसने देखा कि मंदिर में कुछ बैटरी जैसा कनेक्ट कर रखा हुआ है। वह इसे हटाने का प्रयास करने लगा। लेकिन बैटरी से सॉर्ट होकर डेटोनेटर ब्लास्ट हो गया। डेटोनेटर के फटने की आवाज सुनकर गांव वाले मंदिर के पास पहुंचे तो तरुण घायल हालत में पड़ा हुआ था। वहीं उसका दोस्त नरेश पटेल भी बदहवास हालत में बैठा हुआ था। गांव वालों ने दोनों बच्चों को फौरन अस्पताल पहुंचाया। इस धमाके की खबर से गांव में हड़कम्प मच गया।

मंदिर में दीया जलाने पहुंचा था तरुण, डेटोनेटर से था अनजान

मंदिर में दीया जलाने पहुंचा था तरुण, डेटोनेटर से था अनजान

नंदिनी थाना क्षेत्र के हरदी गांव में अज्ञात लोगो के मंदिर परिसर में अवैध रूप से रखे डेटोनेटर और बैटरी में धमाका उस वक्त हुआ जब 12 वर्षीय तरुण पटेल हनुमान मंदिर में दिया जलाने गया था। दरअसल मिही लाल पटेल के बच्चे रोजाना हरदी नाला के पास स्थित हनुमान मंदिर में दीया जलाने जाते हैं। शनिवार की शाम को उसका नाती तरुण पटेल अपने दोस्त नरेश पटेल के साथ मंदिर में दीया जलाने के लिए गया था।इस हादसे के बाद ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। इस हादसे में बच्चा गंभीर रूप से घायल बच्चे को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसका इलाज जारी है।

माइंस में ब्लास्टिंग के लिए डेटोनेटर का करते हैं इस्तेमाल

माइंस में ब्लास्टिंग के लिए डेटोनेटर का करते हैं इस्तेमाल

दरअसल दुर्ग जिले का नंदिनी नगर के आसपास के गांवो में बड़ी संख्या में पत्थरों के खदान संचालित हैं। जहाँ ब्लास्टिंग के लिए बैटरी युक्त डेटोनेटर और बारूद का इस्तेमाल किया जाता है। पत्थरों की तुड़ाई और खनन के लिए प्रतिदिन ब्लास्टिंग की जाती है। जिसके लिए वह विस्फोटक पदार्थो को अपने खदानों में रखते हैं। जिसे कई बार आसपास के असामाजिक तत्वों द्वारा चुराकर रख लेते हैं। इसी तरह पहले भी ग्रामीणों से अवैध डेटोनेटर व बारूद बरामद किए गए थे।

पुलिस ने विस्फोटक अधिनियन के तहत दर्ज किया मामला

पुलिस ने विस्फोटक अधिनियन के तहत दर्ज किया मामला

नंदिनी नगर थाना प्रभारी राजेश मिश्रा ने बताया कि हरदी गांव के हनुमान मंदिर में अवैध रूप से 2 नग डेटोनेटर और बैटरी रखकर फरार हो गए थे। जिसे गांव के बच्चे के हटाने के दौरान डेटोनेटर ब्लास्ट हो गया। ब्लास्ट में बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज जारी है। अब अज्ञात आरोपियों के खिलाफ अवैध विस्फोटक पदार्थ अधिनियम 1908 के तहत अपराध दर्ज किया गया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है।

Durg News: शादी के बाद छुपकर मिलते थे दोनों, युवती ने अफरोज को पहुंचाया था जेल, अब होटल में मिला शवDurg News: शादी के बाद छुपकर मिलते थे दोनों, युवती ने अफरोज को पहुंचाया था जेल, अब होटल में मिला शव

Comments
English summary
Durg News- Detonator blast kept in the temple, the child reached to worship was badly injured, the detonator was stolen from the mines
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X